डरा रहा है कोविड-19 वाला बरसात का मौसम, तो इन पांच मंत्रों को रट लें, नहीं होंगे बीमार

मानसून यानी लगातार बारिश, मॉइस्चर और तरह-तरह की बीमारियां। पर घबराएं नहीं हम आपको ऐसे पांच मंत्र बताने जा रहे हैं, जो आपको इस मौसम में भी हेल्दी रखेंगे।
प्रकृति आपको तनाव से बचाने में मदद कर सकती है। चित्र: शटरस्‍टॉक
प्रकृति आपको तनाव से बचाने में मदद कर सकती है। चित्र: शटरस्‍टॉक
योगिता यादव Updated: 10 Dec 2020, 13:01 pm IST
  • 95

अभी आप कोविड-19 से बचने की तैयारी कर रहे थे। हैंड सेनिटाइजर, मास्क , ग्लव्स और भी बहुत कुछ। किसी ने सोचा नहीं था कि यह महामारी इतनी लंबी चलने वाली है। सर्दियां, गर्मियां और अब मानसून (Monsoon) भी कोविड-19 (Covid-19) के साथ ही बिताना पड़ेगा, ऐसा लगता है। बेहतर है कि इस स्थिति से परेशान होने की बजाए हम उसका मुकाबला करने को तैयार रहें।

कोविड-19 की अभी तक कोई वैक्सीन नहीं बन पाई है। हालांकि कुछ ह्यूमन ट्रायल तक पहुंच गईं हैं, पर वे आम जन के लिए कब तक उपलब्ध हो पाएंगी, इस पर अभी भी कुछ ठीक से कहा नहीं जा सकता। असमंजस की इस स्थिति में आपकी इम्यूनिटी ही आपका सबसे बड़ा रक्षा कवच है।

आपकी इम्‍यूनिटी ही आपका रक्षा कवच है। चित्र: शटरस्‍टॉक

मानसून के मौसम में होने वाली बीमारियों से बचाने में भी यही आपकी मदद कर सकती है। तो सर्दी, जुकाम और अन्य संक्रमणों के इलाज के लिए दवाओं की हैवी डोज लेने से बेहतर है कि आप अपने शरीर को इस तरह से तैयार करें कि कोई भी बाहरी संक्रमण आपका कुछ न बिगाड़ पाएं।

बाहरी संक्रमणों से खुद को बचाने के लिए आपको अपनी इम्यूनिटी को बूस्‍ट रखना जरूरी है। इसके लिए हम वे पांच मंत्र आपको दे रहे हैं, जो आपको कोविड वाली बरसात में डबल स्ट्रॉन्ग रखेंगे।

मंत्र 1 :

गर्म पानी पिएं

यह सौ बीमारियों का एक उपचार हो सकता है। फैट बर्न करने से लेकर गले की खराश मिटाने तक गर्म पानी पीना आपके लिए लाभदायक हो सकता है। अगर आपने अपनी इलैक्ट्रिक कैटल पैक कर दी है, तो उसे फि‍र से काम में लाइए और दिन भर गुनगुने पानी का ही सेवन करें। अगर गले में खराश, कफ या अन्य कोई परेशानी है तो चाय की तरह इसे घूंट-घूंट पिएं।

गुनगुना पानी पीते रहने से आप इंफेक्‍शन से बचे रहते हैं। Gif : Giphy

गर्म पानी पीने से वायरस के इंट्री पॉइंट यानी गले में वायरस अपनी संख्या नहीं बढ़ा पाते हैं और शरीर को प्रभावित नहीं कर पाते हैं। यह बिना किसी दवा आपको कफ से राहत दिलाएगा।

और इससे वेट लॉस में भी मदद मिलती है। आयुष मंत्रालय और आईसीएमआर भी इस बात का समर्थन करते हैं कि गुनगुना पानी पीना आपके लिए काफी लाभदायक हो सकता है।

मंत्र 2 :

खुद को एक्टिव रखें

अगर इन दिनों आप वर्क फ्रॉम होम कर रहीं हैं और अपना बेस्ट देने के लिए दिन भर कुर्सी पर जमी रहती हैं, तो यह अध्ययन आप ही की बात कर रहा है। हाल ही में किए गए एक अध्ययन में यह सामने आया कि 64 फीसदी भारतीय कभी भी व्‍यायाम नहीं करते। इनमें  ज्‍‍‍‍‍‍यादा  संख्या महिलाओं की है।

अपनी रुचि के विषय चुनें और फ़ीड कस्टमाइज़ करें

कस्टमाइज़ करें
इम्‍यूनिटी बढ़ाने के लिए आप योग पर भरोसा कर सकती हैं। चित्र: शटरस्‍टॉक

