और पढ़ने के लिए
ऐप डाउनलोड करें

कोविड-19 से मुकाबले में जरूरी उपकरण है ऑक्‍सीमीटर, जानिए क्‍यों जरूरी है इसका घर में होना 

Updated on: 10 December 2020, 12:33pm IST
इस समय पूरा विश्व कोरोनावायरस कोविड-19 महामारी का सामना कर रहा है। इससे मुकाबला करने के लिए जरूरी है कि आप उन चीजों के बारे में अच्‍छी तरह जानती हों, जो आपको इससे बचा सकती हैं। ऐसा ही एक जरूरी उपकरण है ऑक्‍सीमीटर, आइए जानें इसके बारे में। 
प्रेरणा मिश्रा
  • 88 Likes
ऑक्सीमिटर क्यों है जरूरी? आइये जाने यहाँ। चित्र: शटरस्टॉक
ऑक्सीमिटर क्यों है जरूरी? आइये जाने यहाँ। चित्र: शटरस्टॉक

 

हमें कोरोनावायरस का शुक्रिया कहना चाहिए कि उसने हमें अपने शरीर के बारे में काफी अध‍िक जागरुक बना दिया है। हमें यह पता चल गया है कि हीमोग्‍लोबिन, शुगर और ब्‍लड प्रेशर की तरह  ही शरीर में ऑक्‍सीजन का बैलेंस लेवल बरकरार रखना भी बहुत जरूरी है। शरीर में ऑक्‍सीजन लेवल की जांच को आसान बनाता है ऑक्‍सीमीटर। आइए जानें क्‍या है ऑक्‍सीमीटर और क्‍यों जरूरी है इसका घर में होना। 

कोविड-19 के मरीजों में ऑक्सीजन की मात्रा  कम हो जाती है। ऐसे में हमें एक ऐसे यंत्र की आवश्यकता हो सकती है जो की हमारे शरीर में  ऑक्सीजन की मात्र का पता लगाए। ऐसा ही एक यंत्र है “ऑक्‍सीमीटर” और अब यह यंत्र कोविड-19 के खिलाफ एक उपयोगी वस्तु साबित हो रहा है। 

ऑक्‍सीमीटर आखिर है क्या

ऑक्‍सीमीटर को पल्स ऑक्‍सीमीटर भी कहा जाता है। यह एक छोटा और हल्का यंत्र है, जिससे हम अपने शरीर में ऑक्सीजन की मात्रा की निगरानी कर सकते हैं। यह एक ऐसा यंत्र है, जो बिना शरीर में डाले या फिर बस शरीर के बाहरी हिस्से पर टच करके ही हम इसका इस्तेमाल कर सकते हैं। यह यंत्र बिना किसी प्रकार का दर्द दिये हमारी अंगुलियों के टिप्स पर लग जाता है और वह हमारा पल्स रेट और हमारे शरीर  में कितनी ऑक्सीजन है इसका माप कर लेता है। 

कोविड-19 के खिलाफ ऑक्‍सीमीटर एक उपयोगी हथियार 

कोविड-19 एक वैश्विक महामारी है और इसकी पहचान में न आने वाली प्रवृत्ति इसे और भी खतरनाक बना देती है। हमारे शरीर में 95% ऑक्सीजन होना ज़रूरी है।  अगर ऐसा है तब हमें चिंता करने की बिल्‍कुल जरूरत नहीं है। परंतु अगर हमारे शरीर में ऑक्सीजन की मात्रा 92% से भी कम है तब यह चिंताजनक बात हो सकती है। 

ऑक्सिजन की मात्रा को मापने मे करता है मदद। चित्र: शटरस्टॉक
ऑक्सिजन की मात्रा को मापने मे करता है मदद। चित्र: शटरस्टॉक

रक्त में ऑक्सीजन के निम्न स्तर की वजह से सांस लेने में परेशानी का सामना करना पड़ सकता है। इन परिस्थितियों में ही पल्स ऑक्‍सीमीटर काम आता है, जिससे कि हम ऑक्सीजन की कम मात्रा और बिना किसी लक्षण वाले कोविड-19 को पहचाना सकते हैं। यह असिम्‍प्‍टोमेटिक कोरोना मरीजों के उपचार में एक निर्देशक उपकरण साबित होता है। 

क्‍यों आपके घर में जरूरी है ऑक्‍सीमीटर का होना 

कोविड-19 कोरोनावायरस ने हमारे स्‍वास्‍थ्‍य के प्रति हमारी जागरुकता में इजाफा किया है। अब ज्‍यादातर लोग जानने लगे हैं कि हीमोग्‍लोबिन की तरह शरीर में ऑक्‍सीजन का स्‍तर पर भी चैक किया जा सकता है। तो यहां हम बता रहे हैं कि क्‍यों ऑक्‍सीमीटर आपके घर में होना बहुत जरूरी है :- 

1.अगर आपके परिवार में किसी को सांस से संबंधित कोई बीमारी – जैसे अस्थमा या ब्रोंकाइटिस है तो आपके घर में ऑक्‍सीमीटर जरूर होना चाहिए। 

2.अगर आप गलती लगातार बाहर जा रहे हैं और कई लोगों के संपर्क में हैं, तो आपको अपना ऑक्‍सीजन लेवल चैक करते रहना चाहिए। इसके लिए आप ऑक्‍सीमीटर ले ही लें तो अच्‍छा है। 

3.अगर आपका लाइफस्‍टाइल सेडेंटरी है यानी आप ज्‍यादातर समय बैठे ही रहते हैं। विशेषज्ञ मानते हैं कि जब आप शारीरिक गतिविधियां या व्‍यायाम नहीं करते हैं, तब भी आपके शरीर में ऑक्‍सीजन का स्‍तर प्रभावित हो सकता है। 

4.अगर आप में कुछ शुरुआती लक्षण जैसे कि बिना कारण कमजोरी और हल्का बुखार है तो आपको अपना ऑक्‍सीजन लेवल चैक करना चाहिए।

यह भी देखे:-इम्‍युनिटी बढ़ाने के साथ ये 5 लाभ भी देती है गिलोय, जानें इसके सेवन का तरीका

प्रेरणा मिश्रा प्रेरणा मिश्रा

हेल्‍दी फूड, एक्‍सरसाइज और कविता - मेरे ये तीन दोस्‍त मुझे तनाव से बचाए रखते हैं।