सादा पानी लगता है बेस्वाद? तो इस गर्मी खुद को हाइड्रेटेड रखने के लिए पिएं हर्बल वॉटर

Published on: 24 March 2022, 09:30 am IST

गर्मी के मौसम में खुद को एक्स्ट्रा हाइड्रेटेड रखना बहुत आवश्यक है। लेकिन अगर आपको सादा पानी पीना कठिन लगता है, तो उसमें कुछ बेहतरीन हर्ब्स की अच्छाई और स्वाद जोड़ें।

Herbal water ka sewan kare aur uska labh uthaye
हर्बल वॉटर का सेवन करें और उसका लाभ उठायें। चित्र:शटरस्टॉक

गर्मी का मौसम आ गया है और आप में से जो लोग एक साथ गर्मी और प्रदूषण की दोहरी बुराइयों का सामना कर रहे हैं, उनके लिए कुछ सावधानियां बरतना आवश्यक हो जाता है। चूंकि गर्मियों के कारण तापमान बढ़ जाता है, लोग अधिक इनडोर गतिविधियों का विकल्प चुनते हैं और स्विमिंग पूल के किनारे ठंडे ड्रिंक्स का आनंद लेना पसंद करते हैं। साथ ही बाहर निकलते समय, यह सुनिश्चित करना आवश्यक है कि आप अपने आप को भीषण गर्मी से बचाने के लिए पूरी तरह से तैयार हैं।

सनग्लासेज, टोपी और अपने चेहरे को सनस्क्रीन और स्कार्फ से ढकने के अलावा, एक पानी की बोतल भी गर्मियों में जरूरी है। इससे आप हर समय हाइड्रेटेड रह सकते हैं। लेकिन क्या आप सादे पानी से भरी बोतल का सेवन करना पसंद करते हैं? यह प्यास बुझा सकता है लेकिन आपके टेस्ट बड्स के लिए इतना काफी नहीं है। इसलिए अगर आप पानी की बोतलों को अपने साथ रखना पसंद करते हैं, तो इसमें कई प्रकार के हाइड्रेटिंग हर्ब्स,फल और सब्जियों के स्लाइस मिला सकते हैं।

क्या होता हैं हर्बल पानी? (What is herbal water?)

हर्बल पानी बनाना उतना ही आसान है जितना कि पानी के घड़े में जड़ी-बूटी, फलों और सब्जियों का मिश्रण करना। पानी में मिलने वाली सामग्री के संभावित कॉम्बिनेशन अंतहीन हैं, और उनमें कैमोमाइल और कीवी, लैवेंडर और स्ट्रॉबेरी जैसे स्वाद भी शामिल हो सकते हैं।

Body detoxification ke liye herbal water
बॉडी डिटॉक्सिफिकेशन के लिए हर्बल वॉटर। चित्र- शटरस्टॉक

ताजा चुनी हुई जड़ी-बूटियों और फलों के साथ, यह पानी गर्मी के मौसम में आपको हाइड्रेटेड रखने के साथ स्वादिष्ट भी लगता है। गर्मियों में पानी बनाने के लिए तरबूज, जामुन और नींबू के स्लाइस जैसे फलों का उपयोग किया जा सकता है। ये पानी मौसमी खाद्य पदार्थों के पोषक तत्वों को प्रदान करता है। यह सुनिश्चित करता है कि शरीर को आवश्यक खनिजों और विटामिनों की कमी नहीं होनी है।

कुछ जड़ी-बूटियां और मसाले हैं जिन्हें इन पानी में मिलाया जा सकता है और पुदीना एवं तुलसी उनमें से विशेष है। अपनी पानी की बोतल में पुदीने या तुलसी की कुछ पत्तियां डालने से आपके पीने के पानी में थोड़ा सा स्वाद जोड़ने में मदद मिल सकती है। साथ ही इसकी शीतलन क्षमता भी बढ़ सकती है।

जानिए पानी में तुलसी और पुदीना मिलाने के फायदे

1. तुलसी (Basil)

आधुनिक दवाओं के युग में, जहां कोई छोटी-मोटी बीमारियों को भी ठीक करने के लिए गोली लेने के लिए दौड़ता है, यह सोचकर अच्छा लगता है कि अगर हमारी दादी-नानी भी ऐसा ही करतीं। शायद ऐसा नहीं होता। लेकिन वे दिन अलग थे, लोग स्वाभाविक रूप से स्वस्थ थे और उनमें इम्युनिटी मजबूत थी। हो सकता है कि उन्होंने कुछ अलग किया हो?आयुर्वेदिक जड़ी-बूटी का पानी एक सामान्य प्राचीन प्रथा है जिसका उपयोग प्राकृतिक चिकित्सक बीमार शरीरों को ठीक करने के लिए वर्षों से करते आ रहे हैं।

तुलसी को पवित्र माना जाने के साथ-साथ औषधीय गुणों के लिए भी जाना जाता है। पत्तियों को पानी में भिगोने से त्वचा के लिए चमत्कारी प्रभाव पड़ता है और कई स्वास्थ्य समस्याओं को ठीक करता है।

