विशेषज्ञ से जानिए कब है कोविड-19 से उबर चुके व्यक्ति के पास जाने का सही समय

आपके ठीक होने के बाद भी ओमिक्रोन वायरस कुछ समय तक बना रह सकता है। इसलिए आपके लिए यह जानना महत्वपूर्ण है कि किसी ऐसे व्यक्ति के करीब कब जाया जा सकता है, जिसे कोविड-19 हो चुका है।
kya hai covid - 19 patient se milne ka sahi samay
कोविड रिकवर मरीज से मिलने का सही समय. चित्र : शटरस्टॉक
टीम हेल्‍थ शॉट्स Published: 26 Jan 2022, 04:00 pm IST
  • 120

कोविड -19 और इसके वेरिएंट ओमिक्रोन जंगल की आग की तरह फैल रहे हैं। जहां लोग वायरस से पीड़ित हो रहे हैं, वहीं वे जल्द ठीक भी हो रहे हैं। भले ही हमारे जीवन में संक्रमण का डर वापस आ गया हो, लेकिन ठीक होने के बाद एक बात हैरान करने वाली है। किसी ऐसे व्यक्ति के आसपास कब जाया जा सकता है, जो हाल ही में कोविड -19 से उबरा हो।

क्या यह वाजिब सवाल है। आप में से अधिकांश लोग इसी बारे में सोच रहे होंगे। इसलिए आज मुंबई के वॉकहार्ट हॉस्पिटल्स के कंसल्टेंट फिजिशियन डॉ प्रीतम मून इस रहस्य को जानने में हमारी मदद करेंगे। चलिये जानते हैं इसके बारे में सब कुछ।

आप कितनी जल्दी कोविड-19 से रिकवर हुए व्यक्ति से मिल सकती हैं?

कोविड – 19 के बाद आइसोलेशन में रहते हुए काफी दिन हो जाते हैं। इसलिए यदि आपका कोई परिवार वाला इससे हाल ही में रिकवर हुआ है तो आपके लिए भी यह सवाल महत्वपूर्ण हो सकता है।

यदि हम सेंटर फॉर डिसीज कंट्रोल एंड प्रिवेंशन (CDC) के अनुसार कोई एक कारक निर्धारित नहीं कर सकता कि आप अपने मित्र, सहकर्मी या परिवार के किसी सदस्य के साथ फिर से कब मिल सकते हैं।

डॉ मून हेल्थशॉट्स को बताते हैं – “कोविड -19 या ओमिक्रोन लक्षण एक व्यक्ति से दूसरे व्यक्ति में भिन्न होते हैं। आपको सुरक्षित माना जाएगा यदि 10 दिन बीत चुके हैं और आप में सर्दी, खांसी, बुखार, गंध और स्वाद की कमी और शरीर में दर्द जैसे लक्षण दिखाई नहीं दे रहे हों।

kya hai covid patient se milne ka sahi samay kya hai
कब है कोविड-19 से उबर चुके व्यक्ति के पास जाने का सही समय
। चित्र : शटरस्टॉक

इसके अलावा, आप किसी भी तरह के कोविड मेडिकेशन पर न हों। यही वह समय होगा जब आप संक्रमित नहीं होंगे और न किसी को संक्रमित करने का डर होगा।”

विशेषज्ञ कहते हैं – “यहां तक ​​​​कि एसिम्टोमैटिक रोगी भी 10 दिनों के बाद अपने परिवार के सदस्यों और दोस्तों के आसपास रह सकते हैं। लेकिन अगर कोई इम्युनोकॉम्प्रोमाइज्ड है, उसे मधुमेह, रक्तचाप, किडनी या हृदय की समस्याएं हैं, तो बस सावधान रहें और डॉक्टर की मदद से खुद की निगरानी करें।”

कुछ लोगों को हल्का संक्रमण होता है जबकि कुछ लोग कोविड-19 से गंभीर रूप से संक्रमित हो सकते हैं। दोनों के लिए ठीक होने की अवधि दूसरे से भिन्न हो सकती है। अगर टेस्ट नेगेटिव आने के बाद भी आपको खांसी या जुकाम है, तो खांसी और जुकाम के गायब होने तक सभी सावधानियां बरतना सबसे अच्छा है।

डॉ मून की सलाह है – “यहां तक ​​​​कि अगर आप अपनी आइसोलेशन अवधि समाप्त कर लेते हैं, तो भी लोगों से सुरक्षित दूरी बनाए रखने की कोशिश करें और घर पर मास्क पहनें।”

यह सलाह उन लोगों को दें, जो अभी-अभी कोविड-19 से उबरे हैं

ऐसा न सोचें कि आपको फिर से कोविड-19 नहीं हो सकता। कई लोग नए वेरिएंट से भी संक्रमित हो रहे हैं।

अपनी रुचि के विषय चुनें और फ़ीड कस्टमाइज़ करें

कस्टमाइज़ करें

टीका लगवाएं और बूस्टर के लिए परामर्श लें। ऐसे मामले भी आए हैं जहां पूरी तरह से टीका लगाए गए लोग भी संक्रमित हो गए। शायद इसलिए कि उनकी पहले की खुराक की वैधता समाप्त हो सकती है।

सार्वजनिक स्थानों पर न जाएं

अपने घर को कीटाणुरहित करना न भूलें

इसलिए, यदि आपके परिचित परिवार या मित्र मंडली में कोई व्यक्ति अभी-अभी कोविड-19 या ओमाइक्रोन से उबरा है, तो उस व्यक्ति से मिलने की जल्दबाजी न करें। अपना समय लें और ओमाइक्रोन को खत्म होने दें। फिर, निश्चित रूप से, आप बिना किसी खतरे के उनसे मिल सकते हैं! लेकिन ध्यान रहे, मास्क लगाएं रखें और फिजिकल डिस्टेंसिंग का पालन करें।

यह भी पढ़ें ; पेट साफ करने में हो रही है दिक्कत, तो अपनाएं ये 4 आसान घरेलू उपाय

  • 120
लेखक के बारे में

ये हेल्‍थ शॉट्स के विविध लेखकों का समूह हैं, जो आपकी सेहत, सौंदर्य और तंदुरुस्ती के लिए हर बार कुछ खास लेकर आते हैं। ...और पढ़ें

अगला लेख