वैलनेस
स्टोर

क्या अचार का रस एसिडिटी और जलन से राहत दे सकता है? आइए पता करते हैं

Published on:11 September 2021, 12:00pm IST
कुछ लोग एसिड रिफ्लक्स के इलाज के लिए घरेलू उपचार के तौर पर अचार का रस पीते हैं। क्या यह वास्तव में एसिडिटी और हार्टबर्न से राहत दिला सकता है? आपकी सेहत के लिए हम इसकी वैज्ञानिकता चैक कर रहे हैं।
अदिति तिवारी
  • 102 Likes
kya sach mein achaar ka ras hai acidity se ladne ki dawa
क्या सच में अचार का रस है एसिडिटी से लड़ने की दवा? चित्र :शटरस्टॉक

बहुत सारे लोगों को महीने में कम से कम एक बार एसिडिटी (acid reflux) और उससे होने वाली जलन (Heartburn) का सामना करना पड़ता है। यह स्थिति इतनी असहनीय होती है कि हम इससे निपटने के लिए कुछ भी कर सकते हैं। कैमोमाइल चाय (chamomile tea) की चुस्की लेने से लेकर अदरक का रस पीने तक। कई प्राकृतिक, घरेलू उपाय हैं जिन्हें आप जलन और बेचैनी को शांत करने के लिए उपयोग कर सकते हैं। पर कुछ लोग इसके लिए अचार का रस (Pickle Juice) पीना पसंद करते हैं। हां यह सच है। आइए जानते हैं एसिडिटी और जलन पर अचार के रस के प्रभाव के बारे में। 

क्यों बार-बार हो जाती है एसिडिटी ?

एसिड रिफ्लक्स से सीने में जलन होती है जो कभी-कभी बहुत सारी परेशानियों का कारण बन जाता है। इससे  छाती में इतना दर्द उठता है कि यह छाती की हड्डी के ठीक पीछे तक महसूस होता है। अगर आप भी अकसर एसिडिटी से परेशान रहती हैं, तो आपके मन में भी यह सवाल जरूर आया होगा कि यह बार-बार क्यों परेशान करती है। 

असल में इसके लिए कमजोर मेटाबॉलिज्म और खानपान की गलत आदतें दोनों जिम्मेदार हैं। यह अक्सर खाने या पीने के साथ-साथ अपनी पीठ या पेट के बल लेटने के बाद और बदतर हो जाता है।

kamzor paachan aur galat khaan- paan hai acidity ka kaaran
कमजोर पाचन और गलत खान-पान है एसिडिटी का कारण। चित्र: शटरस्टॉक

पहले समझते हैं कि क्या है अचार का रस 

अचार का रस एक हाईड्रेटिंग लिक्विड (hydrating liquid) है जिसमें सिरका (vinegar), नमक और अन्य मिनेरल्स (minerals) पाए जाते है। यह एंटीऑक्सीडेंट (antioxidants) और  इलेक्ट्रोलाइट (electrolyte) से युक्त है जिसके कारण एक्स्पर्ट्स इसे अपने आहार में शामिल करने का सुझाव देते है। 

क्या यह वास्तव में प्रभावी है ? 

एसिडिटी और जलन से राहत पाने के लिए अचार के रस का प्रयोग करना मूल रूप से व्यक्तिगत उपचार है। एसिड  रिफ्लक्स से पीड़ित बहुत से लोग इस बार पर भरोसा करते हैं कि अचार का रस पीना उनके लक्षणों को दूर करने का प्राकृतिक तरीका है। 

जब आप अपने सैंडविच के साथ अचार का एक टुकड़ा पसंद कर सकते हैं या यहां तक ​​​​कि सीधे जार से बाहर निकालकर खा सकते है, तो अपनी सेहत के लिए अचार का रस भी पीकर देखें। दोनों में महज इतना फर्क है कि अचार पका होता है और उसका रस कच्चा। अगर आप अचार का कच्चा रस पी सकते हैं, तो यह एसिडिटी पर काम कर सकता है। 

acid reflux se chutkara paane ke liye achaar ke ras ka sewan kare
एसिड रिफ्लक्स से छुटकारा पाने के लिए अचार के रस का सेवन करें। चित्र : शटरस्टॉक

एसिडिटी पर कैसे काम करता है अचार का रस ? 

अचार का रस पीने के पीछे तर्क यह है कि यह आपके पेट को लैक्टिक एसिड बैक्टीरिया (lactic acid bacteria) की एक अच्छी खुराक देता है। यह खीरे में पाया जाने वाला एक अच्छा, प्रोबायोटिक बैक्टीरिया (probiotic bacteria) है जो आंतों के स्वास्थ्य को बढ़ावा देता है।

अचार के रस में पाए जाने वाले सूक्ष्मजीव उसे एसिड रिफ्लक्स से लड़ने में मदद करते है। यदि आगे से आप जलन और खट्टे डकारों से परेशान है तो अचार का रस जरूर पिएं। 

यह भी ध्यान रखें 

कोई भी होम रेमेडी आजमाते हुए इस बात का ख्याल हमेशा रखें कि एक ही चीज जरूरी नहीं कि दो अलग-अलग व्यक्तियों पर एक सा प्रभाव दिखाए। अगर आपको सिरके से एलर्जी है या आप हाई बीपी से ग्रस्त हैं तो आपको यह उपाय नहीं आजमाना चाहिए। इसके अलावा अपनी स्वास्थ्य स्थितियों के मद्देनजर अपने डॉक्टर से परामर्श करना हमेशा अच्छा होता है। 

 

यह भी पढ़ें:  एडीएचडी से ग्रस्त बच्चों के माता-पिता को ज्यादा हो सकता है डिमेंशिया का जोखिम

अदिति तिवारी अदिति तिवारी

फिटनेस, फूड्स, किताबें, घुमक्कड़ी, पॉज़िटिविटी...  और जीने को क्या चाहिए !