ये 7 पॉवरफुल योग मुद्राएं आपके लटके हुए स्‍तनों को ला सकती हैं शेप में

इससे कोई फर्क नहीं पड़ता कि आपके सैगी स्तनों का कारण क्या है, बस आप योग की ये 7 मुद्राएं करें और अपने स्‍तनों को वापस अपनी उसी शेप में ले आएं।
यह जरूरी है कि आप अपनी ब्रेस्‍ट का परीक्षण करती रहें। चित्र : शटरस्टॉक
यह जरूरी है कि आप अपनी ब्रेस्‍ट का परीक्षण करती रहें। चित्र : शटरस्टॉक
टीम हेल्‍थ शॉट्स Updated: 10 Dec 2020, 13:10 pm IST
  • 94

झुर्रियों और फाइन लाइंस की तरह, स्तनों का ढीलापन भी हर महिला के शरीर में होने वाले प्राकृतिक परिवर्तनों का एक हिस्सा हैं। हालांकि कई बार अचानक वजन घटने, सपोर्ट ब्रा पहने बिना व्‍यायाम करने, धूम्रपान, और मल्‍टीपल प्रेगनेंसी के कारण कई बार स्‍तन उम्र से पहले ही लटकने लगते हैं।

यदि आप समय से पहले इस बदलाव का शिकार हाे  चुकी हैं, तो योगा प्रोफेशनल  और पोषण विशेषज्ञ परमिता सिंह द्वारा सुझाए गए 7  पॉवरफुल योग मुद्रा को आपको जरूर करना चाहिए। ये आपके लटके हुए स्‍तनों को वापस शेप में आने में मददगार हो सकते हैं।

यकीन करें यह मुमकिन है:

1 भुजंंगासन या कोबरा पोज

यह फेफड़ों को मजबूत बनाकर, पेट की मांसपेशियों और आपकी छाती को सपोर्ट प्रदान करनेे का   काम करता है।

yoga for saggy breasts
भुजंगासन। चित्र : शटरस्टॉक

तो, इसके लिए आपको अपनी छाती और पेट के बल लेटना है और गहराई से श्वास लें। अब, धीरे धीरे उठें। अपनी बाहों की मदद से, ऐसे कि आपके शरीर का सारा भार आपके हाथों पर आ जाए। अपने सिर को ऊपर उठाएं जैसे कोबरा हुड। धीरे-धीरे 5 मिनट से 10 मिनट तक आप इस मुद्रा में होल्‍ड करें और वापस अपनी स्थिति में आ जाएं।

2 वृक्षसन या ट्री पोज

एक पेड़ की तरह लंबाई और मजबूती में खड़े होने वाली यह मुद्रा आपके स्तनों की ढीली मांसपेशियों को मजबूत करने और उन्हें आकार में लाने में मदद कर सकती है। आपको बस इतना करना है कि इसे एक अच्छे खिंचाव के साथ जितनी देर हो सके इस मुद्रा में रहें।

yoga for saggy breasts
वृक्षासन । चित्र : तेजिंदर कौर

सीधी खड़ी हो जाएं और अपनी बाहों को अपने सिर से ऊपर उठाएं और उन्हें नमस्‍कार की मुद्रा में जोड़ लें। अब, अपने बाएं पैर को उठाकर, अपने दाहिने पैर पर पूरे शरीर का वजन डालते हुए अपनी दाहिनी जांघ के अंदरूनी हिस्‍से पर टिकाएं। अपनी बाहों को ऊपर की तरफ बढ़ाएं और सांस लें। इस मुद्रा में 30 सेकंड के लिए रहें और इसी तरह दूसरे पैर के साथ अगला चरण दोहराएं।

3 धनुरासन या बो पोज

अपने स्तनों को वापस आकार में लाने के अलावा, यह आपको पीठ दर्द से छुटकारा दिलाने में भी मदद कर सकता है।

yoga for saggy breasts
धनुरासन। चित्र : शटरस्टॉक

अपने पेट के बल लेट जाएं और अपने फेफड़ों से हवा को निकालें। अपने घुटनों को उठाते हुए और धीरे-धीरे उन्हें अपने सिर के करीब लाएं। अपने टखनों को पकड़ेें और सांस लें। जितना संभव हो सके हाथों से अपने पैरों को खींचने की कोशिश करें। अपने पेट पर संतुलन स्‍थापित करें और 30 सेकंड के लिए इस आसन में रहने की कोशिश करें।

