और पढ़ने के लिए
ऐप डाउनलोड करें

इन 7 सुपर इफैक्टिव एक्‍सरसाइज की मदद से पाएं मैनोपोज के बाद बढ़े हुए बेली फैट से छुटकारा

Published on:2 May 2021, 14:00pm IST
मैनोपोज यानी मासिक धर्म का बंद हो जाना। क्या आप जानती है कि मासिक धर्म के बंद हो जाने के बाद अक्सर महिलाओं को बेली फैट का सामना करना पड़ता है। लेकिन आप इन प्रभावी एक्सरसाइज के साथ बैली फैट को कम कर सकती हैं।
टीम हेल्‍थ शॉट्स
  • 91 Likes
मेनोपॉज के बाद ज्‍यादातर महिलाओं के पेट पर चर्बी जमने लगती है। चित्र: शटरस्‍टॉक
मेनोपॉज के बाद ज्‍यादातर महिलाओं के पेट पर चर्बी जमने लगती है। चित्र: शटरस्‍टॉक

सामान्यत: पीरियड्स बंद होने के बाद ज्यादातर महिलाओं को बैली फैट का सामना करना पड़ता है। ये आपको निराश महसूस करा सकता है, जिसके कारण आपके आत्मविश्वास पर बुरा प्रभाव पड़ता है। इस बैली फैट को कम करने में बहुत मेहनत लगती है।

पर यकीन कीजिए हर रोज व्यायाम करने से, बैली फैट से छुटकारा पाना संभव है। एक अच्छे आहार और उचित नींद के साथ ही नियमित एक्‍सरसाइज आपको मेनोपॉज के बाद पेट की बढ़ी हुई चर्बी से निजात दिलाने में मदद करेगी।

रजोनिवृत्ति के दौरान बैली फैट से निपटने में मदद करने के लिए यहां 7 आसान और प्रभावी एक्‍सरसाइज दी गई हैं

1. रस्सी कूदना

रस्सी कूदना कार्डियो (cardio) व्यायाम का एक काफी कुशल प्रकार है! वास्तव में, ये कैलोरी और बेली फैट को जलाने का सबसे अच्छा तरीका है। ये आपके कार्ब्स को कम करने, अपने कोर को कसने, सहनशक्ति का निर्माण करने और आपके फेफड़ों की क्षमता में सुधार करने में मदद करता है।

रस्‍सी कूदना एक बेहतरीन व्‍यायाम है। चित्र: शटरस्‍टॉक
रस्‍सी कूदना एक बेहतरीन व्‍यायाम है। चित्र: शटरस्‍टॉक

ये आपके पैरों, बट, कंधे, हाथ और पेट की मांसपेशियों को भी मजबूत करता है। पीरियड बंद होने के बाद बैली फैट को कम करने के लिए ये बहुत लाभकारी अभ्यास है।

नोट : अगर आपकी बोन्‍स कमजोर हैं, तो आपको रस्‍सी कूदना अवॉइड करना चाहिए।

2. पिलेट्स (pilates)

पिलेट्स मांसपेशियों को मजबूत करने और शरीर को टोन करने के लिए जाना जाता है। इसे विशेष रूप से कोर को मजबूत बनाने और लचीलेपन में सुधार करने के लिए डिज़ाइन किया गया है। इसलिए, ये शरीर की वसा-जलाने की क्षमता को बढ़ाकर और उसी समय, मोटापे वाली जगह को टोन करके बैली फैट को कम करने में मदद करता है।

3. नौकासन (Boat Pose)

यह एक योग मुद्रा है जो कोर, कूल्हे और रीढ़ की हड्डी को मजबूत करती है। इसके अलावा, ये आसन तनाव को दूर करने में मदद करता है और पाचन में सुधार करता है। यह मुद्रा आपकी पेट की मांसपेशियों पर अच्छे से काम करती है, जिससे वसा को काटने और फैट वाली जगह को टोन करने में मदद मिलती है।

