वैलनेस
स्टोर

आपके एजिंग पेरेंट्स को परेशान कर सकता है फेकल इनकंटीनेंस, जानिए इसे संभालने के 3 उपाय

Published on:7 January 2021, 16:15pm IST
ज्यादातर बुजुर्ग आंत संबंधी समस्याओं से पीड़ित रहते हैं, जिनमें मल असंयम या फेकल इनकंटीनेंस (fecal incontinence) सबसे आम है। अगर आपके माता-पिता भी इस समस्‍या से परेशान हैं, तो आपको इन ट्रिक्स पर ध्‍यान देने की जरूरत है।
टीम हेल्‍थ शॉट्स
  • 78 Likes
मल असंयम उम्र के साथ होने वाली एक प्रमुख समस्‍या है। चित्र: शटरस्‍टॉक

उम्र से संबंधित समस्याएं हमारे माता-पिता के जीवन का एक हिस्सा हैं, और हमें इन्हें स्वीकार करने की जरूरत है। याद्दाश्त खोने से लेकर अनिद्रा की समस्या तक, इस लिस्ट में काफी कुछ शामिल है। इसके अलावा सबसे शीर्ष समस्या यह है कि उनकी आंत इतनी संवेदनशील हो जाती है कि वे जो कुछ भी खाते हैं, उससे उन्हें गैस या कब्ज की समस्या हो जाती है। ऐसा होने पर आप काफी असहाय महसूस कर सकती हैं, क्योंकि आप नहीं जानती हैं कि इस समस्या का कैसे सामना किया जाए।

अगर आपने दीपिका पादुकोण और अमिताभ बच्चन अभिनीत फिल्म पीकू (Piku) देखी है, तो आप जानती होंगी कि माता-पिता की पॉटी संबंधी समस्याओं से निपटना वास्तव में कितना चुनौतीपूर्ण हो सकता है।

खैर, अगर आपके माता-पिता बुजुर्ग हैं, तो आपको कुछ चीजों पर खास ध्‍यान देने की जरूरत है। जिससे कि आप जरूरत पड़ने पर उनकी मदद कर सकें। इस सब के अलावा आप एक डॉक्टर के साथ भी परामर्श कर सकती हैं।

अगर हम उन गैस्ट्रिक समस्याओं के बारे में बात करते हैं, जिनका बुजुर्ग आमतौर पर सबसे ज्यादा सामना करते हैं, तो डा. शरद मल्होत्रा, जो कि आकाश हेल्थकेयर में गैस्ट्रोएंटरोलॉजी, हेपेटोलॉजी और चिकित्सीय एंडोस्कोपी के विशेषज्ञ हैं, वे बताते हैं कि मल अंसयम या फेकल इनकॉन्टिनेंस (fecal incontinence) इस लिस्ट में सबसे ऊपर है। इस समस्या में, वृद्ध लोग अपने पादने की क्षमता पर नियंत्रण खो देते हैं, जिससे रिसाव होता है।

मल अंसयम या फेकल इनकॉन्टिनेंस (fecal incontinence) के कई कारण हैं:

युवाओं में लैक्सेटिव का अधिक उपयोग, बाद के जीवन में मल संबंधी समस्याओं का कारण बन सकता है।

बढ़ती उम्र में मल असंयम की समस्‍या हो सकती है। चित्र: शटरस्‍टॉक
बढ़ती उम्र में मल असंयम की समस्‍या हो सकती है। चित्र: शटरस्‍टॉक

जिन महिलाओं की योनि से डिलीवरी होती है, उन्हें जीवन में बाद में मल अंसयम या फेकल इनकॉन्टिनेंस विकसित होने की अधिक संभावना है, साथ ही यह समस्या बच्चों के पैदा होने की संख्या के साथ बढ़ती है।

गैस्ट्रोएंटरोलॉजी जर्नल में प्रकाशित 2017 के एक अध्ययन में कहा गया है कि रजोनिवृत्ति के बाद की महिलाओं में निम्न एस्ट्रोजन का स्तर फेकल इनकॉन्टिनेंस का कारण बन सकता है।

आजीवन हार्मोन रिप्लेसमेंट थेरेपी से भी फेकल इनकॉन्टिनेंस की समस्या हो सकती है।

न्यूरोलॉजिकल विकार जैसे कि अल्जाइमर रोग और अन्य प्रकार के डिमेंशिया रोग के कारण मल असंयम या फेकल इनकॉन्टिनेंस हो सकता है।

इन तीन तरीकों से आप फेकल इनकॉन्टिनेंस से निपट सकती हैं

1. अपने माता-पिता को अधिक तरल पदार्थ पीने को कहें

हाइड्रेटेड रहना और ऐसे आहार का सेवन करना जिसमें उच्च फाइबर वाले फल, सब्जियां, और साबुत अनाज शामिल हों, जो दस्त और कब्ज दोनों को नियंत्रित कर सकते हैं।

आप उन्‍हें ज्‍यादा से ज्‍यादा लिक्विड लेने के लिए प्रेरित करें। चित्र: शटरस्‍टॉक
आप उन्‍हें ज्‍यादा से ज्‍यादा लिक्विड लेने के लिए प्रेरित करें। चित्र: शटरस्‍टॉक

2. केगल एक्सरसाइज से मिल सकती है मदद

केगल एक्सरसाइज, मुख्य रूप से पेल्विक फ्लोर-आधारित व्यायाम, फेकल इनकॉन्टिनेंस को नियंत्रित करने में भी मदद करते हैं। इन अभ्यासों में, श्रोणि क्षेत्र, नितंब और गुदा की मांसपेशियों को अनुबंधित किया जाता है और धीमा करने के लिए आयोजित किया जाता है, जिससे गुदा की मांसपेशियां मजबूत होती हैं। केगल एक्सरसाइज दिन में तीन बार करने से फेकल इनकॉन्टिनेंस में सुधार होता है।

3. दवाएं अंतिम उपाय हैं

बाजार में इसके लिए विभिन्‍न प्रकार की दवाएं उपलब्ध हैं, लेकिन अपने माता-पिता को उसकी सलाह देने से पहले अपने चिकित्सक से परामर्श करें। याद रखें कि ये दवाएं केवल अल्पकालिक मदद कर सकती हैं।

डॉ. मल्होत्रा ​​बताते हैं, कि अधिक गंभीर रोगी सर्जिकल विकल्प भी चुन सकते हैं, जैसे कि स्फिंक्टोप्लास्टी (sphincteroplasty), बाउल डाईवर्जन (bowel diversion) इत्यादि।

इसके लिए दवाएं अंतिम विकल्‍प होनी चाहिए। चित्र:  शटरस्‍टॉक
इसके लिए दवाएं अंतिम विकल्‍प होनी चाहिए। चित्र: शटरस्‍टॉक

मल असंयम या फेकल इनकॉन्टिनेंस दस्त, कब्ज और गैस के साथ भी हो सकता है। जो आपके माता-पिता के लिए बहुत असुविधाजनक हो सकता है। इसलिए, उनके मल त्याग पर नज़र रखें और उन्हें इससे निपटने में मदद करें।

यह भी पढ़ें – Peanut Allergy : सामान्‍य सी दिखने वाली एक गंभीर समस्‍या, जानिए इसे पहचानने के संकेत 

टीम हेल्‍थ शॉट्स टीम हेल्‍थ शॉट्स

ये हेल्‍थ शॉट्स के विविध लेखकों का समूह हैं, जो आपकी सेहत, सौंदर्य और तंदुरुस्ती के लिए हर बार कुछ खास लेकर आते हैं।