और पढ़ने के लिए
ऐप डाउनलोड करें

105 वर्षीय महिला ने भीगी हुई किशमिश खाकर जीती कोविड -19 से जंग, जानिए उनकी कहानी

Published on:25 February 2021, 19:30pm IST
घरेलू नुस्खे की मदद से अपनी इम्युनिटी को बढ़ाकर 105 वर्षीय महिला ने कोरोनोवायरस को हराया।
टीम हेल्‍थ शॉट्स
  • 82 Likes
जी हां, घरेलू नुस्‍खे कभी-कभी कमाल कर जाते हैं।
जी हां, घरेलू नुस्‍खे कभी-कभी कमाल कर जाते हैं।

आप ये जानते ही होंगे कि 50 वर्ष से अधिक आयु वाले लोग कोविड-19 के प्रति ज्यादा संवेदनशील हैं। ऐसे में अगर कोई 105 वर्ष की उम्र में कोरोना पॉजिटिव पाया जाता है, तो यह खतरा और भी बढ़ जाता है। इसलिए जब 105 वर्षीय लूसिया डेक्लेरेक अपने जन्मदिन पर कोरोनावायरस पॉजिटिव पायी गयीं तो लोगों को उनकी सेहत की फि‍क्र होने लगी। लेकिन, लूसिया ने कोरोना वायरस को मात दे दी और मात्र 2 हफ़्तों में वे ठीक भी हो गयीं।

जब उनसे पूछा गया कि उनकी लंबी उम्र का राज़ क्या है तो उन्होंने एक सरल सा जवाब दिया: ”भीगे हुए किशमिश- नौ दिनों तक भीगे हुए नौ किशमिश”। लूसिया ने अपने पूरे जीवन में नौ सुनहरे किशमिशों को भिगो कर सेवन करने की बात कही है।

क्या प्राकृतिक नुस्खा, एक लंबे और स्वस्थ जीवन का रहस्य है?

उनके परिवार ने मीडिया को सूचित किया कि लूसिया अपने स्वास्थ्य को बनाए रखने के लिए हमेशा प्राकृतिक घरेलू नुस्खों का इस्तेमाल करती हैं। जिसमें एलोवेरा का रस पीने और बेकिंग सोडा के साथ अपने दांत साफ करना शामिल है। जाहिर है, तभी उन्हें 99 साल की उम्र तक दांतों में कोई भी कैविटी नहीं थी!

उनकी 53 वर्षीय पोती शॉन लॉ ओ’नील कहती हैं कि हम बस सोचते थे कि दादी क्या कर रही हैं? वो पागल हैं! लेकिन, उन्होंने हर बीमारी को पीछे छोड़ दिया है।

लुसिया डी क्‍लेर्क ने 105 वर्ष की उम्र में कोरोना को मात दी है। चित्र: Twitter
लुसिया डी क्‍लेर्क ने 105 वर्ष की उम्र में कोरोना को मात दी है। चित्र: Twitter

कोरोना को हराने का दूसरा सबसे मुख्य कारण है कि उन्होंने जंक फ़ूड बिलकुल नही खाया। इसमें कोई आश्चर्य नहीं कि क्यों एक सदी पार करने के बाद भी वे इतनी स्वस्थ हैं।

कोविड-19 टीकाकरण ने क्या भूमिका निभाई

अजीब बात यह है कि फ़ाइज़र-बायोएनटेक वैक्सीन का दूसरे चरण का टीका लगने के एक दिन बाद लूसिया कोविड-19 पॉजिटिव पायी गयी थी। हालांकि, डॉक्टरों का मानना ​​है कि इस कारक ने लूसिया को बीमारी के गंभीर लक्षणों का अनुभव नहीं करने में मदद की है और इससे लड़ने में मदद की है।

बेशक, उनका परिवार पूरी तरह से खुश है कि उनकी दादी सुरक्षित और स्वस्थ हैं। वास्तव में, उनकी पोती शॉन ने कहा कि वे अब उन्हें 105 वर्षीय बदमाश कहती हैं, जिसने कोविड को लात मारी।

यह एक बेहद सकारात्मक खबर है। आशा की एक कहानी है, ठीक होने के बाद लूसिया को दुनिया भर से बधाई मिल रही है।

यह भी पढ़ें – दीया मिर्जा से सीखें पर्यावरण अनुकूल जीवन जीना, यहां हैं उनके कुछ सुझाव

टीम हेल्‍थ शॉट्स टीम हेल्‍थ शॉट्स

ये हेल्‍थ शॉट्स के विविध लेखकों का समूह हैं, जो आपकी सेहत, सौंदर्य और तंदुरुस्ती के लिए हर बार कुछ खास लेकर आते हैं।