फॉलो

क्‍या फैट वेजाइना सी-सेक्‍शन डिलीवरी का जोखिम बढ़ा देता है? जानते हैं क्‍या कहते हैं एक्‍सपर्ट

Published on:31 August 2020, 09:30am IST
वेजाइना पर जमे फैट को लेकर हमारे पास कुछ खास बातें हैं। अभी तक यह माना जा रहा है कि सी सेक्‍शन डिलीवरी का सबसे बड़ा कारण शायद यही है। आइए जानते हैं कि डॉक्‍टर इस बारे में क्‍या कहते हैं।
टीम हेल्‍थ शॉट्स
  • 98 Likes
अष्‍टवक्रासन आपके शरीर को लचीला बनाकर एब्‍डोमनल फैट से भी छुटकारा दिलाता है। चित्र: शटरस्टॉक

क्या आपने कभी फैट वेजाइना के बारे में सुना है? इससे पहले कि आप भ्रमित हों, हम आपको बता दें: कि आपकी योनि असल में मोटी नहीं होती है। विशेषज्ञों के अनुसार, वेजाइना पर बहुत कम फैट स्‍टोर हो सकता है। वास्तव में, यह आपके प्‍यूबिक माउंड एरिया में जमने वाला फैट है। लेकिन आज हम इस पर बात क्‍यों कर रहे हैं? वह इसलिए है क्योंकि एक खबर के अनुसार फैट वेजाइना महिलाओं में सी-सेक्शन डिलीवरी का जोखिम बढ़ा रहा है।

वे दिन अब बीत गए जब नॉर्मल डिलीवरी सुनना ही सबसे ज्‍यादा नॉर्मल था। अब तो हर तीसरा बच्चा सी-सेक्शन के जरिए पैदा हो रहा है। इसका मतलब है कि लगभग 92% डिलीवरी सी-सेक्‍शन हो रहीं हैं।

आमतौर पर सी-सेक्शन डिलीवरी के कई कारण हो सकते हैं। लेकिन इन्‍हीं में एक ऐसा कारण भी है, जिस पर हम सबसे कम ध्‍यान दे पाते हैं। और वह है फैट वेजाइना।

लेकिन क्या हम सी-सेक्शन डिलीवरी की बढ़ती संख्या के लिए केवल फैट वेजाइना को ही दोषी ठहरा सकते हैं?

एक तरह से, हां। क्‍योंकि अतिरिक्त वजन बर्थ केनाल में एक अवरोध पैदा करता है, जिससे यह संकरा हो जाता है। इसके कारण, बच्चे के लिए इसके माध्यम से बाहर आना मुश्किल हो जाता है और डॉक्टरों को दूसरे ऑप्‍शन के रूप में मां को ऑपरेट करना पड़ता है। जिसे हम सी-सेक्‍शन डिलीवरी कहते हैं।

फैट वेजाइना और सी-सेक्शन: अब आपको अपने वेजाइनल एरिया पर और अधिक ध्यान देने की आवश्यकता है। चित्र: शटरस्टॉक

पुणे स्थित अपोलो क्लिनिक में स्त्री रोग एवं प्रसूति विशेषज्ञ डॉ. अर्चना चंडक के अनुसार, “प्रसव के समय बर्थ केनाल में रुकावट के कारण पुश और एब्‍डोमिनल वॉल की मांसपेशियों के बीच समन्वय नहीं बन पाता। इसे ऑब्‍स्‍ट्रक्‍टेड लेबर (obstructed labour) के रूप में भी जाना जाता है।

बच्‍चे को जन्‍म देने के लिए मां पुश करने की कोशिश करती है, लेकिन फैट वेजाइना के कारण फोर्स सही दिशा में लक्षित नहीं हो पाता।

थोड़ी देर के बाद मां थक जाती है और सी-सेक्शन के अलावा कोई और विकल्‍प नहीं बचता।

“इसके बावजूद आप सी-सेक्‍शन के लिए केवल फैट वेजाइना को दोषी नहीं ठहरा सकते। क्योंकि डिलीवरी के दौरान अन्य कई जटिलताएं हो सकती हैं, जिसके कारण डॉक्टर को मां का ऑपरेशन करना पड़ता है। लेकिन इसमें कोई शक नहीं कि सी-सेक्‍शन के लिए जिम्‍मेदार कारणों में से एक फैट वेजाइना है।

0 कमेंट्स

कृपया अपना कमेंट पोस्ट करें

Your email address will not be published. Required fields are marked *

टीम हेल्‍थ शॉट्स टीम हेल्‍थ शॉट्स

ये हेल्‍थ शॉट्स के विविध लेखकों का समूह हैं, जो आपकी सेहत, सौंदर्य और तंदुरुस्ती के लिए हर बार कुछ खास लेकर आते हैं।

संबंधि‍त सामग्री