Ramsay Hunt Syndrome : पाउटिंग और फेस योगा ने की फेशियल पेरालिसिस से उबरने में मेरी मदद 

Updated on: 20 June 2022, 12:31 pm IST

जस्टिन बीबर के साथ एक बार फिर चर्चा में आई ये बीमारी आपके चेहरे को बिगाड़ सकती है, पर मैंने दोबारा मुस्कुराने की ठानी थी। 

Pouting aur exercise Ramsay hunt syndrome se ubarne me help kar sakti hai
पाउटिंग रामसे हंट सिंड्रोम से उबरने में मदद कर सकती है।

आप पलक नहीं झपका सकते, आंखों से विंक नहीं कर सकते, मुस्कुरा भी नहीं सकते हैं, यदि आधा चेहरे पर पैरालिसिस हुआ हो। अंतर्राष्ट्रीय गायक जस्टिन बीबर को हुई इस समस्या से मुझे अपनी परेशानी याद आ गई। मैं 2020 में इसी समस्या से पीड़ित हुई थी, जबकि मैं इसके बारे में अधिक नहीं जानती थी। मैंने इसके बारे में मुश्किल से सुना था। जब दुनिया भर के लोग कोविड -19 महामारी के प्रकोप से बचने की कोशिश कर रहे थे, तो मैं रामसे हंट सिंड्रोम के साथ संघर्ष कर रही थी। 

उस दिन एक सामान्य सुबह से शुरुआत हुई थी, लेकिन बाथरूम के शीशे में मेरा चेहरा असामान्य दिखा था। मैं अच्छी तरह जम्हाई भी नहीं ले पा रही थी। मुस्कुरा भी नहीं पा रही थी। दो नथुनों में से केवल एक को ही हिलाया जा सकता था। एक आंख पूरी तरह बंद नहीं हो पा रही थी। यह दिमाग को झकझोर देने वाला पल था। मुझे लगा कि यह एक स्ट्रोक हो सकता है।

इसलिए, मैं तुरंत पास के एक अस्पताल के एमरजेंसी विंग में गई। वहां मुझे एक न्यूरोलॉजिस्ट से मिलने को कहा गया। विशेषज्ञ ने कहा कि यह रामसे हंट सिंड्रोम के मामले की तरह लगता है।

साधारण मेडिकल भाषा में उसने समझाया, यह एक सूजन या वायरल इन्फेक्शन का परिणाम हो सकता है, जो सातवें क्रेनियल नर्व्स को प्रभावित करता है। यह चेहरे के भावों की मांसपेशियों को नियंत्रित करता है।

मैं अपनी भौहों को और अधिक ऊपर उठाना चाह रही थी। मैं अपने चेहरे को अच्छी तरह मूव भी नहीं कर पा रही थी। मैंने मणिपाल अस्पताल, द्वारका, नई दिल्ली की न्यूरोलॉजिस्ट डॉ. खुशबू गोयल से पूछा, ” रामसे हंट सिंड्रोम होने की क्या वजह हो सकती है? “

उन्होंने कहा कि सटीक कारण तो बता पाना मुश्किल है, लेकिन वैरिसेला ज़ोस्टर वायरस (वीजेडवी) के कारण यह होता है। आमतौर पर यह पूर्व में हुए इंफेक्शन के कारण होता है। यह वायरस नसों में मौजूद रहता है। यह बाद में किसी भी कारण से फिर से सक्रिय हो सकता है।”

रामसे हंट सिंड्रोम के कारण क्या हैं?

डॉ. गोयल के अनुसार, कमजोर इम्यून सिस्टम, थायराॅयड, डायबिटीज, प्रेगनेंसी, किडनी की समस्याओं के कारण हो सकता है। इससे वायरस को नई ऊर्जा प्राप्त हो जाती है। इससे नर्वस सिस्टम की समस्या हो जाती है, जिससे कारण फेशियल वीकनेस हो जाती है।

justin beiber ramsay hunt syndrome
रामसे हंट सिंड्रोम में पाउटिंग एक्सरसाइज फायदेमंद है। चित्र: शटरस्टॉक

स्ट्रेस या डाइट में चेंज भी संभावित कारण हो सकते हैं। मैंने कुछ दूसरे न्यूरोलॉजिस्ट से भी सलाह ली। मैं अपने चेहरे को ठीक करने के लिए पागलों की तरह कोशिश कर रही थी।

32 साल की उम्र में स्ट्रेस को कारण माना जा सकता था, लेकिन यह मेरे ऊपर लागू नहीं होता था। स्वास्थ्य और फिटनेस के प्रति लंबे समय तक इग्नोरेंस एक वजह हो सकती थी। रामसे हंट सिंड्रोम अभी भी मेरे लिए एक रहस्य बना हुआ था। डॉक्टर ने एमआरआई स्कैन की सलाह दी। मेरे लिए यह सही था!

