आपकी ये 5 बुरी आदतें बना देंगी आपको उम्र से पहले बूढ़ा, इन्हें अगले साल साथ लेकर न चलें

हमारी आदतों का हमारे स्वास्थ्य के साथ त्वचा पर भी सीधा असर पड़ता है। यहां जानिए ऐसी 5 आदतें जो आपके अर्ली एजिंग का कारण बन सकती है।

अर्ली एजिंग का कारण बनने वाली 5 आदतें। चित्र अडोबी : स्टॉक
ईशा गुप्ता Published on: 23 December 2022, 17:33 pm IST
  • 148
इस खबर को सुनें

कोरियन ग्लास स्किन हो या बॉलीवुड सेलेब्स जैसे आकर्षक लुक, हम सभी यंग रहना और दिखना चाहते हैं। सॉफ्ट एंड ग्लोइंग स्किन के लिए हम हजारों मार्केट प्रोडक्ट इस्तेमाल करने से लेकर कई होममेड रेमेडीज तक, सभी चीजें ट्राई करते हैं। पर कुछ चीजें, जिनका वाकई आपकी त्वचा पर असर होता है, उन्हें नजरंदाज कर देते हैं। अध्ययनों में यह बात साबित हुई है कि हेल्दी डाइट के साथ हेल्दी लाइफस्टाइल भी स्किन पर सीधा असर डालती है। इसलिए उन आदतों को जानना जरूरी है जो आपको उम्र से पहले बूढ़ा (Causes of early aging) बना देती हैं।

हेल्थ शॉट्स के इस लेख में आज हम ऐसी आदतों पर बात करेंगे जो आपकी अर्ली एजिंग का कारण भी बन सकती हैं।

जानिए क्या है अर्ली एजिंग की समस्या

अर्ली एजिंग की समस्या में उम्र से पहले ही चेहरे पर एजिंग के लक्षण नजर आने लगते हैं। विशेषज्ञों के मुताबिक इस समस्या में चेहरे पर रिंकल्स, डार्क स्पॉट्स, ड्राईनेस या स्किन टोन का फीका पड़ना जैसी समस्या होने लगती है। साथ ही चेस्ट के आसपास हाइपरपिगमेंटेशन होना, बालों का झड़ना और ग्रे पड़ना भी इसके लक्षणों में शामिल है।

आपकी यें 5 आदतें बन सकती हैं आपकी अर्ली एजिंग का कारण

1. देर रात तक जागना

बिजी लाइफस्टाइल और लेट नाइट पार्टीज के ट्रैंड में हम अक्सर अपनी नींद के साथ समझौता करने लगते हैं। हमारी यही गलती कई स्किन प्रोबलम्स के साथ अर्ली एजिंग का कारण भी बन सकती है। पर्याप्त नींद लेने से आपके शरीर को रिफ्रेश होने में मदद मिलती है, वही अधूरी नींद शरीर में थकावट, कमजोरी, स्ट्रेस का कारण बनती है।

नेशनल लाइब्रेरी ऑफ मेडिसिन की जनवरी 2015 की रिपोर्ट के अनुसार अधूरी नींद की आदत आपकी स्किन पर एजिंग से लक्षण बढ़ाने के साथ स्किन बेरियर फंक्शन को घटानें का कारण बनती है।

sunlight effects on skin
अध्ययनों में सामने आया है कि सूरज की हानिकारक किरणें आपकी स्किन को डैमेज करने लगती हैं।। चित्र- शटरस्टॉक

2. तेज धूप में निकलना

सर्दियों में धूप आखिर किसे अच्छी नहीं लगती, धूप की गर्माहट से शरीर को विटामिन डी मिलने के साथ हीट थिरेपी भी मिल जाती हैं। लेकिन धूप में ज्यादा निकलना भी आपके अर्ली एजिंग का कारण बन सकता है। कई अध्ययनों में सामने आया है कि सूरज की हानिकारक किरणें आपकी स्किन को डैमेज करने लगती हैं। इस प्रक्रिया को फोटो एजिंग कहा जाता है। यह आपके स्किन सेल्स को डैमेज करके उम्र के लक्षणों को चेहरे पर लेकर आती है।

