विश्व मलेरिया दिवस 2022: आपकी किडनी को नुकसान पहुंचा सकता है मलेरिया उपचार के घरेलू नुस्खे

किसी भी बीमारी पर अगर गलत एक्सपेरिमेंट किया जाए, तो वह बिगड़ सकती है। मलेरिया के बारे में भी यह सच है। विश्व मलेरिया दिवस 2022 पर, एक्सपर्ट उन नुस्खों के बारे में चेतावनी दे रहे हैं जो आपकी किडनी को प्रभावित कर सकते हैं।

janiye malaria kaise aapko kaise prabhavit karta hai
जानिए कैसे मलेरिया आपको प्रभावित करता है। चित्र : शटरस्टॉक
टीम हेल्‍थ शॉट्स Published on: 25 April 2022, 13:56 pm IST
  • 111

मलेरिया एक जानलेवा बुखार है। जो एक प्रकार के मादा मच्छर के काटने से होता है। यह नॉर्मल या गंभीर किसी भी स्थिति का हो सकता है। साधारण मलेरिया में रोगी को ठंड लगने या तेज बुखार आने का खतरा होता है। यदि समय पर मलेरिया का निदान और उपचार किया जाए, तो बीमारी जल्दी ठीक हो सकती है। मगर मलेरिया का घरेलू इलाज सावधानी से करना चाहिए। क्योंकि ये आपकी किडनी के लिए जोखिम कारक हो सकता है। विश्व मलेरिया दिवस (World Malaria Day 2022) पर जानें मलेरिया (Malaria) और उसके उपचार (Malaria treatment) का सही तरीका।

मलेरिया के प्रकार (Types of Malaria)

1 प्लाज्मोडियम विवैक्स (Plasmodium Vivax)

2 प्लाज्मोडियम फाल्सीपेरम (Plasmodium falciparum)

फाल्सीपेरम किस्म गंभीर जटिल मलेरिया का कारण बन सकती है। प्रभावित व्यक्ति सेरेब्रल मलेरिया से पीड़ित हो सकता है। जिसमें रोगी उच्च श्रेणी के बुखार, सिरदर्द, दौरे पड़ने का शिकार हो सकता है और वे कोमा में भी जा सकता है। फाल्सीपेरम मलेरिया शरीर में एक बीमारी के अलावा अन्य कई अंगों में शिथिलता का भी कारण बन सकता है। इसमें रोगी को आईसीयू और वेंटिलेटर पर रहने तक की नौबत आ सकती है। क्योंकि मलेरिया का यह प्रकार फेफड़े, लिवर और किडनी फेलियर का कारण भी बन सकता है।

यहां जानिए मलेरिया का किडनी पर दुष्प्रभाव

ऐसे कई तरीके हैं जिनसे मलेरिया गुर्दे को गंभीर रूप से प्रभावित कर सकता है। बुखार, दस्त या उल्टी और गंभीर डिहाइड्रेशन के कारण किडनी फेलियर भी हो सकता है। गंभीर जटिल मलेरिया में, गुर्दे में चोट लग सकती है, क्योंकि मलेरिया परजीवी, गुर्दे में फिल्टर पर हमला करते हैं।

ऐसे मामलों में जहां मलेरिया के कारण कई अंगों में खराबी आ सकती है, शरीर में निम्न रक्तचाप और विषाक्त पदार्थों के कारण गुर्दे प्रभावित हो सकते हैं। यदि रोगी को गुर्दे में गंभीर चोट लगी हो, तो कभी-कभी अस्थायी रूप से डायलिसिस की आवश्यकता हो सकती है।

गुर्दे की चोट को रोकने का सबसे अच्छा तरीका है कि मलेरिया का शीघ्र निदान और उपचार किया जाए। बुखार और शरीर में दर्द के लिए पेनकिलर जैसे उपचार से किडनी को सीधी चोट लग सकती है। डिहाइड्रेशन और मलेरिया दोनों किडनी की समस्या का कारण बन सकते हैं।

malaria ka ilaaj ho raha hai prabhavit
मच्छरों के साथ ही मलेरिया का भी जोखिम बढ़ने लगा है। चित्र: शटरस्टॉक

कभी-कभी यह हल्के बुखार के रूप में शुरू हो सकता है और यदि रोगी टेस्ट के लिए नहीं जाता है और समय पर इलाज शुरू नहीं करवाता है, तो मलेरिया सभी अंगों को नुकसान पहुंचा सकता है। यदि इलाज में देरी हुई तो गुर्दे खराब भी हो सकते हैं।

मलेरिया होने पर किडनी को सुरक्षित रखने के टिप्स

1. ऐसी कोई भी दवा न लें जो डॉक्टर द्वारा निर्धारित नहीं की गई हो।

2. बुखार के मामले में, अपने आप को अच्छी तरह से हाइड्रेट करें और बुखार का कारण जानने के लिए परीक्षण करवाएं क्योंकि इसके इलाज से आप जटिलताओं से बच सकते हैं।

3. यदि मलेरिया का पता चले, तो अपने चिकित्सक के मार्गदर्शन में तुरंत उपचार शुरू करें।

4. कभी-कभी, डॉक्टर अस्पताल में भर्ती होने का सुझाव दे सकते हैं। यदि आपके लक्षण गंभीर या जटिल मलेरिया के हैं, तो देर न करें, समय पर आवश्यक उपचार शुरू करें।

5. बुखार या एक मलेरिया की स्थिति में वैकल्पिक उपचार और पेन किलर से बचें, क्योंकि यह गुर्दे को तेजी से नुकसान पहुंचा सकता है।

यह भी पढ़ें : हेल्दी हार्ट के लिए इस मौसम में बनाएं लो कैलोरी मैंगो-मिंट कूलर रेसिपी और गर्मी की कर दें छुट्टी

  • 111
लेखक के बारे में
टीम हेल्‍थ शॉट्स टीम हेल्‍थ शॉट्स

ये हेल्‍थ शॉट्स के विविध लेखकों का समूह हैं, जो आपकी सेहत, सौंदर्य और तंदुरुस्ती के लिए हर बार कुछ खास लेकर आते हैं।

पीरियड ट्रैकर

अपनी माहवारी को ट्रैक करें हेल्थशॉट्स, पीरियड ट्रैकर
के साथ।

ट्रैक करें
nextstory