World Health Day : एक नई जान के साथ, पुराने रुटीन में लौट रहीं हैं, तो इन टिप्स के साथ आसान बनाएं बैक टू नॉर्मल

Updated on: 25 April 2022, 15:22 pm IST

गर्भ में शिशु के आने के साथ ही आप एक से दो जान हो जाती हैं। लंबे समय के लॉकडाउन के बाद अगर आप अपने गर्भस्थ शिशु के साथ काम पर लौट रहीं हैं, तो अपना ध्यान रखना अब आपकी डबल जिम्मेदारी है।

pregnancy me kam par laut rahin hain toh in safety tips ka zarur dhyan rakhen
प्रेगनेंसी में काम पर लौट रहीं हैं, तो इन सेफ्टी टिप्स का जरूर ध्यान रखें। चित्र: शटरस्टॉक

ज्यादातर महिलाएं गर्भावस्था के अंतिम महीने तक नौकरी करते रहना चाहती हैं। अपनी मेटरनिटी लीव (Maternity leave) को वे बेबी के साथ इस्तेमाल करने पर प्राथमिकता देती हैं। कोविड-19 महामारी (Covid-19 Pandemic) में लॉकडाउन के कारण बहुत से जोड़ों ने बेबी प्लान (Baby Plan) किया। अगर आप भी उन्हीं में से एक हैं और लंबे लॉकडाउन के बाद अपने गर्भस्थ शिशु के साथ वर्कप्लेस पर लौट रहीं हैं, तो आपको अपनी सेहत का ज्यादा ख्याल रखना होगा। वर्ल्ड हेल्थ डे (World health day) के अवसर पर आपको उन सेफ्टी टिप्स (Safety tips) के बारे में पता होना चाहिए, जो किसी भी गर्भवती महिला (Pregnant woman) के लिए वर्कप्लेस (Pregnancy safety tips at workplace) पर काम करना सुविधापूर्ण बना सकते हैं।

प्रेगनेंसी और बैक टू नॉर्मल

लंबे लॉकडाउन के बाद हम भी ऑफिसों के खुलने से खुश हैं। पर गर्भवती होने से वर्कप्लेस पर काम करना चुनौतिपूर्ण हो सकता है। नौकरी पर बेहतर तरीक़े से काम करने तथा स्वस्थ रहने के लिए कुछ चीजों को समझना महत्त्वपूर्ण है-जैसे कि गर्भावस्था की सामान्य असुविधाओं को कैसे कम करें और जानें कि कब कोई काम करना आपकी गर्भावस्था को खतरे में डाल सकता है आदि।

यहां वे चुनौतियां दी गई हैं, जिनका आपको प्रेगनेंसी में सामना करना पड़ सकता है

1 मतली और उल्टी आना

इसे ‘मॉर्निंग सिकनेस’ के रूप में जाना जाता है, लेकिन गर्भावस्था में इस तरह की समस्या कभी भी हो सकती है। काम पर मतली को कम करने के लिए इन बातों का ध्यान रखा जा सकता है –

उन चीजों से बचें, तो मतली को ट्रिगर करती हैं:

गर्भावस्था से पहले हर सुबह आपको डबल लट्टे की क्रेविंग हो सकती है या ब्रेक रूम माइक्रोवेव में फिर से गरम किए गए खाद्य पदार्थों की गंध आपके पेट को गड़बड़ कर सकती है। मतली को ट्रिगर करने वाली किसी भी चीज़ से दूर रहें।

un cheezo se bachen jo vommiting ka karan ban sakti hain
पता लगाएं कि आपको किन चीजों से ज्यादा मतली होती है। चित्र:शटरस्टॉक

बीच-बीच में स्नैक्स लेती रहें:

जब आप मतली महसूस करती हैं, तो क्रैकर्स और अन्य ब्लैड खाद्य पदार्थ आपके लिए जीवन रक्षक साबित हो सकते हैं। मगर काम के दौरान स्नैकिंग की चीज़ों को छुपा करके रखें। ताकि आप बार-बार कुछ चीजों को खाने से बचें। अदरक या अदरक की चाय भी इस समस्या में मदद कर सकती है।

2 थकान

चूंकि गर्भावस्था के दौरान हमारा शरीर ज्यादा काम करता है, इसलिए आप थका हुआ महसूस कर सकती हैं। काम करने के दौरान आराम करना मुश्किल हो सकता है। इसके लिए आप निम्न चीज़ों से ख़ुद की मदद कर सकती हैं।

आयरन और प्रोटीन से भरपूर खाद्य पदार्थ का सेवन करें:

थकान आयरन की कमी वाले एनीमिया का लक्षण हो सकता है, लेकिन अपनी डाइट में आयरन को शामिल करने से मदद मिल सकती है। रेड मीट, पोल्ट्री, सीफूड, पत्तेदार हरी सब्जियां, आयरन से भरपूर साबुत अनाज और बीन्स जैसे खाद्य पदार्थ खाएं।

छोटे-छोटे और नियमित ब्रेक लें:

अपनी सीट से कुछ मिनटों के लिए उठना और घूमना आपको मजबूत कर सकता है। लाइट बंद करके, अपनी आंखें बंद करके और अपने पैरों को ऊपर करके कुछ मिनट बिताने से भी आपको रिचार्ज होने में मदद मिल सकती है।

