इन 7 हर्ब्स की मदद से आप भी कर सकती हैं शुगर लेवल को नेचुरली कंट्रोल

यदि आप मधुमेह रोगी हैं, तो आपको यह सुनिश्चित करने की आवश्यकता है कि आपका आहार हेल्दी हो। अपने ब्लड शुगर कम करने के लिए इन 7 जड़ी-बूटियों का इस्तेमाल करें।
ayurvedic herbs cold cough aur allergy door karti hai
कई आयुर्वेदिक हर्ब और स्पाइसेज़ शरीर को डीटोक्सीफाय कर कोलेस्ट्रॉल लेवल को मैनेज कर सकते हैं। चित्र : शटर स्टॉक
टीम हेल्‍थ शॉट्स Updated: 20 Oct 2023, 09:06 am IST
  • 124

यदि आपको मधुमेह है, तो आपका शरीर हार्मोन इंसुलिन का उपयोग या निर्माण करने में असमर्थ होगा, जो रक्त शर्करा के स्तर को बनाए रखने के लिए आवश्यक है। इसलिए, अपने रक्त शर्करा के स्तर में अचानक वृद्धि से बचने के लिए, आपको अनहेल्दी खाद्य पदार्थों से बचना चाहिए और संतुलित आहार लेना चाहिए। वास्तव में, आपको रक्त शर्करा के स्तर को कम करने के लिए जड़ी-बूटियों का उपयोग करने के बारे में सोचना चाहिए।

जानिए कैसे जड़ी-बूटियां रक्त शर्करा को नियंत्रित करने में मदद कर सकती हैं

आयुर्वेद, एक पारंपरिक भारतीय चिकित्सा पद्धति, जड़ी-बूटियों और मसालों के उपयोग को प्रोत्साहित करती है। क्योंकि उनके पास कई चिकित्सीय विशेषताएं हैं जो रक्त शर्करा के स्तर के प्रबंधन में सहायता कर सकती हैं। जड़ी-बूटियां, वास्तव में, वजन घटाने में सहायता, आंतों के स्वास्थ्य को बढ़ावा देने, प्रतिरक्षा को बढ़ावा देने और रक्तचाप को नियंत्रित करने में काफी फायदेमंद है।

हेल्थ शॉट्स ने मदरहुड हॉस्पिटल्स, मैकेनिक नगर, इंदौर की कंसल्टेंट- डायटीशियन/न्यूट्रिशनिस्ट, रूपश्री जायसवाल, से बात की ताकि उन जड़ी-बूटियों के बारे में पता लगाया जा सके जो ब्लड शुगर के स्तर को कम करने में मदद कर सकती हैं।

उन्होंने कहा, “शुक्र है कि भारत में कई तरह के हर्ब्स पाये जाते हैं जो कि हमें विभिन्न समस्याओं से लड़ने में मदद करते हैं। साथ ही, आपके रक्त शर्करा के स्तर को कम करने में मदद कर सकते हैं।”

रक्त शर्करा के स्तर को प्रबंधित करने के लिए यहां 7 जड़ी-बूटियां दी गई हैं:

1. रोज़मेरी

यह रोज़मेरी ही है जो सूप और करी ओ इतनी अच्छी खुशबू देती है। ये न सिर्फ आपका वजन कम करने में मदद करती है बल्कि यह आपके शुगर लेवल को भी कम रखती है। वास्तव में, यह शरीर में खराब कोलेस्ट्रॉल (एलडीएल) को नियंत्रित करने और अच्छे कोलेस्ट्रॉल (एचडीएल) को बढ़ाने में भी फायदेमंद है।

diabetes
इन हर्ब्स की मदद से करें सपने शुगर लेवल को कम। चित्र : शटरस्टॉक

2. जिनसेंग

जिनसेंग, जो हमेशा से प्राच्य चिकित्सा का एक अभिन्न अंग रहा है, में उच्च प्रतिरक्षा-बढ़ाने वाले गुण होते हैं और यह एंटी डायबिटिक भी है। यह शरीर में कार्बोहाइड्रेट के अवशोषण को कम करता है। जिनसेंग अग्न्याशय द्वारा इंसुलिन के उत्पादन को भी उत्तेजित करता है। बढ़ा हुआ इंसुलिन रक्त शर्करा को शरीर की कोशिकाओं में प्रवेश करने में मदद करता है ताकि इसे ऊर्जा में बदला जा सके।

3. गुड़मार

प्राचीन काल से, इस जड़ी बूटी का उपयोग भारत में आयुर्वेदिक और मधुमेह के उपचार में किया जाता रहा है। इसमें जिम्नेमिक एसिड होता है, जो शुगर क्रेविंग को कंट्रोल करने में मदद करता है। जड़ी बूटी रक्तप्रवाह से अतिरिक्त ग्लूकोज को हटाने में भी सहायता करती है।

4. सेज

सेज ब्लड शुगर के स्तर को कम करने में मदद करती है, खासकर जब खाली पेट इसका सेवन किया जाता है। सेज को आहार में शामिल करने से इंसुलिन का स्राव बढ़ता है और मधुमेह प्रबंधन में मदद मिलती है।

aloe vera aapke liye faydemand hai
एलोवेरा जेल आपके लिए काफी फायदेमंद है। चित्र: शटरस्‍टॉक

5. एलोवेरा

मधुमेह जैसे कई रोग शरीर में सूजन के कारण होते हैं। एलोवेरा अपच को ठीक करता है और शरीर में सूजन को कम करता है। आप इस पौधे की पत्तियों से तैयार एलोवेरा सप्लीमेंट या जूस का सेवन कर सकते हैं।

6. अदरक

इस सुगंधित जड़ी बूटी के उपयोग से मधुमेह का इलाज किया गया है। यह शरीर की इंसुलिन संवेदनशीलता में सुधार करता है और इंसुलिन स्राव को बढ़ाने में सहायता करता है।

अपनी रुचि के विषय चुनें और फ़ीड कस्टमाइज़ करें

कस्टमाइज़ करें

7. मेथी

मेथी दाना और जड़ी बूटी के उपयोग से त्वचा और पेट की समस्याओं का इलाज किया गया है। यह पौधा चयापचय संबंधी समस्याओं के उपचार में भी सहायता करता है। यह रक्त शर्करा के स्तर में कमी और मधुमेह के उपचार का कारण बन सकता है।

यह भी पढ़ें : दुनिया के 29 देशों में फैल चुका है मंकी पॉक्स, विदेश यात्रा कर रहीं हैं, तो सावधान रहना है जरूरी 

  • 124
लेखक के बारे में

ये हेल्‍थ शॉट्स के विविध लेखकों का समूह हैं, जो आपकी सेहत, सौंदर्य और तंदुरुस्ती के लिए हर बार कुछ खास लेकर आते हैं। ...और पढ़ें

अगला लेख