और पढ़ने के लिए
ऐप डाउनलोड करें

क्या आप भी कभी-कभी ज़्यादा हवा निगल लेती हैं? तो आपको एरोफैगिया हो सकता है

Published on:11 October 2021, 15:30pm IST
यदि आप हर समय हवा निगलती हैं, तो आपके एरोफैगिया से पीड़ित होने का जोखिम बढ़ जाता है। आपको इस स्थिति के बारे में जानने की जरूरत है।
टीम हेल्‍थ शॉट्स
  • 106 Likes
aerophagia ke karan
क्या आप भी कभी-कभी ज़्यादा हवा निगल लेती हैं? चित्र : शटरस्टॉक

आपने कितनी बार लोगों को यह कहते सुना है, “ज्यादा हवा न निगलें।” जब हम बात करते हैं, खाते हैं या हंसते हैं, तो हममें से ज्यादातर लोग हवा अपने अंदर ले लेते हैं। मगर कई लोग बिना जानें ऐसा करते रहते हैं। जब यही चीज़ कई बार होने लगती है, तो इसे एरोफैगिया (aerophagia) कहा जाता है। इसके लक्षणों में पेट फूलना, सूजन, डकार और पेट में भारीपन शामिल है।

आप इसे कैसे पहचान सकती हैं?

शोध के अनुसार, मनुष्य प्रतिदिन खाते या पीते समय लगभग दो क्वॉर्टर हवा निगलते हैं। इसका आधा भाग डकार के माध्यम से निकलता है। जबकि शेष छोटी आंत से होकर गुजरता है, और फिर शरीर से बाहर निकल जाता है। जिन लोगों को एरोफैगिया होता है, वे बहुत अधिक हवा निगलते हैं और कुछ असहज संकेतों और लक्षणों का अनुभव करते हैं।

ये हो सकती है पेट दर्द और सूजन के लिए जिम्मेदार

एलिमेंटरी फार्माकोलॉजी एंड थेरेप्यूटिक्स में प्रकाशित एक अध्ययन में पाया गया कि एरोफैगिया से पीड़ित 56 प्रतिशत लोगों ने डकार, 27 प्रतिशत सूजन और 19 प्रतिशत पेट दर्द और ब्लोटिंग की शिकायत की।

यह पेट दर्द के लिए जिम्मेदार है। चित्र: शटरस्‍टॉक

जर्नल केस रिपोर्ट्स इन गैस्ट्रोएंटरोलॉजी में प्रकाशित एक अन्य शोध से पता चला है कि यह दूरी सुबह कम होती है और पूरे दिन बढ़ती है। मर्क मैनुअल में कहा गया है कि हम दिन में लगभग 13 से 21 बार गैस पास करते हैं, लेकिन एरोफैगिया वाले लोगों में यह बहुत अधिक है।

क्या यह एरोफैगिया है या अपच?

कभी-कभी अपच और एरोफैगिया के बीच अंतर करना विशेष रूप से भ्रमित करने वाला होता है। क्योंकि कुछ लक्षण समान होते हैं। एलिमेंटरी फार्माकोलॉजी एंड थेरेप्यूटिक्स में प्रकाशित अध्ययन से पता चलता है कि अपच वाले लोगों में निम्नलिखित लक्षण देखने को मिलते हैं-:

जी मिचलाना
उल्टी
कम खाने पर भी पेट में भारीपन
वजन घटना

जानिए इसके क्या कारण हैं?

1. आपके सांस लेने और खाने-पीने का तरीका

यह वास्तव में मायने रखता है कि आप कैसे खाते, पीते और सांस लेते हैं। यदि आप इसे बहुत जल्दी करते हैं, तो यकीनन आप बहुत ज्यादा हवा निगल सकते हैं। यदि आप खाते समय बात करते हैं, कम चबाते हैं, स्ट्रॉ से पीते हैं, धूम्रपान करते हैं, अपने मुंह से सांस लेते हैं, ज़्यादा व्यायाम करते हैं, तो ऐसा होना तय है।

2. स्वास्थ्य समस्याएं

कुछ चिकित्सीय स्थितियों वाले लोगों में एरोफैगिया होने का खतरा अधिक होता है। उदाहरण के लिए, जो गैर-आक्रामक वेंटिलेशन (एनआईवी) से पीड़ित हैं। स्लीप एपनिया एक और स्थिति है, जिसमें सोते समय वायुमार्ग अवरुद्ध हो जाता है।

यह ज़्यादा खाने की वजह से भी हो सकता है। चित्र: शटरस्टॉक

ऐसे मामलों में, एक CPAP मशीन मास्क या ट्यूब के माध्यम से निरंतर वायुदाब प्रदान करती है। इस मशीन का उपयोग करने वाले अधिकांश रोगियों में अक्सर एरोफैगिया का खतरा अधिक होता है।

3. मानसिक स्वास्थ्य के मुद्दे

वयस्कों में एरोफैगिया नामक एक अध्ययन के अनुसार, यह पाया गया कि एरोफैगिया वाले 19 प्रतिशत लोगों को अपच के साथ एंग्जायटी भी थी। अमेरिकन जर्नल ऑफ गैस्ट्रोएंटरोलॉजी में प्रकाशित एक अन्य अध्ययन में एंग्जायटी और एरोफैगिया के बीच संबंध देखा गया।

इसका इलाज कैसे किया जाता है?

यदि आपके लक्षण बहुत ज्यादा बढ़ रहे हैं, तो डॉक्टर को दिखाना सुनिश्चित करें। लेकिन अपने कार्यों के प्रति थोड़ा और जागरूक बनें:

हवा निगलने के प्रति जागरूक बनें
धीमी सांस लेने का अभ्यास करें
तनाव और चिंता से निपटने के प्रभावी तरीके जानें
छोटे-छोटे बाइट लें और भोजन को ठीक से चबाएं
मुंह बंद करके खाएं
धूम्रपान, पेय या कार्बोनेटेड पेय न लें

यह भी पढ़ें : आज का हैंगओवर बरसों बाद भी परेशान कर सकता है, जानिए क्यों जरूरी है शराब पीने से बचना

टीम हेल्‍थ शॉट्स टीम हेल्‍थ शॉट्स

ये हेल्‍थ शॉट्स के विविध लेखकों का समूह हैं, जो आपकी सेहत, सौंदर्य और तंदुरुस्ती के लिए हर बार कुछ खास लेकर आते हैं।