लॉग इन

गौहर खान ने प्रेगनेंसी के बाद 10 दिनों में घटाया वजन, जान लें इतनी तेजी से वजन घटाने के नुकसान

बिग बॉस फेम गोहर खान हाल ही में मांं बनी है और उनका वेट लॉस देखकर सभी को हैरान कर दिया। उन्होने पोस्टपार्टम के बाद 10 दिनों में 10 किलो वजन कम किया है।
बिग बॉस 7 की विनर और इश्कजादे फेम गौहर खान हाल ही में मां बनी है।
Updated: 9 Jun 2023, 04:24 pm IST
ऐप खोलें

अभिनेत्रियों पर फिट और बॉडी को शेप में रखने का इतना दबाव होता है कि उन्हें अपने पोस्टपार्टम के बाद ज्यादा समय बच्चे के बिताने के बजाय जिम और योगा क्लास में बिताना पड़ता है। कई एक्ट्रेस है जिन्होने बेबी के बाद काफी कम समय में अपना वेट कम किया। हाल ही में इस सूची में गोहर खान का नाम चर्चा का विषय बना हुआ है। बिग बॉस 7 की विनर और इश्कजादे फेम गौहर खान हाल ही में मां बनी है। उन्होने अपने पोस्पार्टम के बाद इंस्टाग्राम पर एक वीडियो शेयर किया और बताया कि उन्होने प्रेगनेंसी के बाद 10 दिनों में 10 किलों वजन कम किया है और 6 किलों और कम करना चाहती है।

ऐसा कई अभिनेत्रियां है जिन्होने प्रगनेंसी के बाद अपने वजन को कम किया और वापस से फिट हो गई जिसमें आलिया भट्ट, अनिष्का शर्मा, सोनम कपूर शामिल है लेकिन गौहर खान के जितना कम समय में किसी ने वजन नही घटाया। इतने कम समय में वजन कम करने के क्या कुछ नुकसान हो सकते है आइए जानते है।

इस बारे में ज्यादा जानकारी लेने के लिए हमने बात की डायटिशियन और वेट लॉस एक्सपर्ट शिखा कुमारी से।

प्रेगनेंसी के बाद तेजी से वजन घटाने से होने वाले संभावित नुकसान

मां और बच्चे में पोषक तत्वों की कमी

शिखा कुमारी बताती है कि तेजी से वजन घटाने से आवश्यक पोषक तत्वों का अपर्याप्त सेवन हो सकता है, खासकर यदि आप स्तनपान कर रहे हैं। आपके शरीर को स्तनपान कराने और प्रसवोत्तर रिकवरी को बढ़ावा देने के लिए अतिरिक्त पोषक तत्वों की आवश्यकता होती है। अपर्याप्त पोषक तत्वों का सेवन आपके ऊर्जा स्तर, प्रतिरक्षा और समग्र स्वास्थ्य को प्रभावित कर सकता है।

दूध की आपूर्ति में कमी

यदि आप स्तनपान करा रही हैं, तो अत्यधिक कैलोरी को सीमित करना या बहुत जल्दी वजन कम करना दूध उत्पादन को नकारात्मक रूप से प्रभावित कर सकता है। अपने बच्चे के लिए पर्याप्त दूध की आपूर्ति सुनिश्चित करने के लिए एक संतुलित आहार और धीरे-धीरे वजन घटाने को प्राथमिकता देना महत्वपूर्ण है।

आप लगातार थकी हुई रहेंगी

तेजी से वजन घटाने से थकान और ऊर्जा का स्तर कम हो सकता है, जो विशेष रूप से चुनौतीपूर्ण हो सकता है जब आप पहले से ही नवजात शिशु की देखभाल कर रहे हों। इस समय के दौरान अपने ऊर्जा के स्तर का समर्थन करने के लिए, पर्याप्त आराम और पौष्टिक भोजन सहित खुद की देखभाल को प्राथमिकता देना महत्वपूर्ण है।

मांसपेशियों को हो सकता है नुकसान

बहुत जल्दी वजन कम करने से वसा के साथ-साथ मांसपेशियों का भी नुकसान हो सकता है। समग्र शक्ति, चयापचय और शरीर की संरचना के लिए मांसपेशियों का संरक्षण महत्वपूर्ण है। प्रतिरोध प्रशिक्षण सहित नियमित व्यायाम के साथ धीरे-धीरे वजन घटाने से शरीर में वसा को कम करते हुए मांसपेशियों को बनाए रखने में मदद मिल सकती है।

तेजी से वजन घटाने से आवश्यक पोषक तत्वों का अपर्याप्त सेवन हो सकता है।

बन सकता है हार्मोनल असंतुलन का कारण

प्रेगनेंसी के बाद काफी जल्दी वजन कम करना शरीर में हार्मोनल संतुलन को संभावित रूप से बाधित कर सकता है, जो मासिक धर्म चक्र और समग्र प्रजनन स्वास्थ्य को प्रभावित कर सकता है। गर्भावस्था के बाद अपने शरीर को स्वाभाविक रूप से ठीक होने का समय देना महत्वपूर्ण है और वजन घटाने की प्रक्रिया में जल्दबाजी न करें।

भावनात्मक स्वास्थ्य हो सकता है प्रभावित

गर्भावस्था के बाद तेजी से वजन घटाने या अपनी फिगर पर अत्यधिक ध्यान केंद्रित करने से तनाव और दबाव बढ़ सकता है। जो संभावित रूप से आपकी भावनात्मक रूप को प्रभावित करता है। इस दौरान स्व-देखभाल, शरीर की सकारात्मकता को प्राथमिकता देना और परिवार और दोस्तों से समर्थन प्राप्त करना महत्वपूर्ण है।

अपनी रुचि के विषय चुनें और फ़ीड कस्टमाइज़ करें

कस्टमाइज़ करें

ये भी पढ़े- PCOS : माइक्रोवेव में प्लास्टिक के बर्तनों का इस्तेमाल बढ़ा देता है पीसीओएस के लक्षण, जानिए प्रजनन स्वास्थ्य पर इसका प्रभाव

अगला लेख