एक बार फिर से बढ़ने लगे हैं कोविड-19 के मामले, जानिए आपको क्या करना है और क्या नहीं

अगर आप कोरोनावायरस को लेकर बिल्कुल केयर फ्री हो गईं हैं, तो आपको कोविड-19 के ताज़ा आंकड़ों पर ध्यान देने की जरूरत है। देश भर में कोविड-19 के सक्रिय मामलों की संख्या फिर से बढ़ने लगी है।
कोविड -19 से खुद को बचाएं। चित्र ; शटरस्टॉक
ऐश्‍वर्या कुलश्रेष्‍ठ Published on: 9 August 2022, 18:50 pm IST
ऐप खोलें

त्योहारों के साथ बरसात का मौसम है और एक बार फिर से कोविड – 19 के मामलों में तेज़ी आने लगी है। बरसात के मौसम में कई संक्रमणों का खतरा बढ़ जाता है। स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय के अनुसार, भारत में पिछले 24 घंटों में कुल 12,751 नए कोविड ​​-19 मामले दर्ज किए, जिससे अभी तक कुल कोविड से ग्रसित लोगों की संख्या 4,41,74,650 हो गई। इतना ही नहीं, कोविड के कारण 42 लोगों की मौत हो गयी है, जिसके बाद मरने वालों की संख्या 5,26,772 हो गई है।

भारत का केस लोड वर्तमान में 1,31,807 है, जो कि कुल मामलों का 0.31 प्रतिशत है। साथ ही, अभी रिकवरी रेट 98.50 फीसदी है। पिछले 24 घंटों में संक्रमण से 16,412 ठीक हुए हैं, जिससे कुल ठीक होने वालों की संख्या बढ़कर 4,35,16,071 हो गई है।

बरसात का मौसम है इसलिए, कोई भी लापरवाही आपके और आपके अपनों स्वास्थ्य पर भारी पड़ सकती है। क्योंकि इस बार मंकीपॉक्स का भी खतरा लोगों पर मंडरा रहा है, इसलिए सेहत का खास ख्याल रखना ज़रूरी है।

ऐसे में हम आपको बताएं कि इस दौरान आपको किन बातों का ध्यान रखना है। क्या करना है और क्या नहीं (Dos and Don’ts) ताकि आप और आपका परिवार सुरक्षित रह सके।

बरसात के मौसम में कोविड – 19 से बचने के लिए इन बातों का रखें खास ख्याल

इन दिनों जब भी संभव हो घर पर रहें, बीमारियों से बचने का यह सबसे अच्छा तरीका है

अपने हाथों को दिन में कई बार कम से कम 20 सेकंड के लिए धोएं, खासकर अपने घर से बाहर निकलने से पहले और बाद में और खाना खाने से पहले और बाद में।

मास्क पहनना न भूलें। चित्र : शटरस्टॉक

खांसते या छींकते समय अपने मुंह और नाक को अपनी कोहनी से ढकें

जब आप अपने घर से बाहर हों तो मास्क पहनें और अच्छी क्वालिटी का मास्क पहनें

बाहर जाते समय लोगों से कम से कम 6 फीट की दूरी बनाए रखें, बात करते समय भी थोड़ा दूर रहें।

अगर आप बीमार महसूस करते हैं तो घर पर रहें

यदि आप वास्तव में बीमार महसूस करते हैं, तो अपने चिकित्सक को फोन करके पूछें कि दवाई ली जा सकती है या क्या पर्सनल कॉन्सल्टेशन ज़रूरी है।

जब तक आपका डॉक्टर आपको रोकने के लिए न कहे, तब तक सभी दवाएं लेना जारी रखें।

भूल कर भी न दोहराएं ये गलतियां

ऐसी दवाएं न खाएं जो डॉक्टर द्वारा न दी गयी हों

गंदा पानी न पिएं और बाहर खाना न खाएं।

भीड़-भाड़ वाली जगहों जैसे पार्क या समुद्र तटों पर न जाएं।

कोविड वैक्सीन लगवाना न भूलें, इसे इग्नोर न करें।

हम में से बहुत से लोग अकेले और डरे हुए हो सकते हैं। तो कृपया अपने मानसिक स्वास्थ्य का ध्यान रखें। अपने दोस्तों और परिवार के सदस्यों से ऑनलाइन या फोन पर मिलें और अपनी भावनाओं को साझा करें। सबसे बढ़कर, सुरक्षित रहें!

यह भी पढ़ें : क्या चलते हुये आपको भी एड़ियों में होने लगता है दर्द? जानिए इसके कारण

लेखक के बारे में
ऐश्‍वर्या कुलश्रेष्‍ठ

प्रकृति में गंभीर और ख्‍यालों में आज़ाद। किताबें पढ़ने और कविता लिखने की शौकीन हूं और जीवन के प्रति सकारात्‍मक दृष्टिकोण रखती हूं।

पीरियड ट्रैकर

अपनी माहवारी को ट्रैक करें हेल्थशॉट्स, पीरियड ट्रैकर
के साथ।

ट्रैक करें
Next Story