होली के बाद बढ़ गया है ब्लड शुगर, तो जानिए आपको क्या करना है और क्या नहीं

Published on: 21 March 2022, 21:00 pm IST

त्योहार पर अंटशंट खाने से खुद को रोक पाना बहुत मुश्किल होता है। मगर ये लापरवाही आपके ब्लड शुगर लेवल को नुकसान पहुंचा सकती है। जानिए क्या है इसे कंट्रोल करने का तरीका।

blood sugar control karne ka sahi tareeka
मधुमेह को नियंत्रित रखती है इन्सुलिन। चित्र : शटरस्टॉक

होली (Holi 2022) का त्योहार अभी गुज़रा है। ऐसे में हम सभी ने अपनी सेहत को पीछे छोड़कर होली के पकवानों का मज़ा तो ज़रूर लिया होगा। मगर यह मज़ा डायबिटीज़ के मरीजों पर भारी पड़ सकता है। थोड़ी भी खानपान में लापरवाही उनके ब्लड शुगर में स्पाइक (Blood Sugar Spike) का कारण बन सकती है।

ऐसे में यदि आप इसे कंट्रोल करना चाहती हैं तो, आपको हमारे बताए हुए टिप्स का पालन करना चाहिए। ये टिप्स बेहद आसान हैं और आसानी से आपके जीवन का हिस्सा बन सकती हैं। साथ ही हम बताने जा रहे हैं, कुछ ऐसे फूड्स के बारे में, जिनका सेवन करने पर आपका ब्लड शुगर तेज़ी से बढ़ सकता है। तो चलिये जानते हैं क्या हैं वे –

ये हेल्दी चीज़ें भी बढ़ा सकती हैं आपकी डायबिटीज़

1 फ्रूट जूस (Fruit Juice)

यदि आपको डायबिटीज़ है तो फ्रूट जूस का सेवन भूल कर भी न करें। ऐसा इसलिए क्योंकि यह आपके शुगर लेवेल को इन्स्टेंटली बढ़ा सकता है और इससे आपकी तबीयत भी बिगड़ सकती है। साथ ही, फ्रूट जूस में फ्रूक्टोज़ भी होता है, जो हृदय रोग, इंसुलिन रेसिस्टेंट से जुड़ा हुआ है।

2 ड्राई फ्रूट्स (Dry Fruit)

आपको लग सकता है कि ड्राई फ्रूट्स हेल्दी होते हैं और होते भी हैं। मगर इनमें चीनी की ज़्यादा मात्रा हो सकती है। किशमिश और फ़्रोजन बेरीज़ में चीनी की भारी मात्रा होती है, जो आपके ब्लड शुगर लेवेल के लिए सही नहीं है।

3 डेयरी उत्पाद (Dairy Products)

डेयरी उत्पाद प्रोटीन का अच्छा स्रोत हैं। इनके सेवन से कैल्शियम और विटामिन भी मिलता है। मगर डेयरी उत्पादों में लैक्टोज नामक शुगर होती है। अगर आप डेयरी उत्पाद ले रही हैं, तो आपको कार्ब्स वाली चीजों का सेवन कम करना चाहिए। एनसीबीआई के अध्ययन के अनुसार हाई फैट वाले डेयरी उत्पाद कोलेस्ट्रॉल लेवल बढ़ा सकते हैं।

blood sugar ko badhate hain
दूध ब्लड शुगर में वृद्धि का कारण बन सकता है। चित्र: शटरस्टॉक

डायबिटीज़ को कंट्रोल करने के लिए अपनाएं ये तरीके

वर्कआउट पर लौट आएं

नियमित व्यायाम आपको सामान्य वजन बनाए रखने और इंसुलिन संवेदनशीलता को बढ़ाने में मदद कर सकता है। बढ़ी हुई इंसुलिन संवेदनशीलता का मतलब है कि आपकी कोशिकाएं आपके रक्त प्रवाह में उपलब्ध चीनी का अधिक प्रभावी ढंग से उपयोग कर सकती हैं। व्यायाम आपकी मांसपेशियों को ऊर्जा और मांसपेशियों के संकुचन के लिए रक्त शर्करा का उपयोग करने में भी मदद करता है। इससे ब्लड शुगर लेवल कम हो सकता है।

कार्ब्स का सेवन कम करें

अमेरिकन डायबिटीज़ एसोसिएशन (एडीए) के कई अध्ययनों से यह भी पता चलता है कि कम कार्ब वाला आहार खाने से रक्त शर्करा के स्तर को कम करने और रक्त शर्करा में वृद्धि को रोकने में मदद मिलती है।

आपका शरीर आपके द्वारा खाए जाने वाले कार्ब्स को ग्लूकोज में तोड़ देता है, जो तब आपके रक्त शर्करा के स्तर को बढ़ाता है। इसलिए, कार्ब सेवन को कम करने से रक्त शर्करा के नियमन में सहायता मिल सकती है।

carbs ka sevan kam karein
कार्ब्स का सेवन कम करें। चित्र: शटरस्टॉक

अधिक फाइबर खाएं

फाइबर कार्ब पाचन और चीनी अवशोषण को धीमा कर देता है, जिससे रक्त शर्करा का स्तर धीरे – धीरे बढ़ता है। एक उच्च फाइबर आहार रक्त शर्करा को नियंत्रित करने और रक्त शर्करा के स्तर को कम करने के लिए आपके शरीर की क्षमता में सुधार कर सकता है।

पानी पिएं और हाइड्रेटेड रहें

पर्याप्त पानी पीने से आपको अपने रक्त शर्करा के स्तर को स्वस्थ श्रेणी में रखने में मदद मिल सकती है। डिहाइड्रेशन को रोकने के अलावा, यह आपके गुर्दे को मूत्र के माध्यम से अतिरिक्त चीनी को बाहर निकालने में मदद करता है। हाइड्रेटेड रहने से ब्लड शुगर लेवल और डायबिटीज का खतरा कम हो सकता है।

यह भी पढ़ें : क्या वाकई आपकी हड्डियों के स्वास्थ्य को दुरुस्त करने में मददगार है घी? आइए जानते हैं

ऐश्‍वर्या कुलश्रेष्‍ठ ऐश्‍वर्या कुलश्रेष्‍ठ

प्रकृति में गंभीर और ख्‍यालों में आज़ाद। किताबें पढ़ने और कविता लिखने की शौकीन हूं और जीवन के प्रति सकारात्‍मक दृष्टिकोण रखती हूं।

स्वास्थ्य राशिफल

ज्योतिष विशेषज्ञ से जानिए क्या कहते हैं आपकी
सेहत के सितारे

यहाँ पढ़ें