वैलनेस
स्टोर

जानिए क्‍यों आयुर्वेद में नीम की दातुन को कहा गया है बेस्‍ट टूथब्रश, हमने ढूंढे इसके 5 स्‍वास्‍थ्‍य लाभ

Published on:28 May 2021, 15:38pm IST
क्या आप भी टूथब्रश की जगह नीम की दातुन इस्‍तेमाल करना चाहती हैं? तो जानिए कि ये आपके लिए कितना सही होगा
टीम हेल्‍थ शॉट्स
  • 94 Likes
इसमें जीवाणुरोधी और रोगाणुरोधी गुण होते हैं। चित्र- शटरस्टॉक.

आप में से अधिकांश लोगों ने दांतों को ब्रश करने के लिए नीम की टहनियों के उपयोग के बारे में सुना होगा, लेकिन क्या ये असल काम करता है? दांतों के लिए नीम की दातुन का उपयोग करने के बारे में और जानने के लिए इस लेख को पढ़ें।

आयुर्वेद स्वास्थ्य देखभाल की एक प्राचीन भारतीय प्रणाली है। जो पारंपरिक औषधीय से आपका उपचार करती हों इसका उपयोग किसी के स्वास्थ्य में सुधार लाने के लिए अपनाया जाता है। यही कारण है कि हम यहां दांतों को ब्रश करने के लिए नीम की टहनियों का उपयोग करने की सदियों पुरानी तकनीक के बारे में बात कर रहे हैं।

टूथब्रश आने से बहुत पहले से ही नीम की टहनियों या दातुन का उपयोग दांतों की स्वच्छता बनाए रखने के लिए किया जाता रहा है। लेकिन क्या यह वास्तव में काम करता है? चलिए पता करते हैं!

जानिए नीम की टहनी से दांतों को ब्रश करना कैसे एक बेहतर विकल्प है:

नीम आयुर्वेदिक दवाओं की एक लोकप्रिय औषधीय जड़ी बूटी है और ये विभिन्न उद्देश्यों के लिए उपयोग में लायी जाती है। ऐसे कई तरीके हैं जिनसे आप नीम के साथ दांत के स्वास्थ्य को बनाए रख सकते हैं, लेकिन अपने दांतों को ब्रश करने के लिए नीम की टहनी का उपयोग करना सबसे लोकप्रिय और प्रभावी तरीका है।

अब जानिए नीम की दातुन के उपयोग से होने वाले लाभ:

1. यह आपको बैक्टीरिया से बचाती है

आयुर्वेदिक के अनुसार प्राकृतिक नीम की टहनी कीटाणुओं से लड़ने में कारगर होती है। इसलिए, ये बैक्टीरिया को दूर रखने में मदद करती है। इसके अलावा, इसमें जीवाणुरोधी और रोगाणुरोधी गुण होते हैं जो आपके मौखिक स्वास्थ्य की रक्षा के लिए बहुत ही उत्तम हैं।

2. क्षारीय स्तर को बनाए रखता है

नीम से दांतों को ब्रश करने से आपकी लार में क्षारीय स्तर बना रहता है। जिससे आगे चलकर इनेमल को फिर से बनाने में मदद मिलती है और ये कैविटी पैदा करने वाले बैक्टीरिया से लड़ने में भी मदद करता है।

3. आपके मसूड़ों को मजबूत करता है

प्राकृतिक नीम की टूथ-क्लीनिंग स्टिक दांतों के दर्द को दूर करने, दांतों को साफ करने और सूजे हुए मसूड़ों का इलाज करने में मदद करती है। ये आपकी ओरल हेल्थ को बनाए रखने के लिए कीटाणुओं को दूर करने में भी मदद करती है।

ओरल हेल्थ को बनाए रखने के लिए कीटाणुओं को दूर करने में भी मदद करती है। चित्र: शटरस्‍टॉक

4. प्लाक बनने से रोकती है

नीम की दातुन मुंह में बैक्टीरिया के भार को कम करने में सक्षम होती है, ये पट्टिका, टैटार और अल्सर के संचय को रोकने में मदद करती हैं। यदि आप रोजाना ब्रश नहीं करते हैं,तो ऐसी स्थिति में आपके दांतों का इनेमल प्लाक से भर जाएगा।

5. दांत सफेद करना

नीम की दातुन आपके दांतों को सफेद करने में मददगार साबित होगा। ये पीले रंग को हटाता है और आपके दांतों को सफेद दिखता है।

6. मुंह की बदबू को कम करता है

नीम की टहनी माउथ फ्रेशनर का काम करती है, जो आपके मुंह से आने वाली दुर्गंध को दूर करने में मदद करती है और मुंह को ताजा रखती है।

नीम की दातुन इस्‍तेमाल करने के लिए जानिए क्‍या है सही तरीका

ये अच्छे ओरल हेल्थ के लिए उपयोग में लाने वाली सबसे पुरानी विधियों में से एक है। इसे करने के लिए आपको:

सबसे पहले अपने मुंह में एक छड़ी रखें और अपने दांतों से छाल को एक-दो इंच तक कुतरें। इसे तब तक चबाएं जब तक कि टहनी के बाल न कट जाएं। इसके डंडे थोड़े सख्त होते हैं, इसलिए इसमें थोड़ा समय लगेगा। अब, आप इस टहनी का उपयोग अपने दांतों को रगड़ने के लिए कर सकते हैं।

ये ध्यान रखें कि जब आप अपने दांतों को नीम की टहनियों से ब्रश करते हैं, तो नीम का तेल थोड़ी मात्रा में निकलता है। इस तेल में जीवाणुरोधी गुण प्रमुख रूप से होते हैं, इसलिए आप इसका इंतजार करें।

इसे भी पढ़ें-एक व्‍यस्‍त दिन के बाद अपनी आंखों को आराम देने के लिए फॉलो करें ये 5 आसान उपाय

टीम हेल्‍थ शॉट्स टीम हेल्‍थ शॉट्स

ये हेल्‍थ शॉट्स के विविध लेखकों का समूह हैं, जो आपकी सेहत, सौंदर्य और तंदुरुस्ती के लिए हर बार कुछ खास लेकर आते हैं।