वैलनेस
स्टोर

‘मेडल से पहले मन’: मानसिक स्वास्थ्य के लिए सिमोन बाइल्स का ओलंपिक को छोड़ना बताता है कि यह कितना महत्वपूर्ण है

Updated on: 31 July 2021, 13:02pm IST
हाल ही में प्रसिद्ध अमेरिकी आर्टिस्टिक जिमनास्ट सिमोन बाइल्स के टोक्यो ओलंपिक से हटने से एथलीट्स के लिए मानसिक स्वास्थ्य के महत्व के बारे में जागरूकता बढ़ी है। एक वैश्विक मंच पर उनके इस कॉन्फेशन ने इस मुद्दे पर बातचीत करने और इससे जुड़ी भ्रांतियों को दूर करने का मार्ग प्रशस्त किया है।
टीम हेल्‍थ शॉट्स
  • 112 Likes
सिमोन बाइल्स के टोक्यो ओलंपिक से हटने से एथलीट्स के लिए मानसिक स्वास्थ्य के महत्व के बारे में जागरूकता बढ़ी है। चित्र : शटरस्टॉक
सिमोन बाइल्स के टोक्यो ओलंपिक से हटने से एथलीट्स के लिए मानसिक स्वास्थ्य के महत्व के बारे में जागरूकता बढ़ी है। चित्र : शटरस्टॉक

“मुझे अपने मानसिक स्वास्थ्य पर ध्यान देना होगा”। चार बार की ओलंपिक स्वर्ण पदक विजेता सिमोन बाइल्स के ये शब्द इतिहास में दर्ज हो जाएंगे। अमेरिकी आर्टिस्टिक जिमनास्ट, जो दुनिया के सबसे प्रतिष्ठित टूर्नामेंट में गौरव की दौड़ में थी, ने पदक से ज्यादा महत्व अपने मानसिक स्वास्थ्य को दिया। और उन्होंने टोक्यो ओलंपिक में कलात्मक जिमनास्टिक्स के टीम फाइनल से हटने का फैसला किया। बाइल्स के इस साहसी फैसले को हर तरफ से समर्थन मिला है, कई लोगों ने उन्हें सही मायने में ‘Greatest of All Time’ कहा है। ऐसे और लोग भी हैं, जिन्होंने उन्हें अपने देश के लिए ‘गद्दार’ कहा है, और अपने मानसिक स्वास्थ्य का इस्तेमाल खराब प्रदर्शन के लिए “बहाने” के रूप में किया है।

बाइल्स का ओलंपिक से हटना, टेनिस स्टार नाओमी ओसाका के फ्रेंच ओपन से पीछे हटने को एक बार फिर सुर्खियों में ला दिया है।

बाइल्स ने मीडिया से कहा “शारीरिक रूप से, मुझे अच्छा लग रहा है। मैं शेप में हूं। भावनात्मक रूप से, यह समय और क्षण कुछ अलग है। ओलंपिक में आना और हेड स्टार होना कोई आसान उपलब्धि नहीं है।”, उन्होंने अपने कंधों पर “दुनिया का भार ” लिया है और “इसे आसान बनाने की कोशिश की है।”

 

View this post on Instagram

 

A post shared by HealthShots (@hthealthshots)

 

तो, यह दबाव और मानसिक स्वास्थ्य क्या है? ये कैसे जुड़े हुए हैं, और क्या इससे निपटने का कोई समाधान है? मनोवैज्ञानिक और मानसिक स्वास्थ्य सलाहकार प्रीता गांगुली के पास इन सभी सवालों के जवाब हैं। लेकिन इससे पहले कि हम उन तक पहुंचें, आइए समझते हैं कि एथलीट दबाव के प्रति अधिक संवेदनशील क्यों होते हैं।

एथलीट्स का मानसिक स्वास्थ्य संघर्ष

यह सिर्फ बाइल्स ही नहीं थीं जिन्होंने सार्वजनिक मंच पर अपने संघर्षों के बारे में खुलकर बात की। स्केटबोर्डर न्याजा हस्टन ने भी अपने मानसिक स्वास्थ्य के बारे में बात की, क्योंकि वह टोक्यो खेलों में स्ट्रीट स्केटबोर्डिंग टूर्नामेंट में सातवें स्थान पर रहे।

उन्होंने एक इंस्टाग्राम पोस्ट में अपना दिल बहलाया, जहां उन्होंने लिखा, “एक अंतरराष्ट्रीय स्तर पर प्रसिद्ध एथलीट होने का दबाव कभी-कभी आसान नहीं होता है,” यह कहते हुए कि वह अक्सर “खुद पर इस बात का दबाव महसूस करते हैं।”

ये स्पष्ट स्वीकारोक्ति इस बात पर प्रकाश डालती है कि एथलीट अंततः मन को अपने शरीर का एक अभिन्न अंग मान रहे हैं। सबसे लंबे समय से शारीरिक रूप से फिट रहने पर ध्यान केंद्रित किया गया है, लेकिन धीरे-धीरे हम बदलाव की ओर बढ़ रहे हैं।

वास्तव में, ब्रिटिश जर्नल ऑफ स्पोर्ट्स मेडिसिन द्वारा एक अध्ययन में सामने आया कि ओलंपियन सहित कई एथलीट्स में, चिंता और अवसाद का दर 45% तक हो सकता है। यह खतरनाक है, और हमें एक बार फिर मेंटल हेल्थ के महत्व के बारे में समझाता है।

क्या दबाव और मानसिक स्वास्थ्य जुड़े हुए हैं?

गांगुली कहती हैं, “दबाव को किसी को कुछ करने के लिए मनाने या डराने के उपयोग के रूप में परिभाषित किया गया है। कभी-कभी, यह हमें उन चीजों को करने में मदद कर सकता है जो हम वास्तव में करना चाहते थे, लेकिन कुछ चुनौतियों या प्रतिरोध के कारण नहीं कर पाए। लेकिन यह याद रखना महत्वपूर्ण है कि उच्च मात्रा में दबाव विशेष रूप से हानिकारक हो सकता है।”, दबाव को सहन करने की क्षमता हर व्यक्ति में भिन्न होती है। यह उन लोगों के लिए बेहद कमजोर हो सकता है जो पहले से ही मानसिक बीमारी से जूझ रहे हैं।

हालांकि दबाव किसी को भी प्रभावित कर सकता है, यह एथलीट के लिए अलग तरह से प्रभावित होता है, जिन पर बड़े पैमाने पर प्रदर्शन करने का दबाव होता है। “उनके कार्य देश की प्रतिष्ठा, गौरव, भावना और शायद राजनीति को भी प्रभावित करते हैं। तो हां, वे जिस तरह के दबाव का सामना कर रही हैं, वह बहुत अलग है।”

यह भी पढ़ें : बॉलीवुड गायिका आकृति कक्कड़ बता रही हैं कि कैसे वे खुद को शारीरिक और मानसिक रूप से फिट रखती हैं

टीम हेल्‍थ शॉट्स टीम हेल्‍थ शॉट्स

ये हेल्‍थ शॉट्स के विविध लेखकों का समूह हैं, जो आपकी सेहत, सौंदर्य और तंदुरुस्ती के लिए हर बार कुछ खास लेकर आते हैं।