वैलनेस
स्टोर

जब आप नियमित गोल्डन मिल्क या हल्दी वाले दूध का सेवन करती हैं, तो आपके स्‍वास्‍थ्‍य को मिलते हैं ये 6 लाभ 

Updated on: 27 January 2021, 11:50am IST
आयुर्वेद में हल्‍दी को औषधीय माना गया है। इसे दूध में मिलाकर नियमित रूप से पीने से आपकी सेहत को कई दूरगामी लाभ हो सकते हैं।
विनीत
  • 92 Likes
हल्दी वाला दूध के चमत्कारी फायदों के बारे में आपने कभी सोचा भी नहीं होगा। चित्र-शटरस्टॉक।

सब्जी को एक बेहतरीन रंग देना हो या संक्रमणों से बचना हो, हल्दी हर बार काम आती है। पर क्‍या आप जानती हैं कि हल्‍दी का सेवन जब दूध के साथ किया जाता है, तो उसके लाभ और भी बढ़ जाते हैं। अगर आप हर रोज रात को हल्‍दी वाले दूध का सेवन करती हैं, तो ये आपको ऐसे बेमिसाल लाभ देता है, जिनके बारे में आपने कभी सोचा भी नहीं होगा। हम आज आपको उन्‍हीं लाभों के बारे में बताने जा रहे हैं।

हम में से अधिकांश लोग छोटी-मोट चोट लगने या सूजन संबंधी परेशानी होने पर हल्दी वाले दूध का सेवन करते हैं। लेकिन कभी आपने यह सोचा है कि अगर आप नियमित रूप से इसका सेवन करें, तो आपके स्वास्थ्य पर इसका क्या प्रभाव पड़ सकता हैं? खैर, यह आपको स्वास्थ्य संबंधी अनेक लाभ प्रदान करता है।

गोल्डन मिल्क की रेसिपी कोई बहुत अधिक कठिन नहीं है, बस आपको एक गिलास गुनगुने दूध में आधा चम्मच हल्दी को मिलाना है। बस आपका गोल्डन मिल्क तैयार है।

आइए जानते हैं गोल्‍डन मिल्‍क के 6 स्‍वास्‍थ्‍य लाभ 

  1. लिवर को डिटॉक्‍सीफाई करता है गोल्‍डन मिल्‍क

हल्दी को लिवर के लिए फायदेमंद दिखाया गया है। यह आपके शरीर में एक क्लींजर के रूप में कार्य करता है और लिवर में फैटी एसिड के बिल्डअप को रोकता है।

गोल्डन मिल्क लिवर को डिटॉक्सिफाई करने में मदद करता है। चित्र : शटरस्टॉक।

यही कारण है कि हल्दी वाला दूध भोजन और रसायनों को संसाधित करने के लिए लिवर की क्षमता में सुधार करता है और नियमित रूप से उन पदार्थों को त्यागता है जिनकी शरीर को आवश्यकता नहीं है। इस तरह, आप अपने शरीर को शुद्ध करती हैं।

यह भी पढ़ें: आपकी रसोई में मौजूद ये 4 मसाले कर सकते हैं डायबिटीज कंट्रोल, हम बता रहे हैं इस्‍तेमाल का तरीका

  1. शरीर में सूजन को कम कर सकता है

हल्दी का मुख्य घटक कर्क्यूमिन नामक एक पदार्थ है। विभिन्‍न शोध यह साबित करते हैं कि हल्दी में आम सूजन के उपचार के अलावा, गठिया, इन्फ्लेमेट्री बाउल डिजीज, पैंक्रियाटाइटिस और कई अन्य गंभीर समस्याओं का इलाज करने लिए एंटी-इन्फ्लेमेट्री गुण होते हैं।

गोल्डन मिल्क का एक गिलास पीने के बाद, इस ड्रिंक में मौजूद करक्‍यूमिन कुछ एंजाइमों को ब्लॉक करता है, जो शरीर में सूजन की अनुमति देते हैं। जिससे आपकी सूजन कम हो जाती है।

  1. बैक्टीरिया से मुकाबले में है मददगार

हल्दी वाले दूध का सेवन करने के बाद आपको एक एंटीबायोटिक बूस्ट प्राप्त होगा। अध्ययनों से पता चला है कि हल्दी में बैक्टीरिया, वायरस और कवक से लड़ने के लिए एंटीबायोटिक गुण होते हैं। जिससे यह सर्दी और गले में खराश के इलाज की फायदेमंद हर्ब है।

  1. कैंसर से बचाव में है मददगार

हल्दी आपके अंदर एक मजबूत एंटीऑक्सीडेंट के रूप में काम करती है। शोध से पता चलता है कि हल्दी शरीर में फ्री रेडिकल्स का निर्माण करने वाले ऑक्सीडेटिव तनाव को कम कर सकती है, जिससे कैंसर जैसी पुरानी बीमारी हो सकती है।

हल्दी वाला दूध कैंसर के जोखिम को कम करने में मदद करता है। चित्र-शटरस्टॉक।

यह न केवल कैंसर को रोकता है, बल्कि इससे लड़ भी सकता है। एक नए अध्ययन से पता चलता है कि जब आप हल्दी का सेवन करती हैं, तो आप कैंसर कोशिकाओं को खत्म कर सकती हैं। जिससे यह ट्यूमर के विकास को रोकने में मदद कर सकती है।

  1. वजन कम करने में मदद कर सकता है

हल्दी न केवल आपके चयापचय को बढ़ाती है, बल्कि यह आपके शरीर की वसा को तेजी से पचाने में भी मदद करती है। वजन घटाने के लिए हल्दी वाले दूध के फायदे सिर्फ यहीं खत्म नहीं होते, बल्कि हाल ही के एक अध्ययन से पता चलता है कि इसका नियमित रूप से सेवन करने से शरीर में वसा का जमाव नहीं होता। जिससे यह आपके आहार को गति देने वाला एक प्रभावी पदार्थ बन जाता है।

यह भी पढ़ें: सर्दियों में होने वाली 5 गंभीर समस्‍याओं का जोखिम कम करती है हरी प्‍याज, जानिए इसके स्‍वास्‍थ्‍य लाभ

  1. आपका दिल मजबूत और स्वस्थ रहेगा

हल्दी आपके शरीर में साइटोकिन्स रिलीज होने को प्रतिबंधित करेगा। साइटोकिन्स सूजन और हृदय रोग से संबंधित पदार्थ हैं। हर रात हल्दी वाला दूध पीने से दिल की समस्याओं के विकास को कम करने में मदद मिल सकती है।

विनीत विनीत

अपने प्यार में हूं। खाने-पीने,घूमने-फिरने का शौकीन। अगर टाइम है तो बस वर्कआउट के लिए।