कुर्सी से उठिए, टहलिए, रस्सी कूदिए, योग, प्राणायाम, जो भी आपको बेहतर लगता है उसे अपने रूटीन में शामिल कीजिए। आपको समझना चाहिए कि जैसे जीवित रहने के लिए भोजन और पानी की जरूरत होती है, वैसे ही स्वस्थ रहने के लिए शरीर को व्यायाम की जरूतर होती है। यह आपका मेटाबॉलिज्म दुरुस्त रखता है और इम्यूनिटी को भी मजबूत बनाए रखता है।

मंत्र 3 :

मेजिकल हर्ब्स पर करें भरोसा

यह कहने की जरूरत नहीं कि हेल्दी रहने के लिए हेल्दी डाइट का सेवन करना और गरिष्ठ भोजन से खुद को दूर रखना जरूरी है। पर इसके साथ ही यह भी जरूरी है कि अपनी रसोई के मसालों से थोड़ा बहुत परिचय बढ़ा लें। हल्दी, तुलसी, नीम, अजवायन ये मेजिकल हर्ब्स हैं।

आयुर्वेद में आपकी रसोई के मसालों को ही औषधि माना गया है। चित्र: शटरस्‍टॉक

हल्दी और अदरक को चाय, दूध या खाने में एड कर सकती हैं। जिन सब्जियों से गैस बनने की समस्या होती है जैसे आलू, अरबी आदि में अजवायन जरूर शामिल करें। इसके अलावा आप इसे रोटी या परांठे में भी एड कर सकती हैं।

मानसून में होने वाली स्किन संबंधी समस्याओं से बचाने में नीम का कोई मुकाबला नहीं। और अगर आपको स्किन पर दाने या पिंपल निकल आएं हैं, तो आप नीम के फल यानी निबोलियों का सेवन करें। यह मुफ्त की दवा है जो आपका ब्लड प्यूरीफाई करती है।

मंत्र 4 :

तेल आपका दुश्मन नहीं है

दुनिया भर में हर रोज एक नया डाइट प्लान आता है और वह बताता है कि तेल आपका कितना बड़ा दुश्मन है। जबकि सेलिब्रिटी डाइटिशियन रुजुता दिेवेकर मानती हैं कि तेल आपका दुश्मन नहीं है। बस आपको इसे कितना खाना है और कैसे खाना है, इसके बारे में पता होना चाहिए। तेल आपकी स्किन और पाचन के लिए जरूरी हेल्दी फैट उपलब्ध करवाता है।

तेल आपका दुश्‍मन नहीं है, बस इसे कैसे और कितना प्रयोग करना है, यह जान लें। चित्र: शटरस्‍टॉक

उबली हुई सब्जी खाने की बजाए तेल में छौंकी गई सब्जी खाना हमेशा एक टेस्टीे और हेल्दी ऑप्शन होता है। पर यह तेल इतना ही हो कि सब्जी में तैरने न लगे।

मानसून में अगर आप खुद को स्वस्थ रखना चाहती हैं तो नहाने से पहले तेल की मालिश करें। यह आपकी स्किन को ड्राय होने से बचाता है और उसका लचीलापन बढ़ाता है।

रात को सोने से पहले नाक में एक बूंद तेल डालना आपको इस मौसम में होने वाले संक्रमण से भी बचाएगा।

मंत्र : 5

नींद का ख्याल रखें

यह आपकी ही है, और आप ही के लिए है। अच्छी नींद अच्छेे स्वास्‍थ्‍य से लेकर सौंदर्य तक बहुत जरूरी है। बरसात के मौसम में तो नींद भी खूब आती है। जबकि कोविड-19 के कारण लोगों का स्लीप पैटर्न बदल गया है। अगर आप भी रात भर सोशल मीडिया पर स्क्रॉल करते हैं और दिन में सोते हैं, तो इस आदत को तुरंत छोड़ दें। दिन भर सोते रहने और हेल्दी स्लीप में अंतर है।

मानसिक स्वास्थ्य के लिए ज़रूरी है अच्छी नींद। चित्र: शटरस्टॉक

7-8 घंटे की नींद जरूर लें, अपने बेडरूम की स्लीप हायजीन का ख्याल रखें। डीप स्लीप लेने की कोशिश करें ताकि आपकी मेमोरी अच्छी रहे।

तो लेडीज, ये पांच मंत्र अगर आपने रट लिए हैं, तो कोविड और बरसाती संक्रमण क्या कोई भी बीमारी आपको परेशान नहीं कर सकती। बस आपको इन्हें याद करने के साथ-साथ अपने रूटीन में भी शामिल करना है।

  • 95
लेखक के बारे में

कंटेंट हेड, हेल्थ शॉट्स हिंदी। वर्ष 2003 से पत्रकारिता में सक्रिय। ...और पढ़ें

अगला लेख