फॉलो

कम नींद लेना बना सकता है आपको टाइप 2 डायबिटीज का शिकार, कहती है यह स्टडी

Published on:13 September 2020, 16:00pm IST
अगर आपको रात में नींद नहीं आती और आप सामान्य से कम सोते हैं, तो हेल्दी वेट होने पर भी आप डायबिटीज की शिकार हो सकती हैं।
विदुषी शुक्‍ला
  • 75 Likes
शुगर लाइफस्‍टाइल जनित बीमारी है, इसे कंट्रोल किया जा सकता है। चित्र: शटरस्‍टॉक

क्या आप भी बिस्‍तर पर घण्टों करवट बदलती रहती हैं? या कभी नेटफ्लिक्स के कारण रात भर जागते हैं? पूरी नींद न लेना आपके लिए बहुत खतरनाक होता है। चाहे आप वजन स्वस्थ रेंज में ही क्यों न हो, नींद की कमी आपको डायबिटिक बना सकता है।

वैज्ञानिकों का मानना है कि कम सोने से टाइप 2 डायबिटीज का रिस्क 17 प्रतिशत बढ़ जाता है। 1000 से भी अधिक स्टडीज के रिव्यु में यह परिणाम पाया गया।

अगर आप 7 से 9 घण्टे नहीं सो रही हैं तो आप डायबिटीज का शिकार हो सकती हैं। चित्र: शटरस्टॉेक

क्या कहती है यह स्टडी?

स्वीडन के कैरोलिंस्का इंस्टीट्यूट की नवीनतम स्टडी में टाइप 2 डायबिटीज के विषय में यह नई जानकारी प्राप्त हुई है। इस स्टडी में डायबिटीज के लिए जिम्मेदार कई फैक्टर्स को पढ़ा गया जिसमें अत्यधिक खाना यानी ओवर ईटिंग, स्मोकिंग और कैफीन का सेवन भी थे। लेकिन आश्चर्यजनक था कि नींद की कमी टाइप 2 डायबिटीज सबसे बड़ा फैक्टर था।

नींद का डायबिटीज से क्या सम्बंध है?

नींद हमारे लिए बहुत आवश्यक है, यह तो आप जानते ही हैं। सोते वक्त हमारा दिमाग सिर्फ आराम ही नहीं करता, खुद को रिपेयर भी करता है। अगर आपकी नींद पूरी नहीं होती तो आपका दिमाग यह रिपेयर नहीं कर पाता।

कम नींद लेने से हमारा हॉर्मोनल संतुलन बिगड़ जाता है। नींद कम लेने से हमारी बॉडी क्लॉक बिगड़ जाती है। बॉडी क्लॉक जिसे सिरकाडीएन भी कहते हैं, शरीर में हॉर्मोन्स के बनने को नियंत्रित करती हैं। इसके लिये MT2 नामक एक हॉर्मोन जिम्मेदार होता है जो नींद की कमी से कम हो जाता है। यह सब इंसुलिन के प्रोडक्शन को नुकसान पहुंचाता है। यही कारण है कि कम नींद लेने से टाइप 2 डायबिटीज का खतरा बढ़ जाता है।

कम नींद लेना आपको बना सकता है टाइप 2 डायबिटीज का शिकार, कहती है यह स्टडी. चित्र- शटरस्टॉक।

इस स्टडी की लीड ऑथर प्रोफेसर सुसाना लार्सन के अनुसार,”इस स्टडी में सामने आई जानकारी का पब्लिक हेल्थ पॉलिसीस के लिए बहुत इस्तेमाल है।”

डायबिटीज की संभावना को कम करने के लिये इन आदतों को अपनाएं-

1. नियमित रूप से डायबिटीज चेक करें

अगर आपकी डायबिटीज की फैमिली हिस्ट्री है तो आपको नियमित रूप से ब्लड शुगर चेक करने की आदत डाल लेनी चाहिए।

अगर आपकी डायबिटीज की फैमिली हिस्ट्री है तो आपको नियमित रूप से ब्लड शुगर चेक करने की आदत डाल लेनी चाहिए। चित्र : शटरस्‍टॉक

2. वेट नहीं BMI देखें

हम अक्सर वजन कम करने के पीछे भागते हैं, फिटनेस में पीछे नहीं। और यह अप्रोच गलत है। BMI का अर्थ है बॉडी मास इंडेक्स यानी आपके शरीर के मास के अनुसार आपका सही वेट क्या है। हेल्दी BMI बनाकर रखने से डायबिटीज की सम्भावना कम होती है।

3. अच्छी नींद लें

हर दिन 7 से 9 घण्टे की नींद लेना अनिवार्य होता है। और यह नींद लगातार होनी चाहिए। सोते वक्त आपका दिमाग आपके शरीर को हील करता है। इसलिए सही नींद लेना जरूरी है।

4. स्मोकिंग और ड्रिंकिंग छोड़ दें

सिगरेट पीना आपके टाइप 2 डायबिटीज की रिस्क को दो गुना बढ़ाता है। अत्यधिक शराब पीने से भी डायबिटीज का खतरा बहुत बढ़ता है।

तो लेडीज, अपनी नींद से किसी तरह का समझौता ना करें। प्रॉपर रूटीन का पालन करें क्योंकि आपकी डाइट और एक्सरसाइज के साथ साथ नींद भी बहुत महत्वपूर्ण है।

0 कमेंट्स

कृपया अपना कमेंट पोस्ट करें

Your email address will not be published. Required fields are marked *

विदुषी शुक्‍ला विदुषी शुक्‍ला

पहला प्‍यार प्रकृति और दूसरा मिठास। संबंधों में मिठास हो तो वे और सुंदर होते हैं। डायबिटीज और तनाव दोनों पास नहीं आते।