आधी रात में फूलने लगती है सांस? कहीं ये किसी गंभीर बीमरी का संकेत तो नहीं?

Published on: 15 February 2022, 22:00 pm IST

रात में सोते समय अचानक सांस का अटक जाना या धड़कन तेज हो जाना किसी गंभीर बीमारी का भी संकेत हो सकता है। और आपको इसे बिल्कुल भी नजरंदाज नहीं करना चाहिए।

saans foolne ka kya karan hai
सांस फूलने का क्या कारण होता है। चित्र : शटरस्टॉक

क्या आप आधी रात को अचानक जग जाती हैं और फिर आपको सांस लेने में दिक्कत होती है? यदि आपको लेटते समय सांस लेने में कठिनाई होती है, तो आपको अपने डॉक्टर को दिखाना चाहिए। सांस की तकलीफ के अलग-अलग कारण से भी होते हैं, लेकिन सच्चाई यह है कि आपका वातावरण इसमें भूमिका निभा सकता है।

क्यों हो जाती है सोते समय सांस लेने में परेशानी

अगर आपको भी रात में सांस लेने में तकलीफ हो रही है, तो यह सामान्य नहीं है। एनएलएम के अनुसार, एक संभावित कारण पैरॉक्सिस्मल नोक्टर्नल डिस्पेनिया (पीएनडी) नामक स्थिति है। यह स्थिति आपको रात में अचानक जागने और सांस लेने में तकलीफ का कारण बनती है। आप जाग सकते हैं और खुद को खांसते हुए पा सकते हैं। पीएनडी कंजेस्टिव हार्ट फेल्योर या सीओपीडी के कारण हो सकता है।

लेटते समय सामान्य सांस लेने में कठिनाई (जिसे ऑर्थोपनिया कहा जाता है) तब होता है, जब आपको सपाट लेटते समय सामान्य रूप से सांस लेने में परेशानी होती है। आराम से सांस लेने के लिए, आपको अपना सिर ऊपर उठाना चाहिए। कुछ प्रकार के हृदय या फेफड़ों की समस्या वाले लोगों के लिए यह समस्या आम है।

मगर, यदि आपको अचानक रात में सांस लेने में तलकीफ होती है, तो आपको सतर्क हो जाना चाहिए, क्योंकि यह कई बीमारियों का संकेत हो सकता है। जैसे –

1) फेफड़ों की समस्या

खून का थक्का जमना
सूजन और बलगम का निर्माण
क्रॉनिक ऑब्सट्रक्टिव पल्मोनरी डिजीज (COPD)
न्यूमोनिया
उच्च रक्त चाप
फेंफड़ों की अन्य बीमारी

raat mein ho sakti hai saans lene mein takleef
रात में हो सकती है सांस लेने में तकलीफ. चित्र : शटरस्टॉक

2) हृदय संबंधी समस्या

सीने में दर्द
दिल का दौरा
जन्म से हृदय दोष
दिल की धड़कन रुकना
हार्ट रिदम में गड़बड़ी

3) पर्यावरणीय कारण

एलर्जी
उच्च ऊंचाई जहां हवा में कम ऑक्सीजन है
वातावरण में धूल
एंग्जाइटी
पैनिक अटैक

रात में सांस लेने में तकलीफ के अन्य कारणों में शामिल हैं:

सीओपीडी (COPD)
कोर पल्मोनेल (जब हृदय का दाहिना भाग विफल हो जाता है)
दिल की धड़कन रुकना (Heart failure)
घबराहट की समस्या
स्लीप एप्निया (Sleep apnea)
खर्राटे

रात में सांस की तकलीफ का अनुभव कई कारणों से हो सकता है। अंतर्निहित कारण का निदान करने के लिए आपको अपने डॉक्टर से बात करनी चाहिए।

यह भी पढ़ें : बच्चों में होने वाली मौत का नौंवा सबसे बड़ा कारण है कैंसर, एक्सपर्ट बता रहे हैं इसके बारे में सब कुछ

ऐश्‍वर्या कुलश्रेष्‍ठ ऐश्‍वर्या कुलश्रेष्‍ठ

प्रकृति में गंभीर और ख्‍यालों में आज़ाद। किताबें पढ़ने और कविता लिखने की शौकीन हूं और जीवन के प्रति सकारात्‍मक दृष्टिकोण रखती हूं।

स्वास्थ्य राशिफल

ज्योतिष विशेषज्ञ से जानिए क्या कहते हैं आपकी
सेहत के सितारे

यहाँ पढ़ें