और पढ़ने के लिए
ऐप डाउनलोड करें

हाथ-पैरों में होने वाले दर्द में राहत दिला सकते हैं ये 4 घरेलू उपाय

Published on:12 June 2021, 15:07pm IST
काम का दबाव, दिन भर की थकान और पोषण की कमी के कारण यदि आपके हाथ-पैरों या नसों में दर्द रहता है तो आप इन चार घरेलू उपायों को आजमा सकती हैं।
अंबिका किमोठी
  • 95 Likes
कई बार बहुत ज्यादा एक्सरसाइज से भी यह समस्या हो सकती है। चित्र-शटरस्टॉक.
कई बार बहुत ज्यादा एक्सरसाइज से भी यह समस्या हो सकती है। चित्र-शटरस्टॉक.

हाथ-पैरों में दर्द के कई कारण हो सकते हैं। पर कभी-कभी यह इतना सामान्या होता है कि आप इसे लगातार नजरंदाज करती रहती हैं। जबकि यह आपकी प्रोडक्टिविटी और नींद को भी प्रभावित कर सकता है। हर बार पेन किलर दवाओं पर भरोसा करने की बजाए क्यों न कुछ घरेलू उपाय अपनाए जाएं। क्योंकि इनसे आप दवाओं से होने वाले साइड इफेक्ट से भी बची रह सकती हैं।

इन तरीकों से आप नसों में दर्द को कर सकती हैं कंट्रोल

1 धीमी सांस वाली एक्सरसाइज करें

एनसीबीआई में प्रकाशित शोध के अनुसार रोजाना ब्रीथिंग एक्सरसाइज करना आपको हाथ-पैरों और नसों में होने वाले दर्द से छुटाकारा दिला सकती है। शोध के अनुसार धीमी गति से की गई ब्रीथिंग एक्सरसाइज ऑटोनॉमिक फंक्शन (नर्वस सिस्टम से जुड़ा) में सुधार का काम करती है। वर्तमान अध्ययन में 17-19 वर्ष के आयु वर्ग के युवा लोगों पर श्वास अभ्यास के प्रभाव का प्रदर्शन किया गया।

हल्की एक्सरसाइज ज़रूर करें, जैसे प्राणायाम । चित्र: शटरस्‍टॉक
हल्की एक्सरसाइज ज़रूर करें, जैसे प्राणायाम । चित्र: शटरस्‍टॉक

इसमें 60 मेडिकल छात्रों को दो समूहों में विभाजित किया गया। एक धीमी गति से सांस लेने वाला समूह (जो धीमी गति से सांस लेने के व्यायाम का अभ्यास करता था) और तेज़ सांस लेने वाला समूह (जो तेज़ सांस लेने के व्यायाम का अभ्यास करता था)।

तीन महीने की अवधि के लिए श्वास अभ्यास इन्होंने किया फिर सांस लेने के व्यायाम के अभ्यास से पहले और बाद में ऑटोनोमिक फंक्शन टेस्ट किया गया। जिसमें धीमी गति से सांस लेने वाले समूह में पैरासिम्पेथेटिक की गतिविधि बढ़ी हुई थी जबकि तेज सांस लेने वाले समूह में कोई परिवर्तन नहीं देखा गया।

2 ग्रीन टी का सेवन करें

ग्रीन टी का सेवन करने से नसों में होने वाले दर्द में भी राहत मिल सकती है। ये तंत्रिका तंत्र (नर्वस सिस्टम) के स्वास्थ्य को बढ़ावा देती है। इसमें एल-थीनिन होता है, जो मस्तिष्क के स्वास्थ्य के लिए काफी लाभकारी होती है। रोजाना दो से तीन कप ग्रीन टी आपको हाथ-पैरों और नसों में होने वाले दर्द से राहत दे सकती है।

3 नीलगिरी के तेल की मालिश करें

नसों के दर्द को कम करने में नीलगिरी का तेल लाभकारी होता है। आपको बस इस तेल को सूंघने भर की जरूरत होती है या आप इसे किसी अन्‍य तेल में मिलाकर इससे मालिश भी कर सकती हैं।

नसों के दर्द को कम करने में नीलगिरी का तेल लाभकारी होता है। चित्र: शटरस्‍टॉक
नसों के दर्द को कम करने में नीलगिरी का तेल लाभकारी होता है। चित्र: शटरस्‍टॉक

अदरक का तेल और लैवेंडर ऑयल भी नसों में तनाव और दर्द को दूर करने में लाभकारी होता है।

4 हल्दी का इस्तेमाल करें

हल्दी बहुत ही गुणकारी हर्ब है। आप हल्दी का इस्तेमाल तेल में मिलाकर या दूध में डालकर भी कर सकती है। हल्दी में एंटीऑक्सीडेंट और एंटीइन्फ्लेमेटरी गुण पाया जाता है, जो नस में हो रहे दर्द के लिए बहुत ही लाभकारी होता है। हल्दी पाउडर के साथ-साथ इसके तेल में भी एंटीऑक्सीडेंट गुण पाए जाते हैं।

नसों में दर्द की समस्‍या से निजात पाने के लिए ऊपर बताए गए सभी उपाय बहुत ही लाभकारी हैं। इसे अपनी सहुलियत और अपने डॉक्टर से मशविरा करने के बाद ही उपयोग में लाएं।

इसे भी पढ़ें-क्‍या आप जानती हैं कि ज्‍यादा कैफीन आपकी आंखों को भी नुकसान पहुंचा सकता है, जानिए इसका कारण

अंबिका किमोठी अंबिका किमोठी

योगा, डांस और लेखनी, यही सफर के साथी हैं। अपनी रचनात्‍मकता में देखूं कि ये दुनिया और कितनी प्‍यारी हो सकती है।