बहुत सारा तरल पदार्थ पिएं:

अपनी डेस्क के पास एक पानी की बोतल रखें और पूरे दिन इसे घूंट-घूंट पीती रहें।

कम एक्टिविटी करें:

जब आपका वर्कडे ख़त्म हो तो वापस स्केलिंग करने से आपको ज्यादा आराम मिल सकता है। अपनी खरीदारी ऑनलाइन करने या घर की सफाई के लिए किसी को काम पर रखने पर विचार करें।

फिटनेस रूटीन को बनाए रखें:

दिन के अंत में एक्सरसाइज की जा सकती है। शारीरिक गतिविधि आपकी ऊर्जा को बढ़ा सकती है। खासकर अगर आप पूरे दिन एक डेस्क पर बैठ कर काम करते हैं, तो शाम के समय एक्सरसाइज करना फायदेमंद हो सकता है। काम के बाद टहलें या प्रसवपूर्व फिटनेस क्लास को ज्वाइन करें। जब तक कि आपका हेल्थकेयर प्रोवाइडर न कहें, तब तक शारीरिक गतिविधि बंद न करें।

जल्दी सोयें:

कोशिश करें कि हर रात 8 घंटे की नींद लें। अपने बाएं तरफ सोने से आपके अंदर रक्तप्रवाह ज्यादा होता है और सूजन कम होती है। सोते समय ज्यादा आराम के लिए अपने पैरों और पेट के बीच में तकिया रखें।

3 शारीरिक असुविधाएं

जैसे-जैसे आपकी गर्भावस्था आगे बढ़ती है, रोज़मर्रा की गतिविधियां जैसे बैठना और खड़े होना असहज हो सकता है। थकान से निपटने के लिए छोटे-छोटे और लगातार ब्रेक लेना न भूलें। हर कुछ घंटों बाद घूमना भी मांसपेशियों के तनाव को कम कर सकता है और आपके पैरों और तलवों में तरल पदार्थ के निर्माण को रोकने में मदद कर सकता है। इसके लिए निम्न चीजों को अपनाएं

बैठना:

पीठ के निचले हिस्से को सहारा देने वाली कुर्सी पर ही लम्बे समय तक बैठने में आसानी हो सकती है। अगर आपकी कुर्सी एडजस्टेबल नहीं है, तो अपनी पीठ को सहारा देने के लिए एक छोटे तकिए या कुशन का उपयोग करें। सूजन कम करने के लिए अपने पैरों को ऊपर उठाए रखें।

pregnancy me apne posture ka zarur dhyan rakhen
गर्भावस्था में उठते और बैठते समय अपने पॉश्चर का जरूर ध्यान रखें। चित्र: शटरस्टॉक

खड़े रहना:

जब आप लंबे समय तक खड़े रहते हैं, तो अपने एक पैर को फुटरेस्ट, स्टूल या बॉक्स पर रखें। बार-बार एक-एक पैर पर भार को बदलें और बार-बार ब्रेक लें। अच्छे आर्च सपोर्ट वाले आरामदायक जूते पहनें।

झुकना और उठाना:

चाहें आप कुछ हल्का उठा रहे होते हैं, तब भी उचित रूप आपकी पीठ को बचाए रखने में मदद करता है। अपने घुटनों पर झुकें, अपनी कमर पर नहीं। भार को अपने शरीर के पास रखें, अपने पैरों से उठाएं, अपनी पीठ से नहीं। उठाते समय अपने शरीर को न मोड़ें।

4 तनाव

काम पर तनाव होने से आपके और आपके बच्चे की देखभाल के लिए जरूरी ऊर्जा खत्म हो सकती है। वर्कप्लेस के तनाव को कम करने के लिए निम्न चीजें करें:

नियंत्रण रखें:

डेली टू-डू लिस्ट बनाएं और अपने कामों को प्राथमिकता दें। विचार करें कि आप किसी और को क्या सौंप सकते हैं – या किस चीज को करवा सकते हैं।

यह भी पढ़ें – 30 के दशक में प्रेगनेंसी प्लान कर रहीं हैं, तो ये टेस्ट करवाना न भूलें

तनाव के बारे में बात करें:

साथ में काम करने वाले, मित्र या प्रियजन के साथ अपनी फ्रस्टेशन के बारे में बात करें।

आराम करें:

रिलैक्स टेक्नीक्स का अभ्यास करें, जैसे कि धीरे-धीरे सांस लेना या शांत स्थान पर खुद की कल्पना करना।

जब तक आपका हेल्थ प्रोवाइडर सुझाव दे, तब तक प्रसवपूर्व योग क्लास करें।

यह भी पढ़ें – पीठ दर्द से लेकर अनिद्रा तक, कई समस्याओं से निजात दिलाता है जमीन पर सोना

Dr. Ritu Sethi Dr. Ritu Sethi

Senior Consultant - Cloudnine Hospital, Sector - 14, Gurugram

स्वास्थ्य राशिफल

ज्योतिष विशेषज्ञ से जानिए क्या कहते हैं आपकी
सेहत के सितारे

यहाँ पढ़ें