वैलनेस
स्टोर

कोरोनावायरस से बचने के लिए जानिए क्‍यों जरूरी है बाथरूम में एग्‍जॉस्‍ट फैन का होना

Published on:20 April 2021, 12:35pm IST
क्‍या आप जानते हैं कि आप एक रोगाणु बम अपने घर मे रखते हैं? वह भी अपने सबसे निकट! जी, हमारे बिस्‍तर से बस कुछ ही फुट की दूरी पर रोगाणु बम आपके अटैच्ड बाथरूम में मौजूद हैं।
Dr. S.S. Moudgil
  • 93 Likes
कोरोनावायरस से बचने के लिए आपको बाथरूम हायजीन का भी ख्‍याल रखना होगा। चित्र: शटरस्‍टॉक

कोरोना महामारी ने हमे एक शब्द एयर ड्रोपलेट (Air droplets) का ज्ञान दे ही दिया है। पर हम में से बहुत कम लोग जानते हैं कि बाथरूम में सबसे बड़ा खतरा इसी एयर ड्रोपलेट से है। इसलिए यह जरूरी है कि कोविड से बचने के लिए बाथरूम हायजीन (Bathroom Hygiene Tips) का खास ख्‍याल रखा जाए। आज इसी मुद्दे पर थोड़ा विस्‍तार से बात करेंगे।

जानिए कैसे आपका बाथरूम हो सकता है कोरानावायरस (Coronavirus) का अड्डा 

फ्लश का तरीका

टॉयलेट सीट को खुला (Open) छोड़ना बाथरूम में सबसे बड़ा खतरा है। विशेष रूप से जब फ्लश करते हैं। ऐसा करने से बाथरूम के चारों ओर स्प्रे की एक पतली परत फैल जाती है। इसमें एयर ड्रोपलेट होंगे, जिनमें कीटाणु और बैक्टीरिया तैर रहे होते हैं। खुले फ्लश करने से यह परत कम से कम पॉट से 10 इंच ऊपर तक उड़ बैक्टीरिया फैला सकती है।

क्‍या कहते हैं शोध

लीड्स विश्वविद्यालय में वैज्ञानिकों के शोध में पाया गया कि इससे कीटाणु बाथरुम मे रखी हर वस्तु यहां तक कि हाथ पोंछने के तौलिये (Hand Towel) तक पर आ बैठते हैं। हम साबुन से मल-मल कर हाथ धो खुश हो लेते हैं कि किटाणुओं से छुटकारा पा लिया। मगर हाथ पौंछते ही ये रोगाणु हमारे संग चल पड़ते हैं।

टॉयलेट में फोन ले जाना आपको गंभीर खतरे दे सकता है। चित्र: शटरस्‍टॉक
टॉयलेट में फोन ले जाना आपको गंभीर खतरे दे सकता है। चित्र: शटरस्‍टॉक

वेंटिलेशन भी है एक समस्‍या

दूसरी समस्या वेंटिलेशन है। हमारी तरह ही घर को भी सांस लेने की जरूरत है। बाथरूम में नमी की उच्च एकाग्रता और वेंटिलेशन की कमी मोल्ड विकास का कारण बनती है। यह सुनिश्चित करने की आवश्यकता है कि हवा को स्थानांतरित करने की अनुमति देने के लिए आपके बाथरूम में पर्याप्त वेंटिलेशन हो।

वेंटिलेशन के लिए आपके घर के हर बाथरूम में एग्‍जॉस्‍ट फैन होना बहुत जरूरी है। यह उसे सूखा और मोल्ड मुक्त रखने में मदद करता है! यह भी ध्‍यान रहे कि बाथरूम में केवल बहुत जरूरी वस्‍तुएं ही रखी जाएं।

इन चीजों को कभी न रखें बाथरूम के अंदर

पहला कदम कुछ वस्तुओं को हटाना है। यह एक बेहतर स्वस्थ वातावरण को बढ़ावा देगा और कीटाणुओं के प्रसार के जोखिम को कम करेगा!

1. दवा : को बाथरूम में स्टोर नहीं करना चाहिए। तापमान में उतार-चढ़ाव और उच्च आर्द्रता किसी भी प्रकार की दवा के लिए अच्छी नहीं है। इस तरह से दवा भंडारण वास्तव में उसकी प्रभावशीलता को कम कर उसकी गुणवत्ता को कम कर सकता है। उसे एक्स्पायरी से पहले एक्सपायर कर सकता है या कुछ अवांछित बदलाव कर जीवन के लिए खतरनाक हो सकता है!

