फॉलो
वैलनेस
स्टोर

यह 6 ब्रीदिंग एक्सरसाइज आपके फेफड़ों को रखेंगी तंदुरुस्त

Published on:14 August 2020, 18:00pm IST
सांस लेना हमारे जीवन का आधार है, फिर भी हम अपने फेफड़ों की केअर नहीं करते। कुछ एक्सरसाइज आपके फेफड़ों को ना सिर्फ मजबूत बनाती हैं बल्कि आपको लम्बे समय तक जवान रखती हैं।
टीम हेल्‍थ शॉट्स
योग में सबसे महत्‍वपूर्ण ब्रीदिंग है। चित्र: शटरस्‍टॉक

हमारी सांस हमारे जन्म से अंत तक हमारे साथ होती है। लेकिन हम श्वास तंत्र के अंगों पर बिल्कुल ध्यान नहीं देते। हमारे फेफड़ों को केअर की ज़रूरत होती है, और हम आपको यह बताने जा रहे हैं कि कैसे आपको अपने फेफड़ों की केअर करनी चाहिए।

पहले जान लेते हैं फेफड़ों के काम करने का तरीका

लंग वॉल्यूम और लंग कैपेसिटी यानी एक बार में हमारे फेफड़े कितनी हवा इनहेल या एक्सहेल कर सकते हैं।

उम्र के साथ साथ हमारी लंग कैपेसिटी कम होती जाती है और इसके कारण सांस फूलने लगती है। यही नहीं फेफड़ो से जुड़ी कई बीमारियां जैसे क्रोनिक ऑब्सट्रक्टिव पल्मोनरी डिसीज़(COPD) होने लगती हैं।
इसलिए इन एक्सरसाइज का महत्व समझना जरूरी है।

तनाव से निजात दिलाने में प्राणायाम मददगार है। Gif: giphy

क्या है ब्रीदिंग एक्सरसाइज के लाभ

ब्रीदिंग एक्सरसाइज योग का एक महत्वपूर्ण हिस्सा है। प्राणायाम में फेफड़ों की एक्सरसाइज ही की जाती है, क्योंकि इसके बहुत फ़ायदे हैं।

· शरीर को डीटॉक्स करता है
· ज्यादा ऑक्सीजन शरीर में पहुंचता है
· आप रिलैक्स महसूस करते हैं
· तनाव कम होता है
· आपका ध्यान बढ़ता है
· शरीर में ऊर्जा बढ़ती है
· बेहतर नींद आती है

इन ब्रीदिंग एक्सरसाइज से करें शुरुआत-

1. डायाफ्रामेटिक ब्रीदिंग

दीवार का सहारा लेकर सीधे बैठें या पीठ के बल लेट जाएं। एक हाथ सीने पर और दूसरा पेट पर रखें। नाक से सांस लें। सांस लेते वक्त पेट फूलना चाहिए लेकिन चेस्ट बिल्कुल नहीं हिलना चाहिए। सांस छोड़ते वक्त पेट अंदर की ओर खिंचना चाहिए। इसे कम से कम एक से दो मिनट तक करें।

2. होंठ सिंकोड़ कर सांस लेना

पहले जैसी पोजीशन में बैठें और नाक से सांस लें। अब सांस नाक से छोड़ने के बजाय धीरे धीरे होठों से एक्सहेल करें। होंठों को पाउट बना कर रखें। सांस छोड़ने में कम से कम दोगुना समय लगना चाहिए।

गहरी सांस लेना आपकी शारीरिक और मानसिक सेहत के लिए लाभदायक है। चित्र: शटरस्‍टॉक

3. हल्की खांसी के साथ सांस छोड़ें

आराम से बैठें। गहरी सांस लें और पेट से ज़ोर लगाते हुए तीन झटको में सांस बाहर निकालें। यह बार ‘ह”ह’ की आवाज गले से निकालते हुए ही सांस छोड़ें।

4. सिंहासन

घुटनों और हाथ के सहारे खड़ें हों। उंगलियां खुली रखें और हाथों को कंधो की दूरी पर रखें। नाक से गहरी सांस लें और आंखें खुली रखें। मुहं खोलें और जीभ बाहर निकालकर ठुड्डी छूने की कोशिश करें। अब मुंह से सांस बाहर निकालते हुए ‘हह’ की आवाज़ निकालें। आपको अपने गले की मांसपेशियों पर दबाव महसूस होगा। आप आंखों को नाक की टिप पर केंद्रित कर सकते हैं। 2 से 3 बार यह एक्सरसाइज करें।

5. अनुलोम विलोम

पाल्थी मारकर बैठें और एक हाथ ऊपर उठाएं। दाएं नोस्ट्रिल पर अंगूठा रखें और बाएं पर बीच की उंगली। अब बायं नोस्ट्रिल से सांस लें और दाएं से छोड़ें। बायं से सांस लेते वक्त दायां नोस्ट्रिल बन्द होना चाहिए।
अब दाएं नोस्ट्रिल से सांस लें और बाएं से छोड़ें। कम से कम एक मिनट यह प्राणायाम करें।

ब्रीदिंग एक्सरसाइज आपके फेफड़ों को रखेंगी तंदुरुस्त. चित्र: शटरस्‍टॉक

6. रिब स्ट्रेच ब्रीदिंग

इस एक्सरसाइज के लिए सीधे खड़े हों। नॉर्मल से अधिक ताकत के साथ सांस बाहर छोड़ें। अब धीरे धीरे सांस लें और फेफड़ों की अत्यधिक लिमिट तक इनहेल करें। 10 से 15 सेकंड तक सांस रोकें और फिर धीरे से सांस छोड़ें। रिलैक्स करें और फिर रिपीट करें।

1 Comment

कृपया अपना कमेंट पोस्ट करें

Your email address will not be published. Required fields are marked *

टीम हेल्‍थ शॉट्स टीम हेल्‍थ शॉट्स

ये हेल्‍थ शॉट्स के विविध लेखकों का समूह हैं, जो आपकी सेहत, सौंदर्य और तंदुरुस्ती के लिए हर बार कुछ खास लेकर आते हैं।