World Rabies Day: कुत्ता काट ले, तो रेबीज से बचने के लिए तुरंत करें ये 4 उपाय

कुत्ता या किसी दूसरे जानवर के काटने पर फैलता है रेबीज। कुत्ते के काट लेने पर तुरंत एंटी रेबीज इंजेक्शन लगवाएं। पर इससे पहले घर पर आजमायें 4 प्राथमिकी उपचार।

वर्ल्ड रेबीज डे
कुत्ता काटने पर रेबीज इंजेक्शन लगवाएं, इसकी जागरूकता के लिए विश्व रेबीज दिवस मनाया जाता है| चित्र : शटरस्टॉक
स्मिता सिंह Published on: 28 September 2022, 12:48 pm IST
  • 125

हम पेट (Pet) को घर पर रखते हैं और सबसे पहले उसे जरूरी टीका(Vaccine) लगवाते हैं। कई टीकों में एक टीका रेबीज का भी होता है। इससे कुत्ता रेबीज वायरस (Rabies Virus) से संक्रमित नहीं हो पाता है। यदि कुत्ता किसी व्यक्ति को काट लेता है, तो रेबीज संक्रमण से व्यक्ति का बचाव हो जाता है। पर अक्सर गली या सड़कों पर रहने वाले कुत्ते को यह टीका नहीं लगा होता है। इसलिए जब वह हमें काट लेता है, तो हमें तुरंत नजदीकी अस्पताल या प्राइवेट क्लिनिक पर जाकर एंटी रेबीज का इंजेक्शन लगवा लेना चाहिए। कुत्ता काट लेने पर अस्पताल जाने से पहले हमें प्राथमिक उपचार (First Aid) भी जरूर करना चाहिए। रेबीज के प्रति जागरूकता फ़ैलाने के लिए ही विश्व में वर्ल्ड रेबीज डे (World Rabies Day) मनाया जाता है।

  विश्व रेबीज दिवस (World Rabies Day)

हर वर्ष रेबीज वायरस के प्रति जागरूकता फ़ैलाने के लिए 28 सितंबर को विश्व रेबीज दिवस मनाया जाता है रेबीज वायरस जानवरों में पाया जाता है, जिनसे इंसानों में संक्रमण फैलता है। कुत्तों के अलावा, बिल्ली,  बंदर और कई दूसरे जानवरों के काटने पर रेबीज फैलता है सही समय पर उपचार नहीं मिलने पर व्यक्ति को कई सारी स्वास्थ्य समस्याएं हो सकती हैं  इसलिए जानवरों के काटने पर जल्‍द से जल्‍द रेबीज का इंजेक्शन लगवा लेना चाहिए

क्या कहता है वर्ल्ड हेल्थ आर्गेनाईजेशन(World Health Organisation)

वर्ल्ड हेल्थ आर्गेनाईजेशन के अनुसार, भारत में हर साल रेबीज से लगभग 20,000 मौतें हो जाती हैंकुत्ते के काटने के बाद रेबीज के लक्षणों को दिखने में 1 से 3 महीने का समय लग सकता है। वहीं, कुछ मामलों में 1 वर्ष के बीच भी  लक्षण दिख सकते हैं।

 कुत्ते के काटने के बाद शरीर में रेबीज वायरस तेजी से फैलता है। इससे मरीज की छह माह के अंदर मौत भी हो सकती है। इसलिए कुत्ते का नाखून लगने पर भी लोग डर कर तुरंत इंजेक्शन लगवाने हॉस्पिटल चले जाते हैं। जबकि नाखून की बजाय कुत्ते के दांत स्किन के अंदर जाने पर रेबीज फैलता है।

 यहां है कुत्ते के काटने पर अपनाये जाने वाले प्राथमिक उपचार (First Aid after Dog Bite) 

1 तुरंत साफ पानी और एंटीबैक्टीरियल साबुन से धोएं ( Wound Washing after Dog Bite)

शरीर के जिस जगह पर कुत्ते या किसी दूसरे जानवर ने काटा है, तो उस जगह को  पानी की तेज धार से कई बार धोना चाहिए। ऐसा करने से बैक्टीरिया और वायरस साफ हो जाते हैं। इसके बाद किसी एंटीबैक्टीरियल साबुन या एंटीबैक्टीरियल लिक्विड से प्रभावित हिस्से को साफ कर लें।

2 रक्तस्राव को कम करने की कोशिश करें (Try to Reduce Bleeding) 

बहुत अधिक खून न बह जाये, इसके लिए किसी साफ कॉटन के कपडे से उस स्थान को हल्के से बांध दें। इससे खून बहना बंद हो जायेगा।थोड़ी देर बाद कपड़ा हटा दें।

blood
रक्त स्राव को रोकने की कोशिश करें| चित्र : शटर स्टॉक

3 एंटीबायोटिक क्रीम लगायें (Antibiotic Ointment for Dog bite)

आप घाव पर एंटी बैक्टीरियल या कोई अन्य घाव ठीक करने वाली क्रीम भी लगा सकती हैं

 4 रेबीज का इंजेक्शन लगवाएं (Anti Rabies Vaccine) 

इसके बाद तुरंत डॉक्टर के पास जाएं। डॉक्टर की सलाह पर एंटी रेबीज वैक्सीन (Anti Rabies Vaccine) का इंजेक्शन अवश्य लगवा लें। यह इंजेक्शन 48 घंटे के अंदर जरूर लगवा लें।पहले रेबीज वैक्सीन की 28 दिन  के अंदर 5 डोज लगाई जाती थी। अब सिर्फ तीन डोज में वैक्सीन पूरी हो जाती है।

anti rabies injection lagwayen
कुत्ता काटने पर एंटी रेबीज इंजेक्शन जरूर लगवाएं । चित्र:शटरस्टॉक

 ध्यान रखें

कुत्ते के काटने के बाद टमाटर, इमली, अधिक मसालेदार भोजन, आलू,दूध, धनिया, दाल, मांस नहीं खाना चाहिए।

 यह भी पढ़ें :- ध्यान आपके हृदय चक्र को भी जागृत कर सकता है, जानिए कैसे करें हार्ट हेल्थ के लिए इसका अभ्यास 

  • 125
लेखक के बारे में
स्मिता सिंह स्मिता सिंह

स्वास्थ्य, सौंदर्य, रिलेशनशिप, साहित्य और अध्यात्म संबंधी मुद्दों पर शोध परक पत्रकारिता का अनुभव। महिलाओं और बच्चों से जुड़े मुद्दों पर बातचीत करना और नए नजरिए से उन पर काम करना, यही लक्ष्य है।

पीरियड ट्रैकर

अपनी माहवारी को ट्रैक करें हेल्थशॉट्स, पीरियड ट्रैकर
के साथ।

ट्रैक करें
nextstory