वैलनेस
स्टोर

डायबिटीज है तो सेब की जगह चुनें ग्रीन एप्पल, हम बताते हैं क्यों है यह सेब से ज्यादा पौष्टिक

Updated on: 21 December 2020, 21:04pm IST
हर दिन सेब खाने की सलाह तो आपने सुनी ही होगी, लेकिन क्या आप जानती हैं कि सेब की यह वैरायटी है कई गुना ज्यादा फायदेमंद।
विदुषी शुक्‍ला
  • 73 Likes
पोषण का भंडार है ग्रीन एप्पल। चित्र- शटरस्टॉक।

सेब के फायदों पर न जाने कितनी कहावतें आपने सुन रखी होंगी, आप सेब के फायदों से भी परिचित होंगी ही। हाई ब्लड प्रेशर की समस्या से लेकर कैविटी और पांचन तक सेब के हजारों फायदे हैं। लेकिन सेब की ही एक अन्य वैरायटी- ग्रीन एप्पल यानी हरा सेब गुणों में सेब से भी ऊपर है।

जल्द ही वह मौसम भी आने वाला है जब आपको बाजार में ग्रीन एप्पल की भरमार दिखाई पड़ेगी। ऐसे में जरूरी है कि आपको इस पौष्टिक फल के फायदे मालूम हों।

पाएं अपनी तंदुरुस्‍ती की दैनिक खुराकन्‍यूजलैटर को सब्‍स्‍क्राइब करें

विटामिन्स का भंडार है ग्रीन एप्पल

जब हम ग्रीन एप्पल की अपने पुराने लाल सेब से तुलना करते हैं, तो ग्रीन एप्पल में विटामिन की मात्रा अधिक है। इसमें भी खासकर विटामिन ए की मात्रा ग्रीन एप्पल में कई गुना होती है। यह एकमात्र कारण नहीं है ग्रीन एप्पल के बेहतर होने का। ग्रीन एप्पल में कार्बोहाइड्रेट और शुगर कम होती है और फाइबर ज्यादा होता है।

पोषण का भंडार है ग्रीन एप्पल। चित्र- शटरस्टॉक।

साथ ही इसमें विटामिन सी, के और ए प्रचुर मात्रा में पाए जाते हैं। यह आयरन, पोटैशियम, कैल्शियम, एंटीऑक्सीडेंट और फ्लेवनॉयड्स का भी महत्वपूर्ण स्रोत है।

यहां हैं ग्रीन एप्पल के 6 स्वास्थ्य लाभ जिनके लिए आपको इस फल को अपने आहार में शामिल करना चाहिए-

1. फेफड़ों के स्वास्थ्य के लिए है फायदेमंद

कई स्टडीज में पाया गया है कि ग्रीन एप्पल का रोजाना सेवन करने से अस्थमा का जोखिम कम होता है। इसका कारण है ग्रीन एप्पल में मौजूद फ्लेवनॉयड्स। यही नहीं, अमेरिकन सोसाइटी ऑफ कैंसर के शोध के अनुसार ग्रीन एप्पल का सेवन लंग कैंसर के जोखिम को 21 प्रतिशत कम करता है।

जानिए क्‍यों डायबिटीज में लाल सेब से ज्‍यादा फायदेमंद है हरा सेब। चित्र- शटरस्टॉक।

2. मेटाबॉलिज्म बढ़ाता है

मेटाबॉलिज्म तेज होने का मतलब है अधिक कैलोरी बर्न होना, यह तो आप जानते ही हैं। ग्रीन एप्पल पाचन दुरुस्त करता है और मेटाबॉलिक रेट को बढ़ाता है। इसका कारण है ग्रीन एप्पल में मौजूद ढेर सारे गुड फाइबर। ये फाइबर ब्लोटिंग कम करते हैं, मीठे की क्रेविंग को कम करते हैं और भूख को कम करते हैं। यानी कि कैलोरी कम करने और वजन घटाने के लिए फलों में ग्रीन एप्पल एक अच्छा विकल्प है।

3. हड्डियों के स्वास्थ्य के लिए है लाभकारी

ग्रीन एप्पल में कैल्शियम और पोटैशियम अच्छी मात्रा में मौजूद होता है। यही नहीं, इसमें विटामिन के भी भरपूर मात्रा में पाया जाता है जो हड्डियों को स्वस्थ रखता है। नेशनल लाइब्रेरी ऑफ मेडिसिन, यूएसए ने एक शोध में पाया कि ग्रीन एप्पल महिलाओं में ओस्टियोपोरोसिस की समस्या का जोखिम कम करता है और हड्डियों को मजबूत और स्वस्थ बनाता है।

लंबे समय तक इनडोर रहने का असर आपकी त्‍वचा और बालों पर भी नजर आता है। चित्र: शटरस्‍टॉक
स्किन एजिंग और झुर्रियों को दूर रखता है ग्रीन एप्पल. चित्र: शटरस्‍टॉक

4. स्किन एजिंग और झुर्रियों को दूर रखता है

ग्रीन एप्पल में एंटीऑक्सीडेंट होते हैं और एंटीऑक्सीडेंट आपकी त्वचा के लिए बहुत फायदेमंद हैं। एंटीऑक्सीडेंट शरीर में मौजूद फ्री रेडिकल्स को खत्म करते हैं, जो कि झुर्रियों का मुख्य कारण हैं। रोजाना ग्रीन एप्पल का सेवन झुर्रियां कम कर सकता है और आपको स्वस्थ त्वचा देने में कारगर है।

5. डायबिटीज के लिए है बहुत फायदेमंद

अगर आपके माता-पिता डायबिटिक हैं तो उनके लाल सेबों को आज ही ग्रीन एप्पल से बदल डालिये। ग्रीन एप्पल में सेब के मुकाबले कम शुगर होती है। यही नही, इसमें फाइबर की मात्रा ज्यादा होती है जिसके कारण यह ब्लड शुगर लेवल को नियंत्रित रखता है।

6. आंखों के लिए है फायदेमंद

अगर आपको आंखों को प्राकृतिक रूप से स्वस्थ रखना है, तो ग्रीन एप्पल को अपने आहार में शामिल करें। ग्रीन एप्पल में विटामिन ए की मात्रा भरपूर होती है, जो आंखों के लिए बहुत फायदेमंद होता है।

तो लेडीज, अपने और अपने परिवार के स्वास्थ्य के लिए ग्रीन एप्पल को अपनी शॉपिंग लिस्ट का हिस्सा बना लें। यह फल सेहतमंद होने के साथ साथ बहुत स्वादिष्ट भी है।

विदुषी शुक्‍ला विदुषी शुक्‍ला

पहला प्‍यार प्रकृति और दूसरा मिठास। संबंधों में मिठास हो तो वे और सुंदर होते हैं। डायबिटीज और तनाव दोनों पास नहीं आते।