बोट पोज। चित्र: शटरस्‍टॉक

आपको पीरियड बंद होने के बाद बैली फैट कम करने के लिए नौकासन का अभ्यास करना चाहिए। ये पेट की मांसपेशियों को दुरुस्‍त रखने और पाचन में सहायता करती है।

4. बायसाइकिल क्रंच (bicycle crunch)

आप इसे सही ढंग से करेंगे तो आपको बैली फैट कम करने में मदद मिलेगी। रेक्टस एब्डोमिनिस और ऑब्लिक के लिए बायसाइकिल क्रंच काफी अच्छे होते हैं। यदि आप अपने वर्कआउट रूटीन में साइकिल क्रंचेज जोड़ती हैं, तो आपको कोर मजबूत, कमर को पतला करने में और शरीर में लचीलापन लाने में काफी मदद मिलेगी।

5. प्लैंक (plank)

ये एक बेहतरीन कोर बूस्टिंग व्यायाम है। ये आपके कोर की मांसपेशियों को मजबूत करता है और वसा को जलाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। प्लैंक एक अच्छा कैलोरी बर्नर है जो बैली फैट को कम करता है और पेट को टाइट बनाता है।

प्‍लैंक आपकी बॉडी को टोन करते हैं। चित्र: शटरस्‍टॉक

इसके अलावा, यह आपके शरीर की ताकत में सुधार करता है। प्लैंक एक साथ कई मांसपेशियों पर फोकस कर सकता है। इसलिए यह आपके बैली फैट को जलाने के लिए एक लाभदायक व्यायाम है। यह आसन लचीलेपन में भी सुधार करता है।

6. लेग रेस (leg raise)

लेग रेस एक शक्ति प्रशिक्षण अभ्यास है, जो आपके एब्स (abs) के लिए बहुत अच्छा है। लेग रेस को आपके पैर की मांसपेशियों को मजबूत करने, मजबूत एब्स बनाने, शरीर में लचीलापन बढ़ाने और बैली फैट कम करने के लिए जाना जाता है।

इसका उपयोग अक्सर रेक्टस पेट की मांसपेशियों के साथ-साथ एक पतले पेट के लिए आंतरिक और बाहरी तिरछी मांसपेशियों को मजबूत करने के लिए किया जाता है। एक सपाट (फ्लैट) पेट पाने और रखने के लिए।

7. स्टीडी–स्टेट कार्डियो एक्सरसाइज (Steady-state cardio exercise)

स्टीडी–स्टेट कार्डियो एक्सरसाइज वसा को जलाने की आपके शरीर की क्षमता में सुधार करती हैं। 2014 के एक अध्ययन के अनुसार, शरीर में वसा वितरण में सुधार के लिए निरंतर एरोबिक गतिविधियां HIIT वर्कआउट की तुलना में अधिक प्रभावी हैं।

लटका हुआ पेट किसी को भी परेशान कर सकता है। चित्र: शटरस्‍टॉक
लटका हुआ पेट किसी को भी परेशान कर सकता है। चित्र: शटरस्‍टॉक

मध्यम-तीव्रता वाले कार्डियो वर्कआउट के साथ चलना, दौड़ना, लंबी पैदल यात्रा या बाइक चलाना शामिल है। ये उन लोगों के लिए भी एक अच्छा विकल्प है, जिन्हें पूरे शरीर से फैट कम करने की आवश्यकता है।

तो, लेडीज इन अभ्यासों को अपनाकर अपने जिद्दी बैली फैट को कम करें!

यह भी पढ़ें – एक्सरसाइज करने पर भी कम नहीं हो रही पेट की चर्बी, तो हलासन कर सकता है आपकी मदद

टीम हेल्‍थ शॉट्स टीम हेल्‍थ शॉट्स

ये हेल्‍थ शॉट्स के विविध लेखकों का समूह हैं, जो आपकी सेहत, सौंदर्य और तंदुरुस्ती के लिए हर बार कुछ खास लेकर आते हैं।