एसिडिटी से तुरंत छुटकारा दिला सकती है ये एक आयुर्वेदिक ड्रिंक, जानिए कैसे बनानी है

पाचन संबंधी समस्याओं का अगर समय रहते उपचार न किया जाए तो ये हेयर फॉल, अनहेल्दी स्किन और वजन बढ़ने का कारण बन सकती हैं।
पाचन के लिए लाभकारी है आयुर्वेदिक जड़ी-बूटी। चित्र शटरस्टॉक
निशा कपूर Published on: 16 Nov 2022, 16:25 pm IST
ऐप खोलें

सर्दियों के मौसम में लोग अक्सर अधिक भोजन करते हैं और मसालेदार, तला हुआ भोजन करना पसंद करते हैं। सुबह के नाश्ते में जब तक पराठे न हों, नाश्ते का मज़ा अधूरा रहता है। लेकिन अधिक तला हुआ भोजन जैसे पराठे और भरवां पूड़ियां इस मौसम में पाचन संबंधी समस्याओं का भी कारण बनता है। जिससे गैस और एसिडिटी की समस्या भी बढ़ जाती है। आम सी नज़र आने वाली इस परेशानी को अगर समय रहते नियंत्रित न किया जाए, तो यह कई स्वास्थ्य जोखिमों का कारण बन सकती है। इसलिए आज हेल्थ शाॅट्स पर हम आपके लिए लाए हैं आयुर्वेदिक हर्ब्स (Ayurvedic herbs for digestion) से तैयार एक ऐसी मैजिकल ड्रिंक (Ayurvedic drink for digestion) जो गैस, एसिडिटी और अपच से मिनटों में छुटकारा दिला सकती है। आइए जानते हैं इसके बारे में सब कुछ।

जब लोअर एसोफैगल स्फिंक्टर (गले और पेट को जोड़ने वाली नली) कमजोर होने लगती है, तब पेट में मौजूद एसिड ऊपर की तरफ आने लगता है। इससे एसिडिटी की परेशानी होने लगती है।

एसिडिटी आपको परेशान कर सकती है। चित्र शटरस्टॉक।

ये हैं अपच और एसिडिटी के सामान्य कारण

आयुर्वेदिक एक्सपर्ट डॉक्टर दीक्षा भावसार सावलिया कहती हैं कि आजकल एसिडिटी, ब्लोटिंग जैसी समस्याएं बहुत आम हो गईं हैं। जिससे राहत पाने के लिए आप कई तरह के उपाय करते हैं। मसालेदार भोजन, अधिक चॉकलेट का सेवन, धूम्रपान, शराब, सही समय पर भोजन न करना एसिडिटी की मुख्य वजह हैं।

डॉ दीक्षा कहती हैं कि अगर पाचन संबंधी समस्याओं का समय पर उपचार न किया जाए, तो ये बालों के झड़ने, माइग्रेन और वजन बढ़ने का भी कारण बन सकती हैं। इसलिए आयुर्वेद में कुछ हर्ब्स का उल्लेख किया गया है जो आपको उपरोक्त समस्याओं के साथ ही हार्मोनल संतुलन, शुगर कंट्रोल करने, इंसुलिन प्रतिरोध, सूजन और बेहतर प्रतिरक्षा (खांसी-जुकाम को रोकने के लिए) में भी मददगार हो सकती हैं।

यह भी पढ़े- काले होंठों का जादुई उपचार हैं ये घरेलू नुस्खे, जानिए कैसे करना है इस्तेमाल

यहां हैं वे आयुर्वेदिक हर्ब्स जो सर्दियों में होने वाली पाचन संंबंधी समस्या से आपको छुटकारा दिला सकती हैं –

1. कड़ी पत्ता

कड़ी पत्ता बालों के झड़ने, शुगर के स्तर को कम करने, हीमोग्लोबिन में सुधार और वजन घटाने में मदद करता है।

2. अजवायन के पत्ते

अजवायन की पत्तियां सूजन, अपच, खांसी, सर्दी, मधुमेह, अस्थमा और वजन घटाने में मदद करती हैं।

3. धनिया बीज

धनिया के बीज मेटाबॉलिज्म, माइग्रेन का सिरदर्द, हार्मोनल संतुलन और थायराइड में सुधार के लिए सबसे अच्छे हैं।

4. जीरा

जीरा शुगर कंट्रोल, फैट बर्न, एसिडिटी, माइग्रेन, कोलेस्ट्रॉल और बहुत कुछ के लिए सबसे अच्छा है।

वजन घटाने के लिए रात में गर्म पानी के साथ इलायची लें। चित्र : शटरस्टॉक

5. इलायची

इलायची मोशन सिकनेस, मतली, माइग्रेन, उच्च रक्तचाप और यहां तक ​​कि त्वचा और बालों के लिए भी अच्छी है क्योंकि इसमें एंटी-ऑक्सीडेंट होते हैं।

6. अदरक

अदरक सर्दियों की सभी बीमारियों से लड़ने के लिए सबसे अच्छा उपचार है। इसके साथ ही यह अपच, गैस, भूख न लगना और वजन घटाने में भी मदद करता है।

आइए अब तैयार करते हैं पाचन में सुधार के लिए ये मैजिकल आयुर्वेदिक ड्रिंक

इसके लिए आपको चाहिए

  • पानी- 2 गिलास
  • कड़ी पत्ता – सात से दस
  • अजवायन के पत्ते – 3
  • सूखा धनिया या धनिया के बीज – 1 बड़ा चम्मच
  • जीरा- 1 छोटा चम्मच
  • इलायची- 1 (कुटी हुई)
  • अदरक का टुकड़ा-1 इंच (कद्दूकस किया हुआ)

इस तरह तैयार करें डाइजेस्टिव ड्रिंक

एक पेन में पानी लें और इसमें सभी सामग्री डालकर इसे करीब 5 मिनट के लिए मध्यम आंच पर उबालें। फिर इसे छान लें, लीजिए आपकी डाइजेस्टिव ड्रिंक तैयार है।

  • एक बार सेवन करने के लिए इसमें से सिर्फ 100 मिली पीना ही काफी है।
  • वजन घटाने के लिए इसमें आधा नींबू मिलाएं।
  • सामान्य चाय के बजाय, सर्दियों के दौरान सुबह सबसे पहले इस चाय का सेवन करें। ताकि आप स्वस्थ रह सकें।

यदि आप माइग्रेन, मोटापा, हार्मोनल असंतुलन, थायराइड, पीसीओएस (PCOS), खराब गट हेल्थ (Gut health) से पीड़ित हैं और इसे आयुर्वेदिक जीवनशैली और पोषण के साथ ठीक करना चाहते हैं, तो आप इस ड्रिंक को आजमा सकते हैं और इन समस्याओं से राहत पा सकते हैं।

यह भी पढ़े- आपकी बोन्स और हार्ट हेल्थ को नुकसान पहुंचा सकता है जरूरत से ज्यादा प्रोटीन, जानिए इसके 3 साइड इफैक्ट

लेखक के बारे में
निशा कपूर

देसी फूड, देसी स्टाइल, प्रोग्रेसिव सोच, खूब घूमना और सफर में कुछ अच्छी किताबें पढ़ना, यही है निशा का स्वैग। ...और पढ़ें

Next Story