स्मोकिंग छोड़ने की आपकी राह मुश्किल बना सकते हैं ये 9 मिथ्स, इनसे दूर रहना है जरूरी

अपनी धूम्रपान की आदत को छोड़ना कठिन हो सकता है, और लोग कई मिथ के कारण इससे पीछे हट जाते हैं। डॉक्टर बता रहे हैं कि आपको इन मिथ्स में क्यों नहीं पड़ना चाहिए।
Smoking se hota hai lips pigmentation.
स्मोकिंग बन सकती है लिप्स पिगमेंटेशन का कारण। चित्र: शटरस्‍टॉक
टीम हेल्‍थ शॉट्स Published: 29 Jan 2022, 14:00 pm IST
  • 119

आप में से अधिकांश, घबराहट, चिंता और यहां तक ​​कि तनाव महसूस करते हैं, तो आसानी से सिगरेट पीने के लिए स्विच कर लेते हैं। यह सोचते हुए कि आराम करने का यही एकमात्र तरीका है। सच है न?  आप अकेले नहीं हैं, जो मानते हैं कि धूम्रपान तनाव को दूर कर सकता है। इसे मानने वाले बहुत से लोग हैं। यह एक मिथ है जिस पर लोग विश्वास करना पसंद करते हैं। असल में यह उन्हें सूट करता है।

वास्तव में, धूम्रपान के आसपास कई मिथ्स हैं

धूम्रपान के दुष्परिणामों से हम सभी वाकिफ हैं। सिगरेट का पैकेट भी जोर-जोर से बताता है कि धूम्रपान स्वास्थ्य के लिए हानिकारक है। फिर भी, हम इसे छोड़ने में सक्षम नहीं हैं। कुछ लोगों को चेतावनी दी जाती है कि धूम्रपान तुरंत छोड़ने से वजन बढ़ सकता है। ऐसे और भी कई मिथ हैं जिन पर लोग विश्वास करते हैं।

फोर्टिस अस्पताल शालीमार बाग के विकिरण ऑन्कोलॉजी में निदेशक और विभागाध्यक्ष डॉ विनीता गोयल का कहना है कि धूम्रपान सबसे बड़ा जोखिम है जो एक व्यक्ति की जान ले सकता है। 

फिर भी, लाखों लोग अपने जीवन के हर एक दिन जोखिम लेने का विकल्प चुनते हैं, क्योंकि धूम्रपान करने वालों के पास सिगरेट के बारे में गलत धारणाएं हैं। जो उन्हें अपने फैसले के खिलाफ धूम्रपान जारी रखने के लिए मजबूर करती हैं।

हालांकि, यदि आप सिगरेट को अलविदा कहना चाहते हैं, तो यह वह समय है जब आप वास्तविकता का सामना करते हैं।

यहां धूम्रपान के बारे में कुछ भ्रामक धारणाएं और उनके बारे में तथ्य दिए गए हैं:

1.फिल्टर सिगरेट को सुरक्षित बनाते हैं

यह साबित करने के लिए कोई अध्ययन नहीं है कि फिल्टर सिगरेट वास्तव में सुरक्षित है। यह एक मिथ है कि लोग मानते हैं कि फिल्टर सिगरेट को बिना फिल्टर वाली सिगरेट पीने से ज्यादा सुरक्षित बनाते हैं।  

हम आपके लिए धूम्रपान से जुड़े इन मिथ को खारिज कर रहे है। चित्र : शटरस्टॉक

तथ्य यह है कि फिल्टर किसी भी व्यक्ति को सिगरेट में मौजूद रसायनों से नहीं बचाते। डॉ गोयल कहते हैं, “वे धुएं के कणों को छोटा बनाने के लिए डिज़ाइन किए गए हैं, जिससे निकोटीन को अवशोषित करना आसान हो जाता है। और इससे नशा बढ़ता है।”

2.अगर आप धूम्रपान छोड़ देते हैं, तो आपका वजन बढ़ जाएगा

क्या आप उन लोगों में से हैं, जो धूम्रपान नहीं छोड़ना चाहते हैं क्योंकि यह कैलोरी जलाने में मदद करता है। जिससे आपको वजन कम करने में मदद मिलती है? खैर, सिगरेट में मौजूद सक्रिय घटक, निकोटीन ऊर्जा की खपत को बढ़ावा देने और भूख को कम करने में मदद करता है। 

यही कारण है कि आप इसे छोड़ने के बाद वजन बढ़ाते हैं। जब आप धूम्रपान छोड़ देते हैं, तो आपकी भूख कम नहीं होती है और आप अधिक खा सकते हैं। जिससे वजन बढ़ सकता है।  हालांकि, वजन बढ़ना धूम्रपान छोड़ने का जरूरी परिणाम नहीं है।

3.धूम्रपान तनाव को दूर करने में मदद करता है

क्या आप भी अपने तनाव को संभालने के लिए धूम्रपान करते हैं? यदि हां, तो यह आपकी मदद करने वाला नहीं है। क्योंकि धूम्रपान करने से तनाव कम नहीं होता, बल्कि यह तनाव और बढ़ा सकता है। हां यह सच है।  

