घुटनों और जोड़ों के दर्द से भी राहत दिला सकते हैं एसेंशियल ऑयल, यहां हैं ऐसे ही 5 सुपर इफैक्टिव तेल

Updated on: 30 May 2022, 20:09 pm IST

पेन किलर की बजाए आप अपने एजिंग पेरेंट्स को जोड़ों और घुटनों के दर्द से राहत दिलाने के लिए एसेंशियल ऑयल का भी इस्तेमाल कर सकती हैं। जानिए ये कैसे काम करते हैं।

essential oil aur knee pain
दर्द राहत दिलान एमें मदद कर सकते हैं एसेंशियल ऑयल। चित्र : शटरस्टॉक

क्या आपके मम्मी-पापा या ग्रेंड पेरेंट्स अपने घुटनों या जोड़ों में दर्द से परेशान हैं? असल में, उम्र बढ़ने के साथ जोड़ों में दर्द होने के साथ-साथ कई अन्य स्वास्थ्य संबंधी समस्याएं भी हो सकती हैं। दर्द कैसा भी हो या किसी को भी हो इसे नज़रअंदाज़ नहीं किया जाना चाहिए। यदि लंबे समय तक नजरअंदाज किया जाए, तो यह तेजी से गठिया जैसी गंभीर समस्याओं में विकसित हो सकता है। तो इसका समाधान क्या है? एक विशेषज्ञ का मानना है कि जोड़ों और घुटनों के दर्द के लिए एसेंशियल ऑयल (Essential oil for joint and knee pain) चमत्कार कर सकते हैं!

जानिए दर्द में कैसे काम करते हैं एसेंशियल ऑयल

घुटने और जोड़ों के दर्द की वजह से आपको अपनी दिनचर्या में कई समस्याएं आ सकती हैं। मगर बेहतर महसूस करने के कई तरीके हैं, साथ ही ओवर-द-काउंटर मेडिसन आपकी मदद कर सकती हैं।

बिरला आयुर्वेद की आयुर्वेदिक विशेषज्ञ डॉ चैताली देशमुख, ने हेल्थ शॉट्स से इस बारे में बात की। वे कहती हैं, ”एसेंशियल ऑयल का इस्तेमाल हजारों सालों से होता आ रहा है। एसेंशियल ऑयल एक पौधे की छाल, पत्तियों या छिलके से बनाए जाते हैं।”

एसेंशियल ऑयल में तेज सुगंध होती है। यह केमिकल्स आपके तन और मन को शांत करने के लिए फायदेमंद होते हैं। जब आप अपनी त्वचा पर तेल की मालिश करती हैं, तो ये आपके रक्तप्रवाह में प्रवेश कर जाते हैं।

जानिए डॉ. चैताली देशमुख द्वारा सुझाए गए 5 एसेंशियल ऑयल के बारे में जो जोड़ों और घुटने के दर्द में मदद कर सकते हैं:

1. लेमनग्रास एसेंशियल ऑयल (Lemongrass essential oil)

जोड़ों के दर्द और सूजन जैसे गठिया के लक्षणों को कम करने के लिए आयुर्वेदिक चिकित्सा में लेमनग्रास एसेंशियल ऑयल का व्यापक रूप से उपयोग किया जाता है। लेमनग्रास ऑयल में एस्ट्रिनजेंट गुण होते हैं, जिसका अर्थ है कि जब इसका सेवन किया जाता है, तो यह शरीर के ऊतकों से अतिरिक्त तरल पदार्थ निकाल सकता है। यह सूजन को कम करता है और गतिशीलता में भी सुधार करता है।

lavender oil
लैवन्डर ऑयल आपके लिए फायदेमंद है। चित्र : शटरस्टॉक

2. लैवेंडर एसेंशियल ऑयल (Lavender essential oil)

कई घरों में भी लैवेंडर एसेंशियल का इस्तेमाल किया जाता है। यह ऑयल तनाव और चिंता को कम करने में मदद कर सकता है। साथ ही, इसके कई और फायदे भी हैं। इसमें एंटीइंफ्लेमेटरी और एनाल्जेसिक गुण होते हैं, जो मानसिक और शारीरिक स्वास्थ्य दोनों के लिए सही हैं। इसमें एंटी-इंफ्लेमेटरी गुण होते हैं, जो जोड़ों के आसपास की सूजन को कम करने में मदद कर सकते हैं।

3. नीलगिरी एसेंशियल ऑयल (Eucalyptus Essential Oil)

डॉ देशमुख कहती हैं “नीलगिरी एसेंशियल ऑयल अपनी चिकित्सीय विशेषताओं के कारण जोड़ों और मांसपेशियों की परेशानी को दूर कर सकता है। नीलगिरी एसेंशियल ऑयल के सुखदायक और शीतलन गुण इसकी एंटीइंफ्लेमेटरी और एंटीस्पास्मोडिक क्षमताओं में योगदान करते हैं, तनाव कम करते हैं और दर्द से राहत देते हैं।”

4. रोज़मेरी एसेंशियल ऑयल (Rosemary Essential Oil)

रोज़मेरी अपने एंटी-इंफ्लेमेटरी और दर्द निवारक गुणों के लिए जानी जाती है। ये एसेंशियल ऑयल उन लोगों के लिए एक बढ़िया विकल्प है, जिन्हें सूजन या जोड़ों में दर्द है।

5. जिंजर एसेंशियल ऑयल (Ginger Essential Oil)

डॉ देशमुख कहती हैं – “जिंजीबैन, अदरक के आवश्यक तेल में पाया जाने वाला एक एंटीइंफ्लेमेटरी घटक, मांसपेशियों और जोड़ों में सूजन, बेचैनी और कठोरता को कम करता है। इन गुणों के परिणामस्वरूप, अदरक एसेंशियल ऑयल दर्द को दूर कर सकता है और गति बढ़ा सकता है।”

यह भी पढ़ें : मेटाबॉलिज़्म हुआ कमजोर, तो 40 के बाद तेजी से बढ़ने लगेगा वज़न, जानिए कैसे करना है कंट्रोल

टीम हेल्‍थ शॉट्स टीम हेल्‍थ शॉट्स

ये हेल्‍थ शॉट्स के विविध लेखकों का समूह हैं, जो आपकी सेहत, सौंदर्य और तंदुरुस्ती के लिए हर बार कुछ खास लेकर आते हैं।

स्वास्थ्य राशिफल

ज्योतिष विशेषज्ञ से जानिए क्या कहते हैं आपकी
सेहत के सितारे

यहाँ पढ़ें