इसमें एंटीबायोटिक (antibiotic), एंटी-फंगल (antifungal) और जीवाणुरोधी (antimicrobial) गुण होते हैं जो बुखार और सर्दी को रोकने में मदद करते हैं और आपकी त्वचा एवं बालों को भी स्वस्थ रखते हैं।

Paani mein tulsi patta daale
पानी में तुलसी पत्ता डालें। चित्र:शटरस्टॉक

तुलसी का पानी एक बेहतरीन मूत्रवर्धक के रूप में काम करता है और किडनी के लिए भी डिटॉक्सीफाई करता है।

यह रक्त में यूरिक एसिड के स्तर को कम करने में मदद करता है और गुर्दे को और अधिक साफ करता है।

2. पुदीना (Mint) 

हालांकि सादा पानी अपने आप में आपके शरीर को हाइड्रेट रखने के लिए पर्याप्त है। लेकिन पानी जीवन देने वाले तरल की डिटॉक्सिंग क्षमताओं को बढ़ाने का एक शानदार तरीका है। अगर आपको फल या सब्जियों के पानी का स्वाद पसंद नहीं है, तो आप पानी की बोतल में कुछ पुदीने की पत्तियां मिला सकते हैं। पुदीने में एक मजबूत ताज़ा स्वाद होता है। लेकिन यह आपके पीने के पानी में कोई विशिष्ट स्वाद नहीं देता है। इसके फायदों में शामिल है:

1. त्वचा को तरोताजा रखता है (Keeps your skin fresh) 

मिंट में एंटी-इंफ्लेमेटरी गुण होते हैं और यह गर्मियों के दौरान आपकी त्वचा को तरोताजा और स्वस्थ रखने में मदद कर सकता है।

2. गर्मियों के पिंपल्स से लड़ता है (Fights pimples) 

इस मौसम के दौरान, बहुत से लोगों को अत्यधिक तेल जमा होने और पिंपल्स की समस्या का सामना करना पड़ता है। पुदीना अपने एंटी-बैक्टीरियल गुणों के कारण मुंहासों को दूर रखने में मदद करता है।

3. पाचन समस्याओं को दूर रखता है (Reduces digestion problems)

ग्रीष्मकाल वह समय होता है जब बहुत से लोग पेट में अत्यधिक एसिड की शिकायत करते हैं। पुदीने में यौगिक मेन्थॉल की मौजूदगी इसे पाचन तंत्र के लिए सुखदायक बनाती है और आपके पेट को स्वस्थ रखती है।

जानिए पानी के साथ कुछ अन्य संभावित कॉम्बिनेशन

  1. अनार
  2. तरबूज
  3. गुलाब की पंखुड़ियां
  4. कैमोमाइल
  5. कीवी
  6. खीरा
  7. सौंफ
  8. संतरे का छिलका
  9. स्ट्रॉबेरी
pudina kayi swasthya samsya se raahat deta hai
पुदीना पेट दर्द, पीरियड क्रैंप्स , ऐंठन और ब्लॉटिंग जैसी समस्याओं से निजात दिलाता है। चित्र : शटरस्‍टॉक

कोई भी हर्बल पानी बनाने के लिए इन आसान स्टेप्स का पालन करें

  1. अपनी पसंद के घड़े में पानी भर लें।
  2. अब अपनी पसंद की 5 टहनी, ताजी कटी हुई जड़ी-बूटियां डालें।
  3. खुद के पसंद के ½ कप पतले कटे हुए फल डालें।
  4. सामग्री को पीने से पहले 1 घंटे तक पानी में रहने दें। परोसने से पहले आपको सामग्री को पानी से निकालने की जरूरत नहीं है।
  5. वास्तव में, जितनी देर आप उन्हें रहने देंगे, स्वाद उतना ही बेहतर होगा।
  6. जड़ी-बूटियों का पानी लगभग 24 घंटे तक रेफ्रिजरेटर में रहेगा।

सारांश

पूरे दिन हाइड्रेट रहने का एक शानदार तरीका है सुबह हर्बल पानी का सेवन करना। इसलिए लेडीज, इस गर्मी के मौसम में चीनी युक्त ड्रिंक्स या अन्य कार्बोनेटेड ड्रिंक की मदद से प्यास बुझाने के बजाए इन हर्बल वॉटर के स्वाद और पोषण तत्वों का आनंद लें।

यह भी पढ़ें: अगर आप डाउन सिंड्रोम से पीड़ित बच्चे के पेरेंट्स हैं, तो ये 13 जरूरी बातें हैं आपके लिए

अदिति तिवारी अदिति तिवारी

फिटनेस, फूड्स, किताबें, घुमक्कड़ी, पॉज़िटिविटी...  और जीने को क्या चाहिए !

स्वास्थ्य राशिफल

ज्योतिष विशेषज्ञ से जानिए क्या कहते हैं आपकी
सेहत के सितारे

यहाँ पढ़ें