ऐप में पढ़ें

निर्जला व्रत के बाद आपको क्यों नहीं खाना चाहिए बहुत हैवी फूड, यहां हैं व्रत खोलने का हेल्दी तरीका

Published on:24 October 2021, 10:00am IST
दिन भर निर्जला व्रत रखने के बाद आपको ध्यान रखना है कि आपका पहला मील कैसा हो।
karwa chauth fasting tips
दिन भर निर्जला व्रत रखने के बाद आपको ध्यान रखना है कि आपका पहला मील कैसा हो। चित्र : शटरस्टॉक

करवा चौथ, विवाहित जोड़ों द्वारा प्रेम और दांपत्य की समृद्धि के लिए मनाया जाने वाला त्योहार है। देश के अलग-अलग हिस्सों में मनाए जाने वाले इस त्योहार की रस्में अलग-अलग संस्कृतियों में थोड़ी अलग होती हैं। मगर आमतौर पर महिलाएं बिना पानी पिए पूरे दिन उपवास रखती हैं और चंद्रोदय के बाद ही अपना व्रत तोड़ती हैं।

यह त्योहार बहुत उत्साहपूर्वक मनाया जाता है, लेकिन इस दिन आपको अपनी सेहत का खास ख्याल रखना चाहिए। रीति-रिवाजों के साथ – साथ अपना व्रत तोड़ने के तरीकों पर भी ध्यान देना चाहिए। क्योंकि आपकी एक छोटी सी भूल आपके स्वास्थ्य पर भारी पड़ सकती है।

तो, चलिये जानते हैं कि व्रत तोड़ते समय आपको किन चीजों का खास ख्याल रखना चाहिए

व्रत के तुरंत बाद चाय कॉफी या ज़्यादा पानी पीने से बचें

उपवास के बाद सही तरीके से शरीर में पोषण संतुलन बनाए रखना महत्वपूर्ण है। अचानक बड़ी मात्रा में पानी पीना भी परेशानी भरा हो सकता है या उच्च कैलोरी वाला भोजन आपके चयापचय को प्रभावित कर सकता है।

chai ka sewan kam kare
चाय का सेवन कम करें। चित्र : शटरस्‍टॉक

इसके अलावा व्रत खोलने के बाद चाय या कॉफी के सेवन से बचें। यह देखते हुए कि आपने पूरे दिन कुछ नहीं खाया है, कैफीन के सेवन से एसिडिटी हो सकती है। इस तरह के एसिड रिफ्लक्स से बचने के लिए चाय या कॉफी की जगह ताजे फलों का रस, छाछ, घर पर ताजा बना हुआ बादाम का ठंडा दूध या केसर का दूध लें।

निर्जला व्रत के बाद आपको क्यों नहीं खाना चाहिए हैवी फूड

व्रत के बाद तेल में बने और कैलोरी से भरपूर भोजन से पूरी तरह बचना चाहिए। यह गंभीर सूजन समस्याओं को जन्म दे सकता है और बाद में सिरदर्द का कारण बन सकता है। ऐसा इसलिए, क्योंकि आप पूरे दिन उपवास कर रही हैं और अचानक भारी भोजन पचने में अधिक समय ले सकता है।

इससे पेट खराब हो सकता है या दस्त, गैस्ट्रिक इरिटेशन या सूजन हो सकती है। उपवास के बाद भारी खाद्य पदार्थ खाने से आपका चयापचय धीमा हो सकता है। जिससे आपका पाचन तंत्र प्रभावित हो सकता है।

ज़्यादा मसालेदार भोजन भी है हानिकारक

पूरे दिन निर्जला व्रत रखने के बाद अगर आप अचानक से कुछ स्पाइसी खाएंगी, तो यह आपके पाचन तंत्र को प्रभावित कर सकता है। मसालेदार खाना आपके पेट में जलन पैदा कर सकता है। इसलिए, घर का बना सुपाच्य भोजन करें, सादा और हल्का खाना खाएं। रात का खाना बनाते समय हल्के मसाले डालें और कम मसाले का प्रयोग करें।

Apni diet ko rakhe healthy
अपनी डाइट को रखें हेल्दी। चित्र : शटरस्टॉक

संतुलित मात्रा में मीठा खाएं

उपवास के बाद भले ही आपको कुछ मीठा खाने की इच्छा हो, लेकिन उच्च कैलोरी वाली मिठाइयों का सेवन करना सेहत के लिए हानिकारक हो सकता है। इसके बजाय इसे डार्क चॉकलेट के टुकड़े या गुड़ के एक – दो छोटे टुकड़ों का सेवन करें।

जानिए क्या है व्रत खोलने का हेल्दी तरीका

सबसे पहले आराम से थोड़ा – थोड़ा पानी पिएं, आप कोई भी एक हल्की मिठाई खा सकती हैं।

अगर आपको तुरंत बाद कुछ खाने का मन नहीं कर रहा है तो, हमारी सलाह है कि नारियल पानी, छाछ या दूध पिएं।

खाना खा रही हैं, तो भोजन हल्का ही करें और ओवरईटिंग से बचें।

अंत में, व्रत अपने स्वास्थ्य को ध्यान में रख कर ही रखें, सेहत से बड़ा कुछ भी नहीं है।

यह भी पढ़ें : करवाचौथ 2021 : इन 6 पौष्टिक खाद्य पदार्थों के साथ हेल्दी बनाएं अपनी सरगी की थाली

ऐश्‍वर्या कुलश्रेष्‍ठ ऐश्‍वर्या कुलश्रेष्‍ठ

प्रकृति में गंभीर और ख्‍यालों में आज़ाद। किताबें पढ़ने और कविता लिखने की शौकीन हूं और जीवन के प्रति सकारात्‍मक दृष्टिकोण रखती हूं।