अपनी रुचि के विषय चुनें और फ़ीड कस्टमाइज़ करें

कस्टमाइज़ करें

डॉ गोयल के अनुसार, निकोटीन तत्काल विश्राम की भावना पैदा करता है। इसलिए लोग इस विश्वास में धूम्रपान करते हैं कि यह तनाव और चिंता को कम करता है। लेकिन यह प्रभाव हमेशा के लिए नहीं रहने वाला है, यह अस्थायी है। वास्तव में, इससे आपकी सिगरेट पीने की लत बढ़ेगी।”

4.कभी-कभी धूम्रपान आपको नुकसान नहीं पहुंचाएगा

आप गलत हैं, यदि आप मानते हैं कि कभी-कभार सिगरेट पीना हानिरहित है। हर बार जब आप सिगरेट पीते हैं, तो यह आपके दिल, फेफड़ों और आपके पूरे शरीर की कोशिकाओं को नुकसान पहुंचा सकती है। ध्यान रखें कि तंबाकू का कोई सुरक्षित रूप नहीं है और तंबाकू के धुएं के संपर्क में आने का कोई सुरक्षित स्तर नहीं है।

5.इलैक्ट्रॉनिक सिगरेट सुरक्षित हैं

 तंबाकू का कोई सुरक्षित रूप नहीं है। ई-सिगरेट भी नहीं, जिसे वेपिंग भी कहा जाता है। सिगरेट की तरह, ई-सिगरेट में भी तरल के रूप में निकोटीन और अन्य जहरीले रसायन होते हैं। यह एक हानिकारक और नशे की लत वाली दवा है, जो आपके स्वास्थ्य को कई तरह से प्रभावित कर सकती है। 

डॉ गोयल कहते हैं, “यह किसी व्यक्ति को फेफड़ों के कैंसर के विकास के अधिक जोखिम में डाल सकता है।”

6.धूम्रपान करने वाली गर्भवती महिलाओं के लिए मुख्य जोखिम समय से पहले प्रसव है

pregnancy me khatarnak hai smoking
प्रेग्नेंसी प्लान करने से पहले ही स्मोकिंग छोड़ दें, क्योंकि सिगरेट आपके लिए बहुत खतरनाक है। चित्र: शटरस्टॉक।

यह एक ज्ञात तथ्य है कि धूम्रपान से महिला के लिए गर्भधारण करना कठिन हो जाता है। इससे एक महिला के लिए कभी भी गर्भवती न होने का खतरा बढ़ सकता है। इसके साथ ही न केवल समय से पहले प्रसव, बल्कि धूम्रपान से गर्भपात, अस्थानिक गर्भावस्था, जन्म के समय कम वजन और फटे होंठ/तालु का खतरा भी बढ़ सकता है।

7.धूम्रपान से बोरियत दूर होती है

हम पहले ही एक मिथ का भंडाफोड़ कर चुके हैं कि धूम्रपान आपके तनाव को कम करने में मदद नहीं करता है, बल्कि यह वास्तव में आपकी चिंता और तनाव को बढ़ा सकता है। तो अपनी बोरियत से राहत पाने के लिए धूम्रपान की ओर न बढ़ें। 

यह असल में आपकी बोरियत दूर कर आपको एक लत में डाल सकता है। जिससे छुटकारा पाने के लिए आपको काफी संघर्ष करना पड़ सकता है। 

 8.धूम्रपान रहित तंबाकू सिगरेट की तुलना में स्वास्थ्यवर्धक है

डॉ गोयल के अनुसार “यह बिल्कुल गलत है, क्योंकि धूम्रपान रहित तंबाकू अभी भी तंबाकू है, जो अन्य पदार्थों के साथ निकोटीन प्रदान करता है जिन्हें कैंसर का कारण माना जाता है।” 

9.मेरा धूम्रपान (सेकेंड हैंड स्मोक) मेरे आस-पास के किसी व्यक्ति को प्रभावित नहीं करता है

सेकेंड हैंड स्मोकिंग (SHS) जिसे पैसिव या अनैच्छिक स्मोकिंग के रूप में भी जाना जाता है, उतना ही जोखिम भरा है। SHS आपके फेफड़ों के कैंसर, दिल का दौरा या स्ट्रोक और अन्य गंभीर बीमारियों के जोखिम को भी बढ़ा सकता है। इसलिए यदि आप इसे अपने लिए नहीं छोड़ना चाहते हैं, तो इसे अपने परिवार या दोस्तों के लिए छोड़ दें।

 तो इन भ्रांतियों के झांसे में न आएं और जल्द से जल्द स्मोकिंग छोड़ने के लिए दृढ़ संकल्प हों।

यह भी पढ़े :क्या दिवास्वप्न है कोविड मुक्त दुनिया? जानिए इस बारे में क्या कहते हैं दुनिया भर के विशेषज्ञ

  • 119
लेखक के बारे में

ये हेल्‍थ शॉट्स के विविध लेखकों का समूह हैं, जो आपकी सेहत, सौंदर्य और तंदुरुस्ती के लिए हर बार कुछ खास लेकर आते हैं। ...और पढ़ें

अगला लेख