वैलनेस
स्टोर

एंटरप्रेन्योर विभा हरीश ने आयुर्वेद और प्लांट-बेस्ड डाइट से दी पीसीओएस को मात, जानिए उनकी कहानी  

Published on:31 January 2021, 12:00pm IST
कोस्मिक्स (CosMix) की फाउंडर विभा हरीश कहती है कि "वो अपने पीसीओएस (PCOS) को नियंत्रण में रखने के लिए वापस अपने पुराने खान-पान पर लौट आई हैं।"
टीम हेल्‍थ शॉट्स
  • 83 Likes
पीसीओएस उतना डरावना नहीं है जितना लोग इसे बनाते हैं। चित्र-शटरस्टॉक।

एंटरप्रेन्‍योर विभा हरीश मानती हैं कि हम आम तौर पर उन चीजों को नज़रंदाज़ कर देते हैं जो अक्सर हमारे सामने होती हैं! लेकिन विभा हरीश ने न केवल आयुर्वेद को अपनाकर अपनी रोज़मर्रा की दिनचर्या में छोटे-छोटे बदलाव किये, बल्कि उन्होंने अपने PCOS पर भी काबू पा लियाइतना ही नहीं, उन्होंने कई अन्य युवा लड़कियों को भी आयुर्वेद का असली मूल्य समझाने का संकल्प लिया। साथ ही यह भी कि वे कैसे पीसीओएस को काबू कर सकती हैं। 

बेंगलुरु की इस 25 वर्षीय युवती को 12 वीं कक्षा से ही पीसीओएस की समस्या थी। यह सब अनियमित पीरियड्स के साथ शुरू हुआ। यह उनके लिए वास्तव में एक कठिन समय थाक्योंकि आज के विपरीत उस समय शायद ही कोई जागरूकता थी। उन्होंने सोचा था कि इस विकार का उनके भविष्य पर एक बड़ा प्रभाव पड़ेगा और ऐसा हुआ भी, लेकिन केवल एक सकारात्मक तरीके से।

उनके परिवार को हमेशा से ही आयुर्वेद पर पूरा भरोसा थाउनकी मां एक होमियोपैथ हैं और उन्हें हमेशा से ही प्रकृति की शक्ति में विश्वास रहा हैइसलिए उन्होंने विभा को भी आयुर्वेद अपनाने की सलाह दी और आज वे अपनी पीसीओएस की समस्या से निजात पा चुकी हैं

विभा के व्यक्तिगत अनुभव ने उन्हें उद्यमी बनने के लिए प्रेरित किया और CosMix कॉस्मॉस, ब्रांड शुरू करने के लिए प्रेरित कियाजो पीसीओएस और अन्य विकारों के लिए समग्र समाधान प्रदान करता है।

वह कहती हैं कि “मैंने अपने पीसीओएस को दूर करने के लिए सबसे सरल काम किया,

मेरी मां मेरे पीसीओएस के लिए स्टेरॉयड लेने के खिलाफ थीं। इसलिए, वह इन अलग-अलग जड़ी-बूटियों जैसे शवात्रि, अश्वगंधा इत्यादि का काढ़ा बनाती थीं और मैं सुबह सबसे पहले उनका सेवन करती थी।”

यह भी पढें: सेक्‍स पर कायम टैबू को मिटाने का प्रयास कर रही हैं डॉक्टर निवेदिता मनोकरन, जानें क्‍यों है यह जरूरी

विभा कहती हैं,“इसके अलावा, मैंने जीवनशैली में कुछ साधारण बदलाव किए, जैसे कि समय पर खाना और सोना, व्यायाम करना, आदि। मैंने बेहद आम दिनचर्या को अपनाया। PCOS को कम करने में सबसे ज्यादा भूमिका मेरी डाइट की रही है|

जीवनशैली में कुछ बदलाव करके पीसीओस से निपटा जा सकता है। चित्र-शटरस्टॉक।

इंटरनेट पर एक अलग दुनिया है 

विभा ने बताया है कि वह पीसीओएस के उपचार के बारे में घंटों तक गूगल पर पढ़ती रहती थीं, लेकिन इंटरनेट पर आधी-अधूरी जानकारी प्राप्त करने के बाद वे यह समझ नहीं पा रही थीं कि इसका विश्वास करना है या नहीं।

वो कहती हैं कि: “मैं ये देख कर हैरान थी कि लोग औरतों की परेशानियों का मज़ाक बना रहे हैंमैने काफी कम्पनीज को PCOS की आड़ में महिलाओं को लूटते देखा था। ये सब देखकर मुझे बहुत बुरा लगता थाकहीं न कहीं मुझे उन लड़कियों की मदद ज़रूर करनी थी जो, इन उत्पादों का इस्तेमाल, बिना उनके पीछे के विज्ञान को समझे कर रही थीं।”

