Healthshots

By Jyoti Sohi

Published Aug 22, 2023

आपकी वेटलॉस जर्नी को स्लो बना सकते हैं ये 5 तरह के फूड्स, इनसे बचना है जरूरी

वेटलॉस के लिए कई प्रकार की डाइट और वर्कआउट को फॉलो किया जाता है। मगर बावजूद इसके वज़न कम नहीं हो पाता है। दरअसल, डेली रूटीन में हम कई ऐसे फूडस का सेवन करते हैं, जो वेटगेन का कारण बनते हैं। जानते हैं वो कौन से फूडस है, जो हमारी वेटलॉस जर्नी को स्लो बना सकते हैं।

Image Credits : Adobestock

चावल में हैं बहुत सारी कैलोरीज

Image Credits : Shutterstock

चावल के एक बाउल को अपने आहार में सम्मिलित करके आपका शरीर मोटापे का शिकार हो सकता है। दरअसल, इसमें 204 कैलोरीज़ और 44 ग्राम कार्ब्स की प्राप्ति होती है। जो वेटगेन का कारण बन सकता है। दिनभर में अगर आप बार बार चावल का सेवन करती हैं, तो इससे आपका वेटगेन बेहद तेज़ रफ्तार से होने लगता है।

Image Credits : Shutterstock

डेयरी प्रोडक्ट्स में हो सकते हैं हाई फैट

Image Credits : Shutterstock

दूध, पनीर और दही से हमें कैल्शियम, प्रोटीन और कार्ब्स की प्राप्ति होती है। इससे मसल्स बिल्डिंग में मदद मिलती है। साथ ही हमारा शरीर हेल्दी बना रहता है। शरीर को मज़बूती देने वाली डेयरी प्रोडक्ट्स शरीर में वज़न बढ़ने का कारण भी बनने लगते हैं। अगर आप ज्यादा मात्रा में इसका सेवन करते है, तो इससे वेटगेन होने लगता है। ऐसे में आप विकल्प के तौर पर लो फैट मिल्क का प्रयोग कर सकते हैं।

Image Credits : Adobestock

हाई कैलोरी है चॉकलेट

Image Credits : Shutterstock

ज्यादा चॉकलेट खाने से ओरल हेल्थ को नुकसान पहुंचने के अलावा आपका वज़न भी बढ़ने लगता है। कैलोरीज़ और फैट्स की प्रचुर मात्रा होने से रोज़ाना इसे खाना आपके वेटगेन का कारण साबित हो सकता है। आमतौर पर हार्ट हेल्थ और ब्रेन फंक्शन के लिए फायदेमंद चॉकलेट को आप मॉडरेट ढ़ग से रेसिपीज़ में एड कर सकते हैं।

Image Credits : Shutterstock

चीनी से भी ज्यादा खतरनाक हैं स्वीटनर्स

Image Credits : Shutterstock

फ्रूट जूस और कोल्ड ड्रिंक का सेवन हमारे शरीर के लिए नुकसानदायक साबित होता है। इससे वजन तेज़ी से बढ़ने लगता है। साथ ही डायबिटीज़ का भी खतरा बना रहता है। इसके अलावा ये हार्ट हेल्थ के लिए भी नुकसानदायक होता है। प्रिजर्वेटिव्स से भरपूर ड्रिंक्स का सेवन करने की जगह दूध, लस्सी, नींबू पानी और नारियल पानी से इसे रिप्लेस कर सकते हैं। इसके अलावा ज्यादा आइसक्रीम का सेवन करने से भी बचें।

Image Credits : Adobestock

आलू और कॉम्प्लेक्स कार्ब्स

Image Credits : Shutterstock

आलू का सेवन सब्जी के तौर पर किया जाता है। इससे शरीर में अतिरिक्त कैलोरीज़ बढ़ने लगती हैं। हांलाकि आलू से पोटेशियम, फाइबर और रेंसिसटेंट स्टार्च की प्राप्ति होती है। इसके अलावा इसमें ग्लाइकोजन भी पाया जाता है। ये एक कॉम्प्लेक्स शुगर कंपाउड है, जो हड्डियों में पाया जाता है। एथलीटस के लिए ये बेहद ज़रूरी है।

Image Credits : Adobestock