क्या हर बार खाना खाने के बाद ब्रश करने से दांत सफेद हो जाते हैं?

Published on: 27 December 2021, 14:38 pm IST

क्या आपको भी ऐसा लगता है कि भोजन करने के तुरंत बाद ब्रश करना एक स्वस्थ आदत है या इससे दांतों को सफेद करने में मदद मिलती है? तो इसे पढ़िये!

daant kaise safed kare
क्या बार-बार ब्रश करने से सफ़ेद होते हैं दांत। चित्र : शटरस्टॉक

बहुत से लोग हर मौके पर अपने सफेद दांत दिखाना पसंद करते हैं। हालाकि इसमें कोई बुराई नहीं है। लेकिन जब दांतों को सफेद करना एक जुनून में बदल जाता है, तो समस्या बड़ी होती है। वे हर अवसर पर ब्रश करना चाहते हैं, हर भोजन के बाद पेस्ट करना चाहते हैं या फिजूल में ही ब्रश करने लगते हैं। क्या बार-बार ब्रश करना स्वस्थ है या यह आपके दांतों को सफेद करता है?

आइए इसके बारे में डॉ रेशमा सुरेश, रीडर, अमृता स्कूल ऑफ डेंटिस्ट्री, कोच्चि की मदद से जानें।  वह कहती हैं कि हर भोजन के बाद दांतों को ब्रश करने का मतलब यह नहीं है कि यह स्वस्थ है। 

वह आगे कहती हैं, “यह निश्चित रूप से आपको कैविटी से मुक्त और ताजा रखता है। नियमित रूप से ब्रश करने से मसूड़े के ऊतकों (मसूड़ों की मालिश) को बढ़ावा मिलता है, जिससे रक्त परिसंचरण में सुधार होता है और आपके मसूड़े के स्वास्थ्य में सुधार होता है।

लेकिन फिर दिक्कत की बात क्या है?

डॉ सुरेश कहती हैं कि तत्काल टूथ ब्रश करना एक अच्छा विचार नहीं है, क्योंकि आपको लार को कार्य करने के लिए पर्याप्त समय देना होगा। वह आगे कहती हैं, “हर भोजन के बाद अपना मुंह धोना बेहतर है और अपने दांतों को ब्रश करने से पहले कम से कम आधे घंटे तक प्रतीक्षा करें।”

कुछ लोग जो दांतों की सफाई के प्रति जुनूनी होते हैं, वे ऑब्सेसिव कंपल्सिव डिसऑर्डर से पीड़ित होते हैं, जिसके परिणामस्वरूप दांतों पर हमेशा हानिकारक प्रभाव पड़ता है जैसे मसूड़ों की कमजोरी और दांतों का टूटना।

डॉ सुरेश के अनुसार,”दांतों की सतह को कैविटी से मुक्त रखने के अलावा ब्रश करने से दांतों को सफेद करने का कोई प्रभाव नहीं पड़ता है। दांतों का रंग हमेशा इनेमल और अंतर्निहित डेंटाइन की मोटाई पर निर्भर करता है और ब्रश करने की आवृत्ति के साथ इसका कोई संबंध नहीं है।

दिन में 2 बार ब्रश करना ओरल हेल्थ के लिए है अच्छा। चित्र : शटरस्टॉक

यहां बताया गया है कि आप इनेमल एरोजन को कैसे रोक सकते हैं

  1. खाने और दांतों को ब्रश करने के बीच समय का अंतर बनाए रखने से इनेमल के एरोजन को रोकने में मदद मिल सकती है।
  2. अपने खान-पान का ध्यान रखें। अम्लीय खाद्य पदार्थ और पेय पदार्थ खाने के बाद ब्रश न करें, इससे आपके दांतों की सतह कमजोर हो सकती है।
  3. बार-बार स्नैकिंग से बचें।
  4. अपने दंत चिकित्सक से ब्रश करने के सही तरीके जानें।
  5. टूथब्रश को हर दो-तीन महीने में बदलना न भूलें।
  6. चेक-अप के लिए नियमित रूप से अपने डेंटिस्ट के पास जाएं।
  7. जितना हो सके हाइड्रेटेड रहें।

याद रखें कि अधिक मात्रा में किया गया कोई भी कार्य कभी भी अच्छा नहीं होता। इसलिए, सुनिश्चित करें कि आप अपने दांतों को सही तरीके से ब्रश करते हैं, न कि जुनून से। अपने दांतों को साफ रखना महत्वपूर्ण है, लेकिन उनके प्रति जुनूनी होना आपके लिए बिल्कुल भी अच्छा नहीं है।

यह भी पढ़े : क्या गले की खराश और कफ में आराम दिला सकती है नमक वाली चाय? आइए पता करते हैं

टीम हेल्‍थ शॉट्स टीम हेल्‍थ शॉट्स

ये हेल्‍थ शॉट्स के विविध लेखकों का समूह हैं, जो आपकी सेहत, सौंदर्य और तंदुरुस्ती के लिए हर बार कुछ खास लेकर आते हैं।

स्वास्थ्य राशिफल

ज्योतिष विशेषज्ञ से जानिए क्या कहते हैं आपकी
सेहत के सितारे

यहाँ पढ़ें