एक एक्‍सपर्ट से समझिए क्‍यों जरूरी है 1 मई से सभी के लिए कोविड वैक्‍सीन लेना

1 मई से 18 साल से बड़ी उम्र के सभी लोगों के लिए वैक्‍सीन लेना जरूरी हो जाएगा। हम जानते हैं कि आपके मन में वैक्‍सीन को लेकर अब भी कुछ कंफ्यूजन है। इसलिए हम एक एक्‍सपर्ट को लेकर आए हैं।
कोरोना को हराने वाले लोगों की संख्‍या भी कम नहीं है। चित्र: शटरस्‍टॉक
Dr. Pritam Moon Published: 27 Apr 2021, 07:20 pm IST
  • 91

देश भर में बड़े पैमाने पर कोविड टीकाकरण अभियान जारी है। इसी अभियान के अंतर्गत 1 मई से अब 18 की उम्र और उससे बड़े सभी जन कोविड वैक्‍सीन ले पाएंगे। इसके लिए केंद्र और राज्‍यों ने सभी जरूरी तैयारियां करनी शुरू कर दी हैं। पर सबसे ज्‍यादा जरूरी है आपकी तैयारी। आपको इसके लिए कैसे तैयार होना है, इस बारे में एक्‍सपर्ट दे रहे हैं जरूरी सलाह।

ये आपकी इम्‍युनिटी के लिए है

बहुत से लोगों को लग रहा है कि अब कोरोना वायरस की वैक्सीन आ गई है, तो अब डरने की कुछ बात नहीं है। ऐसा मानते हुऐ कई लोग वैक्सीन लेने बाद मास्क पहने बिना घूमते दिखाई दे रहे है। लेकिन वैक्सीन लेने के बाद भी जरूरी सावधानियां आपको बरतनी चाहिए।

वास्‍तव में वैक्सीन लेने के बाद भी वायरस से संक्रमित होने का खतरा हो सकता है। इसलिए वैक्सीन लेने के बाद लापरवाही नहीं बरतनी चाहिए। वैक्सीन न लिए व्यक्ति‍ के संपर्क में आने से दोबारा कोविड-19 संक्रमण होने की संभावना अधिक होती है।

कोरोनावायरस के स्‍ट्रेन के संदर्भ में यह महत्‍वपूर्ण शोध है। चित्र: शटरस्‍टॉक

क्‍या कहते हैं विशेषज्ञ

वैक्सीन हमारे इम्यून सिस्टम को बाहरी खतरे से बचाती है। लेकिन कोरोना वैक्सीन दो बार लेनी पड़ती है। इन दोनों डोज में एक महीने का अंतर होना चाहिए। क्‍योंकि शरीर में इम्युनिटी के निर्माण में कुछ हफ्तों का समय लगता है। इस दौरान खुद का ध्यान रखना जरूरी है।

वैक्सीनेशन के बाद भी एहतियाती उपायों का पालन किया जाना चाहिए और सावधानियां बरती जानी चाहिए।

  • सार्वजनिक स्थल पर मास्क का इस्तेमाल जरूर करें।
  • समय-समय पर हाथ धोएं, सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करें।
  • वैक्सीनेशन के बाद सोशल डिस्टेंसिंग या कोरोना के नियमों की अनदेखी नहीं की जानी चाहिए। यह घातक साबित हो सकता है।

कोविड-19 वैक्सीन लेने से शरीर की रोगप्रतिरक्षा प्रणाली बढाने में मदद मिलती है। साथ ही इससे बीमारी के संक्रमण का खतरा कम होता है।

अब जानिए कोविड-19 वैक्सीन कैसे काम करती है

कोविड-19 वैक्सीन बॉडी के इम्यून सिस्टम को रोगों से लडाई के लिए तैयार करती है। वैक्सीन को वायरस के खिलाफ मानव शरीर को सुरक्षित रखने के लिए विकसित किया जाता है। वैक्सीन लगने के बाद इम्यून सिस्टम वायरस के हमले से सचेत हो जाता है और उसके बढ़ने से पहले ही मौजूद प्रतिरक्षा तंत्र उसे खत्म कर हमारी सुरक्षा करता है।

1 मई से सभी वयस्‍कों के लिए कोविड वैक्‍सीन शुरू हो जाएगी। चित्र: शटरस्‍टॉक
1 मई से सभी वयस्‍कों के लिए कोविड वैक्‍सीन शुरू हो जाएगी। चित्र: शटरस्‍टॉक

कोविड-19 वैक्सीन तभी पूरी तरह प्रभावित होगी जब इसकी दोनों डोज की प्रक्रिया पूर्ण कर ली जाएगी।
वैक्सीन की पहली डोज के बाद 28 वें दिन दूसरी डोज लेनी होगी। दूसरी डोज लेने के बाद ही वैक्सीन पूरी तरह से प्रभावी होगी। वैक्सीन लगवाने के बाद भी स्वास्थ्य का ध्यान रखना जरूरी है।
वैक्सीन लगने बाद दोबारा संक्रमण की भी आशंका होती है। यह तभी संभव हो सकेगा जब वायरस का ज्यादा हैवी लोड होगा, लेकिन ऐसा होने की उम्मीद बहुत कम रहती है।

यह भी पढ़ें – Proning : कोविड पॉजिटिव होने पर कैसे मददगार हो सकता उल्‍टे लेटना या पट पड़ के सोना

अपनी रुचि के विषय चुनें और फ़ीड कस्टमाइज़ करें

कस्टमाइज़ करें
  • 91
लेखक के बारे में

Dr. Pritam Moon is consultant physician, Wockhardt Hospital Mira Road ...और पढ़ें

अगला लेख