मेरे लिए पॉजिटिव बात यह थी कि इस समस्या का पता मुझे जल्दी चल गया। इसे ठीक होने में एक या कुछ महीने लग सकते हैं। लेकिन डॉक्टर ने मुझे आश्वस्त किया कि मेरी डिंपल्ड स्माइल पूरी तरह वापस आ जाएगी। इससे पहले कि मैं आपको और बताऊं, मैं रामसे हंट सिंड्रोम पर जस्टिन बीबर की पोस्ट साझा कर रही हूं।

ऐसे कौन से संकेत हैं जिन्हें आपको नज़रअंदाज़ नहीं करना चाहिए?

अपने शरीर की सुनो! क्या अधिकांश स्वास्थ्य विशेषज्ञ आपको यही नहीं बताते हैं? मैं रामसे हंट सिंड्रोम से जूझने के अपने अनुभव से इसकी पुष्टि कर सकती हूं।

मैं उस दर्द को कानों के पास महसूस करने लगी थी। रेडनेस भी डेवलप हो गई थी। ऐसा मामूली दर्द के साथ भी होता है। मैंने एक साधारण बाम पर भरोसा किया। कौन जानता था कि मैं अगली सुबह किस चीज का सामना करने जा रही हूं।

डॉ. गोयल ने रामसे हंट सिंड्रोम के कई लक्षणों के बारे में बताया

कान के आसपास दर्द के साथ-साथ लाल दाने

कान के आसपास दर्द, या कान की भीतरी या बाहरी केनल में दर्द

मुंह में दर्द या तकलीफ

रामसे हंट सिंड्रोम किसी व्यक्ति को कैसे प्रभावित करता है?

मेरे लिए शुरुआती दिन कठिन थे। मेरी एक आंख में पानी था, तो दूसरी आंख बिल्कुल ड्राय। मैं अपने आप पानी भी नहीं पी पा रही थी। मुंह के एक तरफ से खाना भी नहीं खाया जा सकता था। मैं अच्छी तरह से गरारे भी नहीं कर पा रही थी। कई समस्याएं थीं, लेकिन मैंने धैर्य के साथ शरीर की हर मुश्किलों का सामना किया।

डॉ. गोयल ने आफ्टर-इफेक्ट्स भी बताया जो कुछ इस प्रकार से हैं

  1. चेहरे का इधर-उधर मुड़ जाना
  2. लटकती हुई पलक
  3. एक आंख बंद करने में कठिनाई
  4. मुंह बंद करने में परेशानी
  5. मुंह से लार टपक सकती है
  6. भोजन को ठीक से चबा न पाना
  7. पानी आपके मुंह में नहीं रह सकता
  8. हो सकता है कि आपकी मुस्कान एक जैसी न हो (अस्थायी रूप से जब तक आप बेहतर नहीं हो जाते)
  9. कान का दर्द
  10. कान बजना (टिनिटस)
  11. सूखी आंखें

रामसे हंट सिंड्रोम का निदान कैसे किया जाता है?

इस सिंड्रोम को क्लिनिकल डायग्नोसिस द्वारा पहचाना जा सकता है। आमतौर पर डॉक्टर शारीरिक परीक्षा में सूजन और चेहरे के पक्षाघात सहित स्पष्ट लक्षणों की जांच करते हैं। गंभीरता के आधार पर, वे एक नमूना लार परीक्षण या एमआरआई स्कैन की सलाह दे सकते हैं। इसके उपचार कुछ इस तरह से किए जा सकते हैं।

फेशियल पेरालिसिस के लिए उपचार

खैर मुझे सामान्य स्थिति में लौटने के लिए फिजियोथेरेपी के अलावा स्टेरॉयड और एंटी-वायरस दवा की खुराक दी गई। हालांकि इसके बाद मुझे ओबेसिटी की समस्या हो गई। इसे ठीक करने में मुझे दो महीने और लग गए।

