वैलनेस
स्टोर

डेंगू में अगर प्लेटलेट्स घटने लगें, तो इन घरेलू उपायों की लें मदद

Published on:15 May 2021, 15:30pm IST
डेंगू में प्लेटलेट्स का घट जाना सबसे ज्‍यादा घातक स्थिति होती है। इसलिए जरूरी है कि इनके काउंट पर नजर रखें और समय रहते घरेलू तरीके आजमाएं।
अंबिका किमोठी
  • 71 Likes
घरेलू उपचारों की मदद से आप डेंगू में प्‍लेटलेट्स बढ़ा सकती हैं। चित्र: शटरस्‍टॉक

16 मई को भारत में नेशनल डेंगू डे के तौर पर मनाया जाता है। हालांकि भारत में मच्‍छरों से फैलने वाली इस बीमारी का प्रसार बरसात के दिनों में ज्‍यादा होता है। फि‍र भी समय रहते इस पर जागरूकता फैला कर इसे कंट्रोल करना जरूरी है। डेंगू से हर साल 5 से 10 करोड़ लोग संक्रमित होते हैं। जिनमें से कईयों की प्‍लेटलेट्स कम होने के कारण मृत्‍यु हो जाती है। ऐसे में जरूरी है कि आप मरीज के प्‍लेटलेट्स काउंट पर लगातार नजर रखें और जरूरी घरेलू उपाय अपनाएं।

बुखार आने पर क्या करें

इसका उपाय एक ही है, ऐसी स्थिति में बुखार के समय मरीजों को उनका प्लेटलेट काउंट समय-समय पर चैक करवाते रहना चाहिए। जिससे आप अपने प्लेटलेट्स को कम होने से रोक सकें। इसके साथ-साथ आपको अपने आहार में प्लेटलेट्स बढ़ाने वाले पौष्टिक आहार को शामिल करना चाहिए।

डेंगू होने पर प्‍लेटलेट्स घटना घातक हो सकता है। चित्र: शटरस्‍टॉक

क्‍या हैं प्लेटलेट्स

प्लेटलेट्स छोटी रक्त कोशिकाएं होती हैं, जो खासतौर पर बोनमैरो में पाई जाती हैं। हमारे शरीर में प्लेटलेट्स की कमी इस बात को दिखाती है कि खून में बीमारियों से लड़ने की ताकत कम हो रही है। प्लेटलेट्स कम होने की इस स्थिति को थ्रोम्बोसाइटोपेनिया कहा जाता है।

एक स्वस्थ व्यक्ति में प्लेटलेट्स की संख्या कितनी होनी चाहिए?

एक स्वस्थ व्यक्ति में सामान्य प्लेटलेट काउंट 150 हजार से 450 हजार प्रति माइक्रोलीटर होता है। जब ये काउंट 150 हजार प्रति माइक्रोलीटर से नीचे चला जाता है, तो इसे लो प्लेटलेट माना जाता है।

प्लेटलेट्स कम होने का कारण

दवाओं के सेवन से
आनुवंशिक रोगों
कुछ प्रकार के कैंसर
कीमोथेरेपी ट्रीटमेंट
बुखार जैसे डेंगू, मलेरिया व चिकनगुनिया

डेंगू बुखार में सबसे ज्‍यादा जरूरी है कि आप प्‍लेटलेट्स काउंट पर नजर रखें। चित्र: शटरस्‍टॉक

अगर प्लेटलेट्स घटने लगें, तो इन घरेलू उपायों की लें मदद

1 चुकंदर

प्लेटलेट्स बढ़ाने के लिए सबसे पहले चुकंदर को आप अपने खाने में शामिल कर सकती हैं। आप इसका सलाद और जूस बनाकर भी सेवन कर सकती हैं। एंटीऑक्सीट्डेंट से भरपूर चुकंदर में प्लेटलेट्स बढ़ाने के लिए सभी जरूरी गुण मौजूद होते हैं। इसका सेवन करने से आपका इम्यून सिस्‍टम मजबूत रहता है।

2 पपीते के पत्ते

पपीते के पत्तों को पानी में उबालकर उसे ग्रीन टी के रूप में पीने से काफी लाभ होता है। साल 2009 में मलेशिया के शोधकर्ताओं ने ये दावा किया था कि प्लेटलेट्स बढ़ाने में पपीता ही नहीं, उसकी पत्तियां भी मददगार साबित होती हैं। ‘खासतौर पर डेंगू बुखार के कारण कम हुए प्लेटलेट्स को संतुलित करने में पपीता फायदेमंद होता है।

पपीते के फायदे तो हम सभी जानते हैं, लेकिन क्या आप जानते हैं पपीते के पत्ते में है गुणों का भंडार। चित्र- शटरस्टॉक।

3 आंवला

ये एक आयुर्वेदिक उपचार है। आंवले में मौजूद विटामिन-सी शरीर में प्लेटलेट्स का उत्पादन बढ़ाता है, इससे शरीर की इम्युनिटी बढ़ती है। इसका नियमित सेवन करना बेहद जरूरी है। इसके लिए हर दिन सुबह खाली पेट 3 से 4 आंवला खाएं। आप इसका सेवन चुकंदर के जूस में डालकर भी कर सकती हैं।

इसके अलावा ये चीजें भी हो सकती हैं मददगार

  1. प्लेटलेट्स बढ़ाने के लिए कीवी का सेवन करें।
  2. गाजर का नियमित सेवन करें।
  3. नारियल पानी का सेवन करें। इसमें मौजूद इलेक्ट्रोलाइट्स और मिनरल्स प्लेटलेट्स बढ़ाने में बेहद मददगार साबित होते हैं।
  4. बकरी का दूध भी प्लेटलेट्स बढ़ाने में बहुत लाभकारी होता है।

नोट- प्लेटलेट्स बढ़ाने के लिए इन खाद्य पदार्थों को पका कर खाने की जगह कच्चा ही खाएं। साथ ही ध्‍यान रहे कि डेंगू एक खतरनाक बीमारी है। इसलिए यह जरूरी है कि इसके लिए अपनी मर्जी से कोई भी उपचार न करें। बल्कि होम रेमेडीज के लिए भी डॉक्‍टर के परामर्श पर भरोसा करें।

यह भी पढ़ें – National Dengue Day : मामूली बुखार समझकर डेंगू को नजरअंदाज करना हो सकता है घातक

अंबिका किमोठी अंबिका किमोठी

योगा, डांस और लेखनी, यही सफर के साथी हैं। अपनी रचनात्‍मकता में देखूं कि ये दुनिया और कितनी प्‍यारी हो सकती है।