हर्ब्‍स का है अपना जादू 

जड़ी-बूटियों को अपना जादू दिखाने में लगभग दो साल लग गए। मेरे पीरियड्स जांच भी सही चलने लग गये, मेरी त्वचा में सुधार हुआ, मुंहासे नहीं हुए, वजन नहीं बढ़ा- पीसीओएस से जुड़ी सभी समस्याएँ धीरे-धीरे ठीक होने लग गयी। मेरी सभी सहेलियाँ मुझे अपना सीक्रेट बताने को कहती और मै खुशी-खुशी उन्हें सब बताती। यही वह समय था जब मैंने जड़ी-बूटियों की ताकत को समझा, और सोचा कि यही तरीका है जिससे में अपनी जैसी और विभा की मदद कर सकती हूं। और यही वह समय था जब CosMix का जन्म हुआ।

समग्र स्वास्थ्य उत्पादों की पेशकश के अलावा, इस ब्रांड ने एक समुदाय भी बनाया है जहां लड़कियां अपने अनुभव साझा कर सकती हैं – न केवल पीसीओएस के बारे में, बल्कि सब कुछ।

विभा कहती हैं: जड़ी बूटी वास्तव में माइक्रोन्यूट्रिएंट्स से भरी होती हैं। जो हमारे शरीर के लिए बेहद ज़रूरी है। हल्दी या धनिया जैसी जड़ी-बूटियां जो हमारे रसोई घरों में आसानी से उपलब्ध हैं, ये हमारे शरीर के लिए आश्चर्यजनक रूप से फायदेमंद हैं। मैं यह बात बहुत दृढ़ता से मानती हूं। वे कहती हैं कि में कुछ ही दिनों में एक सर्टिफाइड हेर्बलिस्ट बन जाऊंगी|

तो क्‍या है विभा की सलाह:

विभा बताती हैं कि: सबसे पहले, मैं केवल यह कहना चाहती हूं कि, हमें स्वास्थ्य को समग्र रूप से समझने की आवश्यकता है और त्वरित सुधारों की तलाश बंद कर देनी चाहिए। एक बार अगर इस चीज़ में सुधार हो गया तो, वह पीसीओएस हो या अन्य कोई विकार, सब कुछ सही हो सकता है”। 

यहां विभा द्वारा सुझाए गए कुछ उपाय दिए गए हैं…:

  1. अपनी गट हेल्थ का हमेशा ध्यान रखें: यदि आपको भी पीसीओएस या थायरॉयड है और मुंहासे या अन्य त्वचा संबंधी समस्याओं से जूझ रही हैं, तो सबसे आसान उपाय यह है कि आप कोई क्रीम का उपयोग करने के बजाय, अपनी गट को साफ रखें।”
  2. अपने शरीर को brain-stimulating food खिलाएंविभा कहती हैं कि यह मूल रूप से आपके मानसिक स्वास्थ के लिए है। मैं ब्राह्मी, अश्वगंधा और त्रिफला लेती थी। मैं अभी भी अपने लगभग सभी उत्पादों में इन तीनों का उपयोग करती हूं, क्योंकि वे बहुत ही लाभदायक हैं।”
  3. हार्मोन की भूमिका को समझना भी बहुत महत्वपूर्ण हैताकि आप उसके अनुसार इलाज कर सकें।
  4. एक और बहुत ही महत्वपूर्ण बात यह है कि भोजन को अपनी डाइट में से कम न करें, क्योंकि जितना अधिक आप अपने आहार को प्रतिबंधित करते हैं, उतना ही आपके शरीर को नुकसान होगा।”
  5. हमेशा हाइड्रेटेड रहें।
  6. व्यायाम अवश्य करना चाहिए।
  7. कैफीन का सेवन कम करें।

विभा कहती हैं कि: “मैं हमेशा अपने दिन की शुरुआत, एक गिलास पानी में नीबू-शहद के साथ करती हूं। दूसरी सबसे महत्वपूर्ण बात यह है कि में हर खाने के बाद वज्रासन ज़रूर करती हूं। इसके साथ ही सुबह उठने के बाद में अपनी मेंटल पीस के लिए जर्नलिंग ( Journaling ) ज़रूर करती हूंइससे मैं दिन भर ऊर्जावान रहती हूं।”

यह भी पढें: चुनौतियों को पछाड़ डॉ. श्रद्धा महेश्वरी बनी मुंबई की तीसरी महिला न्यूरोसर्जन, ये है उनके दृढ़ संकल्प की कहानी

टीम हेल्‍थ शॉट्स टीम हेल्‍थ शॉट्स

ये हेल्‍थ शॉट्स के विविध लेखकों का समूह हैं, जो आपकी सेहत, सौंदर्य और तंदुरुस्ती के लिए हर बार कुछ खास लेकर आते हैं।