किसी भी तरह की दवा को बाथरूम में स्‍टोर न करें। चित्र: शटरस्‍टॉक
किसी भी तरह की दवा को बाथरूम में स्‍टोर न करें। चित्र: शटरस्‍टॉक

2. विद्युत उपकरण यथा इलैक्ट्रिक शेवर हैयर ड्रायर : बाथरूम में एक विद्युत उच्च नमी के स्तर का सामना करने में सक्षम नहीं है। इससे शॉर्ट सर्किट हो सकता है और कीटाणु तो सतह पर होंगे ही।

4. मेकअप: अपनी ब्‍यूटी किट को बाथरुम में रख कर आप न केवल उत्पादों की शेल्फ लाइफ कम कर रहीं हैं, बल्कि इस तरह एक्स्पायर्ड वस्तुओं को शरीर के संवेदनशील क्षेत्र पर उपयोग कर, अपने चेहरे को नुकसान पहुंचा रहीं हैं।

यहां कीटाणुओं का जोखिम सबसे ज्‍यादा है। ऐसे प्रोडक्‍ट को इस्‍तेमाल करने का जोखिम क्‍या हो सकता है, ये तो आप समझ ही गई होंगी।

5. मेकअप ब्रश : इन्‍हें बाथरूम में रखना सबसे ज्‍यादा खतरनाक हो सकता है। असल में मेकअप सामग्री तो ट्यूब या छोटी बोतल में होती है। उसे आप बाहर से साफ भी कर सकती हैं, लेकिन ब्रश उन कीटाणुओं को उठा सकते हैं जो हमारे बाथरूम में चारों ओर तैरते हैं।

फिर इन ब्रशों का उपयोग मेकअप लगाने के लिए करते हैं। जिससे कीटाणु आपके चेहरे पर फैल कर कोरोनावायरस एवं अन्‍य बैक्‍टीरिया के जोखिम को और ज्‍यादा बढ़ा देते हैं।

6. बुक्स-मेगजीन्स : यदि बाथरूम पाठक हैं, पढ़ना लत या मजबूरी है, तो कम से कम बाहर ले जाएं। वहां न रखें।

तो अब जानिए कि बाथरूम हाइजीन के लिए आपको क्‍या करना चाहिए 

1 पहला कदम – बिना ढके फ्लश न करें

2 दूसरा कदम – जरूरी सामान यथा टूथ ब्रश, पेस्ट या शेविंग का सामान, हैंड टॉवल क्लोज केबिनेट में रखें। जो पॉट से 4 फुट ऊपर हो और जिसका दरवाजा शीशे का हो।

हैंड टॉवल पर भी कीटाणु हो सकते हैं। चित्र: शटरस्‍टॉक
हैंड टॉवल पर भी कीटाणु हो सकते हैं। चित्र: शटरस्‍टॉक

5 ब्रश ( टूथ, शेविंग या मेकअप ब्रश) को इस्तेमाल से पहले अच्छा होगा इसे एक ग्लास पानी मे एक बूंद डिटॉल के घोल में धोकर फिर साफ पानी से धो लें।

6 छोटे-छोटे हैंड टॉवल भी तहा कर क्लोज केबिनेट में रखें और केवल एक बार प्रयोग में लाएं। फिर धोने हेतु डाल दें।

7 शेष सामान या तो ड्रेसिंग रूम की केबिनेट में या किसी अन्य स्थान पर केबिनेट में ही रखें।

8 अगर घर में फालतू बाथ रुम है, तो यह सामान उस में रखा जा सकता है। बेहतर होगा कि शौच हेतु एक्‍स्‍ट्रा बाथरुम का प्रयोग करें न कि अटैच्ड बाथ रुम का।

9 पॉट ही नहीं बाथरुम की टोटियों, शॉवर, वॉश बेसिन व दीवारों-खिड़कियों की नियमित सफाई आवश्यक है। इनकी सफाई डिटेर्जेंट से व पॉट की सफाई सिरके व मीठे सोडे से की जा सकती है। हर छ महीने में पॉट को एसिड से साफ करवाना कोई बुरा काम नहीं होगा। इससे सफाई के साथ-साथ रुकावट भी दूर हो जाएगी।

साफ रखिए स्वस्थ रहिए।

यह भी पढ़ें – Fight Corona virus at home : एक्‍सपर्ट से जानिए घर पर रहकर कैसे करना है कोरोनावायरस से मुकाबला

Dr. S.S. Moudgil Dr. S.S. Moudgil

Dr. S.S. Moudgil is senior physician M.B;B.S. FCGP. DTD. Former president Indian Medical Association Haryana State.