यह भी पढ़े – कोलेजन बूस्ट कर आपकी स्किन को एजिंग से बचाती है क्रैनबेरी, यहां हैं इसके 3 DIY फेस पैक्स

3. अनहेल्दी और जंक फूड खाना

एक परफेक्ट हेल्दी डाइट आपको लंबे समय तक स्वस्थ बनाए रखने के साथ बीमारियों से दूर रखने में मदद करती हैं। वही अगर कुछ दिनों में जंक फूड लेना आपकी आदत बन गई है, तो आपको इसमें आज से ही रोक लगाने की आवश्यकता होगी।

डरमेटो एंडोक्रिनोलॉजी की एक रिसर्च के अनुसार रिफाइंड कार्बोहाइड्रेट के साथ शुगर का अत्यधिक सेवन आपकी स्किन हेल्थ को नुकसान पहुचाता है, यह आपके स्किन सेल्स को डेमेज करके अर्ली एजिंग होने का कारण भी बन सकता है।

stress effects on body
आपका स्ट्रेसफुल लाइफस्टाइल आपके शरीर पर प्रभाव डाल सकता है। चित्र : शटरस्टॉक

4. बेवजह तनाव लेना

फास्ट लाइफस्टाइल के साथ स्ट्रेस होना आम बात है, लेकिन अगर हर चीज पर स्ट्रेस लेना आपकी आदतों में शामिल हो चुका है, तो आपको इस पर ध्यान देनें की जरूरत होगी। आपका स्ट्रेसफुल लाइफस्टाइल आपके शरीर पर प्रभाव डालने के साथ आपके स्लीप पैटर्न पर भी असर डाल सकता है।

द अमेरिकन जर्नल ऑफ गेरिआर्ट्रिक के मुताबिक अत्यधिक तनाव लेने पर शरीर में स्ट्रेस हार्मोन बढ़ने लगते हैं, जो आपकी स्किन को फास्ट एजिंग की ओर ले जाते है।

5. अल्कोहल और कैफीन का ज्यादा सेवन

थकावट कम करने के साथ बॉडी को एक्टिव बनाए रखने के लिए कैफिन का सेवन अच्छा विकल्प हो सकता है, लेकिन इसका जरूरत से ज्यादा सेवन आपकी त्वचा को नुकसान भी पहुचा सकता है।

अमेरिकन अकेडमी ऑफ डर्माटोलॉजी एसोसिएशन के मुताबिक एल्कोहल और कैफिन का सेवन का सेवन आपकी स्किन को डिहाइड्रेट करने के साथ धीरे-धीरे डेमेज करने लगती है। जिससे स्किन पर उम्र के लक्षण जैसे कि रिंकल्स, फाइन लाइंस साफ नजर आ सकते हैं।

यह भी पढ़े – शहनाज हुसैन से जानें कि सर्दियों में घर पर किस तरह से तैयार करें मॉइश्चराइजर

  • 148
लेखक के बारे में
ईशा गुप्ता ईशा गुप्ता

यंग कंटेंट राइटर ईशा ब्यूटी, लाइफस्टाइल और फूड से जुड़े लेख लिखती हैं। ये काम करते हुए तनावमुक्त रहने का उनका अपना अंदाज है।

पीरियड ट्रैकर

अपनी माहवारी को ट्रैक करें हेल्थशॉट्स, पीरियड ट्रैकर
के साथ।

ट्रैक करें
nextstory

हेल्थशॉट्स पीरियड ट्रैकर का उपयोग करके अपने
मासिक धर्म के स्वास्थ्य को ट्रैक करें

ट्रैक करें