लेकिन अंत भला तो सब भला। मैं बताना चाहती हूं कि किन-किन चीजों से मुझे फायदा हुआ

  1. फेस योगा

मेरे फिजियोथेरेपिस्ट द्वारा मेरे नर्व्स को फिर से सक्रिय करने और फिर से प्रशिक्षित करने के लिए फेस योगा अभ्यास कराया गया। मैं मांसपेशियों, स्किन को स्टिमुलेट करने और ब्लड सर्कुलेशन में सुधार करने के लिए कुछ प्रमुख बिंदुओं को स्ट्रेच करती, पिंच करती और मालिश करती। मुझे अपने चेहरे के आधे हिस्से-भौहें, होंठ, नाक, आंखें, गर्दन और ठुड्डी सभी को ठीक करना था।

  1. ब्रीदिंग एक्सरसाइज

गहरी सांस लेने के एक्सरसाइज ने मुझे न केवल अपनी नसों को ठीक करने में मदद मिली, बल्कि मुझे भी धैर्य बनाए रखने में मदद मिली। इस एक्सरसाइज की वजह से मेरे दोनों नथुने एक साथ काम करने में सक्षम हो गए।

breathing
रेमसे हंट सिंड्रोम में ब्रीदिंग एक्सरसाइज लाभ पहुंचाता है। चित्र: शटरस्टॉक
  1. सामयिक इलेक्ट्रॉनिक स्टिमुलेशन

रामसे हंट सिंड्रोम और बेल्स पाल्सी में चेहरे की कमजोरी को दूर करने के लिए इलेक्ट्रिक करेंट का भी उपयोग किया जाता है।

  1. काइन्सियोलॉजी टेप

मैं इस विशेष, चिकित्सीय टेप से काफी प्रभावित हुई। मेरे चिकित्सक ने मुझे बताया कि यह दर्द को दूर करने में मदद करता है। त्वचा को लिफ्ट करता है और लिम्फेटिक ड्रेनेज में भी सुधार लाता है।

  1. सेल्फ एक्सरसाइज

मैं सौ प्रतिशत रिकवर इसलिए कर पाई, क्योंकि मैंने पिछले डेढ़ महीने में फिजियोथेरेपिस्ट के सभी निर्देशों का पालन किया। मैंने खूब मेहनत की। कुछ सबसे सरल अभ्यास जो मुझे करने के लिए कहा गया था, उनमें “करीना कपूर खान और करण जौहर की तरह पाउट बनाना ” भी शामिल था!

इसने मेरी थेरेपी को मजेदार बना दिया। इनके अलावा मुझे गम चबाने, गुब्बारे उड़ाने और स्वर वर्ण-AEIOU को कम से कम 5 बार और दिन में दो बार ज़ोर-जोर से सुनाने के लिए कहा जाता था।

  1. परिवार का प्यार और समर्थन

कठिन घड़ी में यह जानने में हमेशा मदद मिलती है कि इमोशनल सपोर्ट के लिए परिवार और दोस्त आपके पास आए। मेरा परिवार और दोस्त हमेशा यह कोशिश करते कि मैं खुश रहूं। प्रियजनों द्वारा मेरे खानपान, दवाएं, एक्सरसाइज, फिजियोथेरेपी सत्र का निरीक्षण किया जाता। वे सभी दिलोजान से चाहते थे कि मेरी मुस्कान और मेरी ताकत मेरे पास वापस आ जाए।

चलते चलते 

यह सब काफी मुश्किल था। यदि किसी को यह समस्या हो जाती है, तो इसकी कठिनता का अनुमान लगाना मेरे लिए मुश्किल नहीं है। सब कुछ एक पल में बदल जाता है। यह अच्छा है कि सुरक्षित और बेहतर भविष्य के लिए आप स्ट्रेस लेते हैं, लेकिन वर्तमान में जीना न भूलें।

अपनी आधी मुस्कान के साथ ही मैं यह सीख पाई कि आधे भरे गिलास को कैसे देखना है?

यहां पढ़ें:-Yoga Day : क्या एंग्जाइटी को योग से कंट्रोल किया जा सकता है? जवाब है हां 

टीम हेल्‍थ शॉट्स टीम हेल्‍थ शॉट्स

ये हेल्‍थ शॉट्स के विविध लेखकों का समूह हैं, जो आपकी सेहत, सौंदर्य और तंदुरुस्ती के लिए हर बार कुछ खास लेकर आते हैं।