Yoga for Good Sleep : एक थकान भरे सप्ताह के बाद इन 4 आसनों के अभ्यास से पाएं अच्छी और गहरी नींद

हमें मालूम है कि पूरे सप्ताह आपके सोने और जागने का कोई समय निश्चित नहीं होता। सिर्फ ऑफिस वर्क ही नहीं, और बहुत सी जिम्मेदारियां आपकी नींद चुरा लेती हैं। तो अब वीकेंड पर सब कुछ भूलकर एक अच्छी नींद के लिए इन योगासनों का अभ्यास जरूर करें।
Bhadrasan kaise hain faydemand
सेक्सुअल हेल्थ को उचित बनाए रखने के लिए इसे रूटीन में शामिल करना फायदेमंद साबित होता है। चित्र : अडोबी स्टॉक
स्मिता सिंह Updated: 19 Jun 2023, 13:44 pm IST
  • 125

सुबह जब आप जगती हैं, तो आपको बिछावन छोड़ने के लिए संघर्ष करना पड़ता है? आपको पीठ दर्द, जोड़ों का दर्द रहता है? इसकी वजह से आप पूरे दिन सक्रिय महसूस नहीं कर पाती हैं। आपको काम के समय जम्हाई आ सकती है, थकान महसूस हो सकता है। यह सब रात में अच्छी नींद नहीं आने के कारण हो सकता है। योग विशेषज्ञ बताते हैं कि कुछ योगासन आपको अच्छी नींद (Yoga for Good Sleep) दिलाने में मदद कर सकते हैं।

अच्छी नींद के लिए कम समय वाले योगासन (Yoga for Good Sleep)

योग टीचर और सोशल मीडिया इन्फ्लुएंसर डॉ. स्मृति अपने इन्स्टाग्राम पोस्ट में बताती हैं, कुछ योगाभ्यास अच्छी नींद लाने में मदद कर सकते हैं। ये अभ्यास उन सभी के लिए हैं, जो अपने लिए कम समय निकाल पाते हैं। इसके लिए सिर्फ धीमा होना बहुत जरूरी है। यहां धीमा होने से मतलब है कि कुछ समय के लिए खुद को फोन, वर्क, रिलेशन सभी से डिस्कनेक्ट करें। सिर्फ अपने शरीर और सांस पर ध्यान दें।

अपने-आप पर 20 मिनट समय दें (Yoga for 20 minutes)

डॉ. स्मृति बताती हैं, ‘यह आसन 20 मिनट के लिए हर रात को किया जा सकता है। इसके लिए हमें अपने पैरासिम्पेथेटिक नर्वस सिस्टम को सक्रिय करने की जरूरत है। अपने शरीर को रीसेट करना है। इन सभी आसनों में हमें सामान्य सांस लेना है। ये सभी आसन हर किसी के लिए सुरक्षित हैं। फिर भी अगर बेचैनी महसूस हो रही है और चक्कर आ रहे हैं, तो इसे तुरंत बंद कर दें।’ इन सभी आसनों को तकिये के मदद से करना है।

ये 4 आसन अच्छी नींद लाने में कर सकते हैं मदद ( 4 Yoga for Good Sleep)

अच्छी नींद लाने के लिए सोने से पहले ये कुछ आसन अच्छी नींद लाने में मदद कर सकते हैं (Yoga for Good Sleep)। इसे नियमित रूप से करना जरूरी है। शुरुआत 5 मिनट से कर सकती हैं। धीरे-धीरे 20 मिनट तक समय बढायें

योग अच्छी नींद दिला सकते हैं।

1 पश्चिमोत्तानासन (Paschimottanasana)

पश्चिमोत्तानासन शरीर को रिलैक्स करने के अलावा पाचन तंत्र (Digestive System) को मजबूत बनाता है। ओवरी और यूटरस (Ovary and Uterus) को हील करता है। यह फैटी लीवर (Yoga for Fatty Liver) को कम करता है।

कैसे करें पश्चिमोत्तानासन (How to do Paschimottanasana)

बेड पर पैर आगे सीधा रखकर बैठ जाएं। दोनों पैर को मिला लें।
पैर पर 2 पिलो रख लें। हाथ आगे जोडकर तकिये पर अपने सिर को कुछ मिनट तक रख लें।
सिर को किसी एक साइड रखें। आपका शरीर रिलैक्स होना चाहिए।

पश्चिमोत्तानासन शरीर को रिलैक्स करने के अलावा पाचन तंत्र को मजबूत बनाता है। चित्र : अडोबी स्टॉक

2 शशांकासन (Shashankasana)

यह एंगर को रिलीज (Shashankasana for Anger Release) करता है। यह पेल्विक रीजन (Pelvic Area) और रीप्रोडक्टिव सिस्टम (Reproductive System ) को मजबूती देता है।

कैसे करें शशांकासन (How to do Shashankasana)

दोनों तकिये को आगे रख लें।
दोनों घुटने को मोड़ कर बैठ जाएं।
शरीर को रिलैक्स करते हुए सिर को तकिये पर डाल दें।
सिर किसी एक साइड होना चाहिए

अपनी रुचि के विषय चुनें और फ़ीड कस्टमाइज़ करें

कस्टमाइज़ करें

3 बद्धकोणासन (Baddha Konasana)

यह हर प्रकार की थकान को दूर करता है। पीरियड क्रेम्प्स में राहत पहुंचाता है।

कैसे करें बद्धकोणासन (How to do Baddha Konasana)

तितली आसन में जिस तरह दोनों पैर को मिलाकर बैठते हैं, बैठ जाएं।
अपने आगे दोनों तकिये को रख लें।
पूर्व की तरह रिलैक्स होकर सिर को तकिये पर डाल दें

बद्धकोणासन हर प्रकार की थकान को दूर करता है। चित्र : अडोबी स्टॉक

4 पदोत्तानासना ( Padottanasana)

यह वेरिकोज वेंस के कारण होने वाले दर्द को कम करता है। यह अनियमित पीरियड और कांस्टीपेशन की समस्या को दूर करता है। इससे स्किन भी ग्लो करती है।

कैसे करें पदोत्तानासना (How to do Padottanasana)

अपने पैर को दीवार के सहारे टिका लें।
रिलैक्स हो जाएं।
दोनों हाथों को आराम की मुद्रा में पेट पर रख लें।

यह भी पढ़ें :- Yoga for Stress : डे टू डे लाइफ में होने वाले तनाव की छुट्टी कर सकते हैं योग के ये 4 आसन, जानिए करने का सही तरीका

  • 125
लेखक के बारे में

स्वास्थ्य, सौंदर्य, रिलेशनशिप, साहित्य और अध्यात्म संबंधी मुद्दों पर शोध परक पत्रकारिता का अनुभव। महिलाओं और बच्चों से जुड़े मुद्दों पर बातचीत करना और नए नजरिए से उन पर काम करना, यही लक्ष्य है।...और पढ़ें

अगला लेख