और पढ़ने के लिए
ऐप डाउनलोड करें

क्या बोतल बंद पानी पीने से बढ़ सकता है कैविटी का खतरा? चलिये पता करते हैं

Published on:3 October 2021, 08:00am IST
दांतों की सड़न पिछले कुछ वर्षों में तेजी से बढ़ रही है, लेकिन क्या आप जानते हैं कि बोतल बंद पानी या पैकेज्ड वॉटर इसके सबसे बड़े कारणों में से एक हो सकते हैं।
टीम हेल्‍थ शॉट्स
  • 124 Likes
cavities and packaged water
जंक फूड के सेवन और बोतलबंद पानी के कारण दांतों के सड़ने की संभावना बढ़ गई है। चित्र : शटरस्टॉक

कभी आपने सोचा है कि आपके पीने का पानी कहां से आ रहा है। नल के पानी और पैकेज्ड बोतलबंद पानी में क्या अंतर है? यदि नहीं, तो निश्चित रूप से ध्यान देने का यह सही समय है। यदि आप पैकेज्ड पीने का पानी पीते हैं तो, फ्लोराइड की कमी के कारण कैविटी होने का जोखिम अधिक होता है।

हाल के वर्षों में बदलती जीवनशैली, जंक फूड के सेवन और बोतलबंद पानी के कारण दांतों के सड़ने की संभावना बढ़ गई है।

क्या होता है पैकेज्ड पानी में

जैसा कि अधिक उपभोक्ता पैकेज्ड पानी पीते हैं, उनमें से केवल कुछ ही पर्याप्त फ्लोराइड का सेवन करते हैं। दंत क्षय को रोकने के लिए पीने के पानी में फ्लोराइड की मात्रा लगभग 1.2 पीपीएम/लीटर होनी चाहिए। पैकेज्ड पानी की बोतलों में केवल 0.11 पीपीएम/लीटर होता है। अध्ययन बताते हैं कि 10% से कम पैकेज्ड बोतलबंद पानी में 0.3 पीपीएम फ्लोराइड प्रति लीटर से अधिक होता है।

oral health ka khyal rakhein
आपने मौखिक स्वास्थ्य का ख्याल रखें . चित्र : शटरस्टॉक

पैकेज्ड पानी में फ्लोराइड की कमी से कैविटी हो सकती है। यदि बोतलबंद पानी आपके पीने के पानी का मुख्य स्रोत है, तो संभावना है कि आप फ्लोराइड के क्षय-निवारक लाभों (decay-preventive benefits) से वंचित हो सकते हैं।

बेशक, इसका मतलब यह नहीं है कि आपको नल का पानी पीना है। आखिरकार, यह अब भी बहस की मुद्दा है कि क्या नल के पानी में फ्लोराइड वास्तव में मदद करता है, या अगर यह दांतों के एनेमल को तोड़ता है और दांतों को नुकसान पहुंचाता है। इन मुद्दों पर और गंभीरता से शोध किए जाने की जरूरत है।

नियमित मात्रा में फ्लोराइड कैविटी को रोकने में मददगार साबित हो सकता है, चलिये पता करते हैं कैसे –

ताकत बढ़ाता है:

एक मजबूत खनिज होने के कारण, फ्लोराइड इनैमल में एक परत जोड़ता है और इसे मजबूत करता है।

बैक्टीरिया को रोकता है:

फ्लोराइड बैक्टीरिया को रोकता है और बैक्टीरिया की एसिड सहनशीलता को कम कर देता है। यह इस प्रकार हमारे दांतों की सुरक्षा करता है।

इनैमल को सही करता है :

दंत क्षय को रोकने के लिए, फ्लोराइड मिनरलाइजेशन को बढ़ावा देता है, यानी, टूथ इनैमल को फिर से मजबूत करना।

oral health
आपने डाटों का ख्याल रखें। चित्र : शटरस्टॉक

फ्लोराइड की कमी – इसकी कमी दांतों में हाइपो-फ्लोरोसिस भी विकसित कर सकती है, एक ऐसी स्थिति जो आपके दांतों पर सफेद धब्बे छोड़ सकती है।

शरीर में फ्लोराइड प्राप्त करने का एक अच्छा तरीका है सप्लिमेंट लेना। विशेष रूप से पैकेज्ड बोतलबंद पानी का सेवन करने वाले बच्चों के लिए। हालांकि, यह एक विशेषज्ञ की देखरेख में होना चाहिए।

अपनी मौखिक समस्याओं का जल्द पता लगाना महत्वपूर्ण है। तो, आप भी फ्लोराइड की कमी का पता लगाएं और तुरंत सही कदम उठाएं।

यह भी पढ़ें : Breast Cancer Awareness Month : निप्पल में दर्द के लिए जिम्मेदार हो सकते हैं ये 7 कारण

टीम हेल्‍थ शॉट्स टीम हेल्‍थ शॉट्स

ये हेल्‍थ शॉट्स के विविध लेखकों का समूह हैं, जो आपकी सेहत, सौंदर्य और तंदुरुस्ती के लिए हर बार कुछ खास लेकर आते हैं।