और पढ़ने के लिए
ऐप डाउनलोड करें

Karwa Chauth 2021: करवा चौथ पर मेहंदी लगाना शुभ है, लेकिन क्या यह आपकी त्वचा के लिए सुरक्षित है? जानिए क्या है सच्चाई

Published on:23 October 2021, 08:00am IST
करवा चौथ (Karwa Chauth) एक ऐसा त्योहार है जब महिलाएं अपनी हथेलियों और पैरों को मेहंदी के खूबसूरत डिजाइनों से सजाती हैं। लेकिन क्या यह आपकी त्वचा के लिए सुरक्षित है?
टीम हेल्‍थ शॉट्स
  • 102 Likes
Prakritik henna ka upyog kare
इस करवा चौथ प्राकृतिक मेहंदी का उपयोग करें। चित्र: शटरस्टॉक

करवा चौथ (Karwa Chauth 2021) यानि मेहंदी से सजे हाथों और सजी-धजी महिलाएं! उत्सव प्रेमी या विवाहित जोड़ों में ज्यादातर महिलाएं अपने हाथों और पैरों पर मेहंदी (henna) लगाती हैं। मेहंदी निश्चित रूप से सुंदर दिखती है, लेकिन देर-सबेर यह फीकी पड़ने लगती है, जिससे आपकी त्वचा रूखी और शुष्क हो जाती है।

कई महिलाओं को हाथों की मेहंदी के कारण खुजली, लालिमा और त्वचा के छिलने की शिकायत होती है। मेंहदी निकलने का आदर्श तरीका यह है कि रंग धीरे-धीरे कुछ हफ्तों में फीका पड़ जाता है। हालांकि, मिलावटी मेहंदी का उपयोग तेजी से बढ़ रहा है, जिनकी कुछ प्रतिक्रियाएं और दुष्प्रभाव हो सकते हैं।

द एस्थेटिक क्लीनिक, दिल्ली की त्वचा विशेषज्ञ, डॉ. रिंकी कपूर चेतावनी देती हैं कि कुछ लोगों को मेहंदी से एलर्जी (henna allergy) हो सकती है।

Natural henna hai faydemand
प्राकृतिक मेहंदी है फायदेमंद। चित्र : शटरस्टॉक

इसकी वजह बताते हुए वे कहती हैं, “केमिकल युक्त मेहंदी के इस्तेमाल से बचें, जिसमें अमोनिया (ammonia) और पीपीडी केमिकल (PPD chemical) होते हैं। यह त्वचा और बालों को नुकसान पहुंचाता है। यदि आप 100% प्राकृतिक मेंहदी (natural henna) खरीदती हैं, तो मेंहदी का उपयोग करना सुरक्षित है। 

पैक पर निर्माण की तारीख की जांच करें, यह जितना ताज़ा होगा, रंग उतना ही गाढ़ा और त्वचा के लिए अच्छा होगा। केमिकल युक्त मेहंदी (chemical henna) जल्दी फीकी पड़ जाती है और त्वचा और बालों में एलर्जी का कारण बन सकती है।”

हालांकि मेंहदी की अधिकांश किस्में पूरी तरह से सुरक्षित और नॉन-टॉक्सिक होती हैं, लेकिन काली मेंहदी (black henna) में कुछ एलर्जी पैदा करने की क्षमता होती है। जिससे त्वचा पर चकत्ते और आंतरिक परेशानी हो सकती है। इसलिए प्राकृतिक मेहंदी का उपयोग करना सुनिश्चित करें और इसे अपने हाथों पर लगाने से पहले हमेशा पैच टेस्ट (henna patch test) करें।

