फैटी लीवर की समस्या से बचना है, तो आज ही से डाइट में रखे इन 6 बातों का ख्याल 

यदि लीवर पर वसा का जमाव होने लगता है तो ऐसे में पाचन संबंधी समस्याओं के साथ ही अन्य बीमारियां भी शरीर में जन्म लेने लगती हैं। 

इन फ़ूड आयटम्स का साथ पाएं फैटी लीवर से छुटकारा, चित्र:शटरस्टॉक
  • 111
ख़राब दिनचर्या तथा डाइट के सही न होने के कारण लोगों को कई बीमारियों से जूझना पड़ता है। ऐसी ही एक बीमारी फैटी लीवर की समस्या भी आजकल देखने को मिल रही है। फैटी लीवर (Fatty liver disease) एक ऐसी बीमारी है, जिसमें लीवर या यकृत पर फैट जमा होने लगता है। लीवर हमारे शरीर का एक महत्वपूर्ण भाग है, जो न सिर्फ़ भोजन को पचाने में मदद करता है बल्कि शरीर से टॉक्सिन अर्थात ज़हरीले व हानिकारक पदार्थों को शरीर से बाहर निकालने में भी मदद करता है। इसी के साथ लीवर ऊर्जा को ग्लूकोज के रूप में भी जमा करके रखता है।
यदि लीवर पर वसा का जमाव होने लगता है, तो पाचन संबंधी समस्याओं के साथ ही कैंसर समेत अन्य गंभीर बीमारियां भी शरीर में जन्म ले सकती हैं। 

यहां हैं वे टिप्स जो आपको फैटी लीवर की समस्या से बचा सकते हैं 

1 वसायुक्त भोजन से दूर रहें

आपके लीवर के स्वास्थ्य के लिए फास्ट फ़ूड जैसे फ्रेंच फ्राइज और बर्गर खराब विकल्प हैं। बहुत सारे ऐसे खाद्य पदार्थ जिनमें संतृप्त वसा (trans fat)अधिक होते हैं, वे आपके लीवर की फंक्शनिंग को मुश्किल बना सकते हैं। 
समय के साथ फंक्शनिंग में आई यह दिक्कत सूजन का कारण बन सकती है, जो आगे जाकर सिरोसिस बन सकता है। तो अगली बार जब आप ड्राइव-थ्रू लाइन में हों, तो एक स्वस्थ विकल्प ऑर्डर करने के बारे में सोचें।

2 ब्रोकली को करें आहार में शामिल 

अगर आप अपने लीवर को स्वस्थ रखना चाहती हैं, तो अपने आहार में ढेर सारी सब्जियां शामिल करें। ब्रोकली इस रणनीति का हिस्सा हो सकती है। कुछ अध्ययनों से पता चलता है कि यह कुरकुरे भोजन आपको नॉन एल्कहोलिक फैटि लीवर डिजीज से बचाने में मदद कर सकता है। 
अगर उबली हुई ब्रोकली थोड़ी ज्यादा फीकी लगती है, तो इसे स्लाइस में काट लें और इसे कटे हुए बादाम, सूखे क्रैनबेरी और एक टैंगी विनैग्रेट के साथ टॉस करें। लहसुन के साथ भुनी हुई ब्रोकली पर सिरके का छिड़काव इसे और भी स्वादिष्ट बना देता है।

3 कॉफ़ी

अगर आप कॉफ़ी के बिना नहीं रह सकती हैं, तो आपको यह जानकर खुशी होगी कि इससे आपके लीवर को भी काफी फायदा होता है।
aapki health ke liye cheeni kam kren
चीनी का सेवन सीमित रखें। चित्र : शटरस्टॉक
अध्ययनों से पता चलता है कि दिन में दो से तीन कप कॉफी  पीना आपके लीवर को बहुत अधिक शराब या अस्वास्थ्यकर आहार से होने वाले नुकसान से बचा सकता है। कुछ शोध बताते हैं कि यह आपके लीवर कैंसर के खतरे को कम कर सकता है।

4 चीनी कम खाएं 

बहुत अधिक मीठी चीजें आपके लीवर पर भारी पड़ सकती हैं। ऐसा इसलिए क्योंकि इसके काम का एक हिस्सा चीनी को वसा में बदलना है। यदि आप इसे ज़्यादा करते हैं, तो आपका लीवर बहुत अधिक वसा बनाता है। जो आगे जाकर, आपको फैटी लीवर की तकलीफ दे सकता है। तो अपने लीवर पर एहसान करें और अपने स्वीट टूथ की क्रेविंग पर कंट्रोल करें।

5 ग्रीन टी पिएं 

यह कैटेचिन नामक एक प्रकार के एंटीऑक्सीडेंट से भरपूर होता है। शोध बताते हैं कि यह लीवर सहित कुछ प्रकार के कैंसर से बचाव कर सकता है।

green tea fat cut karne me madad karti hai
ग्रीन टी लीवर फैट कंट्रोल करने में भी मददगार है । चित्र : शटरस्टॉक

यदि इसे गर्म पीते हैं, तो आपको अधिक कैटेचिन मिलेंगे। आइस्ड टी और रेडी-टू-ड्रिंक ग्रीन टी में इसका स्तर काफी कम होता है।

6 खूब पानी पिएं 

आपके लीवर के लिए सबसे अच्छी चीजों में से एक है संतुलित वजन होना। सोडा या स्पोर्ट्स ड्रिंक जैसे मीठे पेय के बजाय पानी पीने की आदत डालें। यह आपका कैलोरी कन्ज़म्प्शन भी कम करेगा। साथ ही शरीर भी हाइड्रेटेड रहेगा। 

यह भी पढ़ें: क्या वैक्सिंग करवाने से बाल और ज्यादा कड़े और लंबे हो जाते हैं? आइए जानते हैं ये मिथ है या फैक्ट

  • 111

पीरियड ट्रैकर

अपनी माहवारी को ट्रैक करें हेल्थशॉट्स, पीरियड ट्रैकर
के साथ।

ट्रैक करें
nextstory