4 वीरभद्रसाना या वारियर पोज

यह आपकेे वक्ष को बढाने और इसे लोचदार बनाने के साथ ही आपकी ताकत को भी बढ़ाएगा।

अपनी रुचि के विषय चुनें और फ़ीड कस्टमाइज़ करें

कस्टमाइज़ करें
yoga for saggy breasts
वीरभद्रासन। चित्र : स्‍वाति कैन

अपने पैरों को एक-दूसरे के समानांतर रखते हुए खड़ी हो जाएं। अपने बाएं पैर को बाएं तरफ और दाएं पैर के अंदर घुमाएं। अपने बाएं घुटने को निकालें और मोड़ें। जमीन के समानांतर, अपने दोनों हाथों को उठाएं, अपने सिर को बाईं तरफ घुमाएं, और अपनी कलाई को देखें। अब इसे 7 से 10 बार दोहराएं और दाईं ओर इसका अभ्यास करें।

5 उस्ट्रासाना या केमल पोज

यह आसन आपके वक्ष, निचले पेट, इंग्‍यूनल एरिया और जांघों को फैलाता है। यह चेस्‍ट ओपनर पोज है जो फेफड़ों में हवा की मात्रा बढ़ाने में मददगार होता है। और उन्‍हें मजबूती देता है।

अपने घुटनों के बल खड़े हो जाएं और अपने पैरों को एक साथ खींचें। धीरे-धीरे, अपने हाथों को अपनी एड़ी पर रखते हुए पीछे मुड़ें। अपनी पीठ को आर्क करें और अपनी पसलियों को फैलाएं। फर्श की तरह अपना सिर झुकांए और इसी मुद्रा में 30 सेकंड के लिए रहने की कोशिश करें।

6 त्रिकोणासन या ट्रायएंगल पोज

यह आपके वक्ष को फैलाकर उसे मजबूत बनाएगा। आपकी रीढ़ को स्‍ट्रैच करेगा और शरीर में रक्त प्रवाह में सुधार लाएगा।

अपने पैरों को फैला कर खड़ी हो जाएं। बांए पैर को फैला कर 90 डिग्री का कोण बनाएं और दाएं पैर को 15 डिग्री पर रखें। अब बाएं हाथ से बाएं पैर को छूने की कोशिश करें और दायां हाथ सीधे उपर की ओर खींचे, जिससे दोनों हाथ एक सीधी रेखा में आ जाएं। इस दौरान अपने घुटनों और रीढ़ को सीधे रखें।

अपना चेहरा मोड़ें, अपनी उंगलियों को देखें और फि‍र यही मुद्रा दूसरे पैर पर भी दोहराएं।

7 चक्रासन या व्‍हील पोज 

यह आपको अपने थोरैक्स, रीढ़ और गर्दन को फैलाने में मदद करता है। थकान को कम करता है और सिरदर्द से छुटकारा दिलाता है।

अपनी पीठ के बल लेट जाएं, और अपने पैरों को कंधे की चौड़ाई से थोड़ा अधिक फैलाकर रखें, फिर उन्हें अपने नितंबों पर खींचें। अपनी पीठ की ओर इशारा करते हुए अपनी उंगलियों के साथ अपने हाथों को अपने हथेलियों को नीचे रखकर अपने सिर के पीछे रखें। सांस लें और अपने स्तनों और कूल्हों को जितना ऊंचा कर सकते हैं उतना ऊंचा उठाएं। अपनी बाहों को पूरी तरह से सीधा करने का प्रयास करें। 30 सेकंड के लिए इस स्थिति में रहें।

तो, लेडीज लटके और सिकुड़े हुए ब्रेस्‍ट किसी को भी पसंद नहीं होते, आप भी अगर चाहें तो उन्‍हें फि‍र से अपनी शेप में ला सकती हैं। और लटके स्‍तनों को गुड बाय कहिए।

  • 94
लेखक के बारे में

ये हेल्‍थ शॉट्स के विविध लेखकों का समूह हैं, जो आपकी सेहत, सौंदर्य और तंदुरुस्ती के लिए हर बार कुछ खास लेकर आते हैं। ...और पढ़ें

अगला लेख