जानिए प्राकृतिक महंदी के सकारात्मक प्रभाव 

डॉ कपूर कहती हैं, “प्रकृति ने हमें त्वचा और बालों को स्वस्थ रखने के कई तरीके प्रदान किए हैं। प्राकृतिक मेंहदी उनमें से एक है। यह एक अद्भुत और प्राकृतिक उत्पाद है। इसकी खुशबू बेहतरीन होती है और इसमें कोई रसायन नहीं होता। वास्तव में, यह त्वचा और हाथों को कोमल बनाता है।”

mehndi ke fayde
जानिए आपके स्वास्थ्य को कैसे प्रभावित करती है मेहंदी। चित्र : शटरस्टॉक

यह भी कहा जाता है कि शुद्ध मेहंदी का शरीर पर शीतलन प्रभाव (soothing effect of henna) पड़ता है और यह गर्मी और सूजन को रोकता है। प्राकृतिक मेंहदी के कुछ लाभों में शामिल हैं:

  • प्राकृतिक मेंहदी (natural henna) में पारंपरिक चिकित्सा का उपयोग होता है जो जलन और एक्जिमा (eczema) को शांत कर सकता है। 
  • ताजा पत्तियों का उपयोग दाद सहित फंगल और जीवाणु त्वचा संक्रमण (bacterial skin infection) के लिए एक एंटीसेप्टिक (antiseptic) के रूप में किया जाता है। 
  • त्वचा के लाभों के अलावा, डॉ कपूर कहती हैं, यह बालों से ड्राय स्कैल्प, रूसी और जूं को बाहर निकालने में मदद करता है। 
  • यह एंटिफंगल (antifungal) और रोगाणुरोधी (antimicrobial) है, जो स्कैल्प को ठंडा करता है। 
  • नसों पर मेंहदी का शीतलन प्रभाव सूजन को कम कर सकता है। 
  • इसके अलावा, यह उपचार प्रक्रिया को तेज कर सकता है। 

किसी भी तरह के साइड इफेक्ट से बचने के लिए घर पर इस तरह तैयार करें महंदी!

  • 1 कप प्राकृतिक मेहंदी पाउडर
  • 1¼ से 1½ कप नींबू का रस
  • 2 बड़े चम्मच सफेद, दानेदार चीनी (वैकल्पिक) 
  • 3-4 बूंद लैवेंडर या टी ट्री ऑयल
Ghar par banaye mehendi ka ghol
अच्छी तरह से घर पर बनायें महंदी का घोल। चित्र:शटरस्टॉक

तैयार करने का तरीका 

  • एक कटोरे के ऊपर शिफॉन का कपड़ा रखें, फिर उसमें मेहंदी का पाउडर डालें। कपड़े को ऊपर उठाएं और कपड़े से मेहंदी को धीरे से छानें। 
  • कपड़े में बची हुई मेंहदी को फेंक दें और इस प्रक्रिया को कटोरे में रखी मेहंदी के साथ 2 बार दोहराएं। 
  • अब चीनी डालें। यह इसे अधिक समय तक गीला रहने और त्वचा के साथ बेहतर तरीके से चिपकने में मदद करेगी। 
  • नींबू का रस डालें और मिश्रण को अच्छी तरह मिलायें। 
  • अंत में, लैवेंडर या टी ट्री ऑयल डालें। 
  • अब मेंहदी पेस्ट के कटोरे को प्लास्टिक रैप से ढक दें। इसे 4-5 घंटे के लिए छोड़ दें और फिर यह उपयोग के लिए तैयार है।
  • पेस्ट को चिकना बनाने के लिए आप इसमें और नींबू का रस और शहद भी मिला सकते हैं।

तो लेडीज, इस करवा चौथ घर पर मेहंदी तैयार करें और अपनी हथेलियों पर प्राकृतिक मेहंदी रचने दें!

यह भी पढ़ें: Karwa Chauth 2021:क्या सरगी में अनार खाने से दिन भर प्यास नहीं लगती? आइए पता करते हैं

टीम हेल्‍थ शॉट्स टीम हेल्‍थ शॉट्स

ये हेल्‍थ शॉट्स के विविध लेखकों का समूह हैं, जो आपकी सेहत, सौंदर्य और तंदुरुस्ती के लिए हर बार कुछ खास लेकर आते हैं।