वैलनेस
स्टोर

आपके लिए खतरनाक हो सकता है एल्युमीनियम फॉइल में खाना स्टोर करना, जानिए कैसे

Published on:22 August 2021, 15:00pm IST
ऑनलाइन ऑर्डर में जब एल्यूमीनिय फॉइल में पैक गर्मागर्म खाना आपके घर तक पहुंचता है, तो मुंह में पानी आ जाता होगा। पर क्या आप जानती हैं कि खाने को फ्रेश रखने वाली यही एल्यूमीनियम फॉइल आपके स्वास्थ्य के लिए कितनी नुकसानदायक हो सकती है।
मोनिका अग्रवाल
  • 92 Likes
aluminium foil me khana store karna healthy option nahi hai
एल्यूमीनियम फॉइल में खाना स्टोर करना हेल्दी ऑप्शन नहीं है। चित्र: शटरस्टॉक

हम में से ज्यादातर लोग टिफिन पैक करने और खाना स्टोर करने के लिए अकसर एल्युमीनियम फॉइल (Aluminium foil) या फॉइल पेपर (Foil Paper) का इस्तेमाल करते हैं। हम ऐसा मानते हैं कि इसमें खाना देर तक फ्रेश रहता है। पर क्या आप जानती हैं कि इसमें मौजूद कैमिकल आपके खाने को दूषित भी कर सकते हैं! जी हां विशेषज्ञ खाना पैक करने और स्टोर करने के लिए एल्यूमीनियम फॉइल से परहेज करने की सलाह देते हैं। आइए जानते हैं क्यों।

क्या कहती है रिसर्च

एनसीबीआई की एक रिसर्च के मुताबिक यदि हम एल्युमीनिय फॉइल का प्रयोग ज्यादा करते हैं, तो उससे न्यूरोपैथोलॉजिकल प्रतिक्रियाओं के लिए उच्चतम जोखिम की संभावना रहती है। इस शोध से पता चलता है कि खाना पकाने के लिए भी एल्युमिनियम फॉयल का इस्तेमाल नहीं करना चाहिए। इसकी बजाय पके हुए भोजन को कांच या चीनी मिट्टी के बरतनों में स्टोर करना ज्यादा सुरक्षित है। 

विशेषज्ञ सलाह देते हैं कि खाना ठंडा होने के बाद आप चाहें तो एल्युमिनियम फॉइल में लपेट सकती हैं पर कुछ समय के लिए। हर भोजन की एक निश्चित शेल्फ लाइफ होती है, इसके बाद वे अपने आसपास के वातावरण से बैक्टीरिया एब्जॉर्ब करना शुरू कर देता है। आपके भोजन में मौजूद तेल और मसाले एल्यूमीनियम के साथ प्रतिक्रिया करना शुरू कर देते हैं। जिसका असर आपकी सेहत पर पड़ता है।

Aluminium foil me store kiya gaya khana apke liye nuksandayak ho sakta hai
एल्यूमीनियम फॉइल में स्टोर किया गया खाना आपकी सेहत के लिए खतरनाक हो सकता है। चित्र: शटरस्टॉक

क्यों न करें एल्युमिनियम फॉयल का प्रयोग?

कोलंबिया एशिया हॉस्पिटल में डायटीशियन डॉक्टर अनिका बग्गा के मुताबिक जिस प्रकार हमें सांस लेने के लिए हवा की आवश्यकता होती है, उसी प्रकार बैक्टीरिया आदि को भी बढ़ने के लिए कुछ हवा की आवश्यकता होती है।

खाने में मौजूद कुछ ऐसे बैक्टीरिया हैं जो अधिक तापमान पर नहीं मर पाते हैं। वे आपके शरीर में टॉक्सिंस प्रोड्यूस करते हैं और खाने से होने वाली बीमारियों का कारण बनते हैं। जब कोई गर्म खाना अधिक समय तक रूम तापमान पर रख दिया जाए तो पहले दो घंटों में ही बहुत सारे बैक्टीरिया उसमें इकट्ठे हो जाते हैं।

अगर आप खाने को स्टोर करने के लिए एल्युमिनियम फॉयल का प्रयोग करते हैं तो उससे भी इसी प्रकार के बैक्टेरिया के बढ़ने का रिस्क बढ़ जाता है। 

तो कैसे करें बचे हुए खाने को स्टोर?

  1. अपने खाने को बैक्टीरिया से बचाने के लिए उसे हमेशा किसी गहरे और एयर टाइट कंटेनर में स्टोर करें। ताकि उसमें हवा न घुस सके।
  2. यह सुनिश्चित करें कि आप अपने खाने को बनाने के पूरे दो घंटे से पहले ही उसे स्टोर करके रख लें। ताकि बैक्टीरिया के धावा बोलने से पहले ही आप उसे सुरक्षित कर सकें।
  3. डेयरी और मीट से बने उत्पादों में बैक्टीरिया ज्यादा तेजी से बढ़ते हैं। इसलिए इनका और अधिक सावधानी से ध्यान रखें।
  4. तीन घंटे से अधिक समय तक बाहर रखा हुआ खाना स्वास्थ्य के लिए सुरक्षित नहीं है। उसका सेवन न करें क्योंकि वह आपको बीमार बना सकता है।
  5. उन खाद्य पदार्थों के बारे में भी अपनी जानकारी सही रखें, जिन्हें आपको फ्रीज में स्टोर नहीं करना चाहिए। 

अंतिम और सबसे जरूरी बात, खाना उतना ही बनाएं जितनी जरूरत है। न स्टोर करें और न फेंकें।

यह भी पढ़ें- आपकी चादर, तकिये के गिलाफ और तौलिया में भी हो सकते हैं बीमार करने वाले कीटाणु

मोनिका अग्रवाल मोनिका अग्रवाल

स्वतंत्र लेखिका-पत्रकार मोनिका अग्रवाल ब्यूटी, फिटनेस और स्वास्थ्य संबंधी विषयों पर लगातार काम कर रहीं हैं। अपने खाली समय में बैडमिंटन खेलना और साहित्य पढ़ना पसंद करती हैं।