वैलनेस
स्टोर

पेट और सीने में जलन से राहत दिला सकते हैं ये 5 इंस्‍टेंट घरेलू उपाय

Published on:20 May 2021, 16:00pm IST
कभी ज्‍यादा खाने से तो कभी अन्‍य कारणों से पेट और सीने में जलन हो सकती है। इसके लिए आप कुछ इंस्‍टेंट उपाय कर सकती हैं।
अंबिका किमोठी
  • 101 Likes
दही का सेवन करने से पेट में जलन कम होती है। चित्र-शटरस्टॉक.

पेट में जलन एसिड रिफ्लक्स के कारण होती है। एसिड रिफ्लक्स यानी जब भोजन पेट के निचले हिस्से में पहुंचकर दोबारा ऊपर भोजन नली में आने लगता है। ये अधिक मोटापे, शराब और धूम्रपान का सेवन, हर्निया, अपच, पेट अल्सर और कुछ खास दवाइयों के कारण भी हो सकती है। तो आइए जानते हैं कि कैसे आप इन घरेलू उपचारों से पेट और सीन की जलन को कम कर सकते हैं।

1 मिक्‍स फ्रूट चाट

विशेषज्ञों का कहना है कि आहार में ताजे फल जैसे सेब, खुबानी, केला, कीवी, अनार और नाशपाती को शामिल करने से पेट की जलन कम होती है। इन फलों में फाइबर की मात्रा पाई जाती है और फाइबर पेट को एसिडिटी से बचाने में काफी सहायक होता। जर्नल ऑफ रिसर्च इन मेडिकल साइंस के एक शोध में पाया गया है कि फलों का सेवन एसिड रिफ्लक्स को कम करने में मदद करता, जिससे पेट की जलन से राहत मिलती है।

2 दही का रायता

दही का सेवन करने से पेट में जलन कम होती है। एनसीबीआई की वेबसाइट पर प्रकाशित एक शोध के अनुसार दही में एंटासिड गुण पाया जाता है, जो पेट में जलन और एसिडिटी से आराम दिलाने में मदद करता है।

रायता बनाने का तरीका

अच्छे परिणाम के लिए आप दही के रायते में खीरा भी डाल सकती हैं। सबसे पहले खीरे को अच्छे से धो लें, फिर खीरे को कद्दूकस करें। अब दही को बर्तन में डालें और उसी बर्तन में कद्दूकस किया खीरा और स्वादानुसार मसाले डालें। रायता तैयार है अब इसका सेवन करें।

3 ठंडे दूध का सेवन करें

ठंडे दूध का सेवन केवल पेट की जलन को ही नहीं, बल्कि सीने में हो रही जलन को भी दूर करता है। एनसीबीआई (नेशनल सेंटर फॉर बायोटेक्नोलॉजी इनफार्मेशन) के एक प्रकाशित शोध ये पाया गया है कि ठंडे दूध में एंटासिड (एसिडिटी को कम करने वाले) गुण होते हैं, जो हाइपर एसिडिटी को कम करते हैं। जिससे पेट की जलन में राहत मिलती है।

4 एलोवेरा जूस

शोध में पता चला है कि एलोवेरा जेल में एंथ्राक्विनोन पाया जाता है, जो प्राकृतिक रूप से आपके पेट को साफ करता है। ये आपकी आंत में पानी की मात्रा को बढ़ाता है और साथ ही कब्ज की दिक्कत को दूर करता है। वहीं आधा कप एलोवेरा जूस का सेवन करने से पेट की जलन कम हो जाती है।

एलोवेरा प्राकृतिक रूप से आपके पेट को साफ करता है। चित्र: शटरस्‍टॉक

एलोवेरा जूस बनाएं

एलोवेरा की हरी पत्ती लें फिर इसे अच्छी तरह से धो लें। अब एलोवेरा के अंदर से गूदे को अलग निकाल लें और उसे मिक्सर में अच्छी तरह ब्लेंड करें। फिर उसमें थोड़ा पानी डालकर दोबारा ब्लेंड करें। इसे एक गिलास में निकाल कर अपने स्वाद अनुसार शहद या नींबू मिलाकर अब इसका सेवन करें।

ध्यान दें कि गलती से भी इसका पीला रस जूस में न आने पाएं, क्योंकि ये स्लो पॉइजन होता है। इसलिए इसे बनाते समय हमेशा ध्यान दें।

ध्‍यान रहे

पेट में जलन कई वजह से हो सकती है। इसलिए किसी भी घरेलू उपाय को आजमाने से पहले डॉक्‍टर से परामर्श कर लें।

इसे भी पढ़े-द कपिल शर्मा शो की अभिनेत्री सुमोना चक्रवर्ती से जानिए एंडोमेट्रियोसिस से उनके संघर्ष की कहानी

अंबिका किमोठी अंबिका किमोठी

योगा, डांस और लेखनी, यही सफर के साथी हैं। अपनी रचनात्‍मकता में देखूं कि ये दुनिया और कितनी प्‍यारी हो सकती है।