हर सिर दर्द नॉर्मल नहीं होता, जानिए कुछ खास तरह के सिर दर्द और उनके कारण

सिरदर्द एक आम परेशानी है, पर कई बार हम इसे इतना आम मान लेते हैं कि इसकी गंभीरता को भी नजरंदाज कर जाते हैं। जबकि हर सिर दर्द सामान्य नहीं होता।

Headache
हर सिर दर्द नहीं होता नॉर्मल। चित्र शटरस्टॉक
निशा कपूर Published on: 22 August 2022, 14:35 pm IST
  • 149

सिर दर्द एक आम समस्या है। कभी-कभी थकान, नींद न पूरी होने या तनाव के कारण भी सिर दर्द हो सकता है। यही वजह है कि हम सिर दर्द को सबसे ज्यादा हल्के में लेते हैं। जबकि कई बार सिर दर्द किसी गंभीर स्थिति का भी संकेत हो सकता है। इसलिए जरूरी है कि आप सिर दर्द के बारे में सब कुछ जानें।

इस विषय पर विस्तार से बात करने के लिए हमने डॉ. नीरज शर्मा से बात की। वे बताती हैं, “जब भी आपको सिरदर्द शुरू हो या बार-बार होने लगे, तो पहले आपको यह सोचना चाहिए कि क्या आपकी दिनचर्या (daily routine) में कोई बदलाव तो नहीं है? जिस वजह से यह सिर दर्द शुरू हुआ है। कई लोगों को कुछ खाने जैसा मीठा, मक्खन या कुछ खास तरह की चीज़ें खाने से सिरदर्द शुरू हो जाता है। कभी-कभी उपवास रखने या लंबे समय तक भूखे रहने के कारण भी सिर दर्द हो सकता है। अगर इस तरह के बदलाव सिर दर्द का कारण हैं, तो ज्यादा घबराने की बात नहीं है।”

वे आगे कहती हैं, “लेकिन यदि आपको सिर दर्द के साथ-साथ हाथ पैर में झुनझुनाहट होना, चक्कर आना, बेहोशी होना, हाथ पैरो में कमजोरी महसूस हो रही है, उल्टी आ रही है, सिर दर्द के साथ बुखार है या सिर दर्द की तीव्रता कम या अधिक होती रहती है, तो सारे लक्षण यह दर्शाते हैं कि आपका सिर दर्द नॉर्मल नहीं है।”

4 prakaar ke hote hain sex headache
एक नहीं कई प्रकार के होते है सिरदर्द । चित्र:शटरस्टॉक

हालांकि यह काफी कम लोगों में पाया जाता है, लेकिन यदि ऐसे लक्षण लम्बे समय से दिखाई दे रहे हैं, तो आपको डॉक्टर की सलाह लेनी चाहिए। समय रहते सिर दर्द का इलाज करवाया जाना जरूरी है।

यहां जानिए सिर दर्द के प्रकार

डॉ. नीरज शर्मा के अनुसार सिरदर्द को हम सामान्यत: 4 प्रकार से समझ सकते हैं।

1 माइग्रेन

माइग्रेन में होने वाला दर्द सिर के एक तरफ होता है, जिस वजह से इसे अधकपारी भी कहते हैं। इसमें मरीज को सिर में कोई चीज चुभने जैसा दर्द होता है। इसकी वजह का अभी सही तरीके से कुछ पता नहीं चल सका है, लेकिन कुछ चीजें माइग्रेन को ट्रिगर कर सकती है। जैसे – बहुत ज्यादा या कम सोना, शोर, तनाव, चिंता और हार्मोनल बदलाव।

2 क्लस्टर सिरदर्द

इस प्रकार का सिरदर्द काफी कम लोगों में ही हो सकता है। इसमें सिर के किसी एक तरफ तीव्र दर्द होता है। इसमें आंखों में खिंचाव और पलकें भारी होने जैसा महसूस हो सकता है। साथ ही इसमें आंखों के आस-पास भी दर्द महसूस हो सकता है। यह दर्द 15 मिनट से लेकर 3 घंटे तक रह सकता है।

Overburden hone par bhi sir dard ho sakta hai
बहुत अधिक तनाव या काम का बोझ सिर दर्द का कारण बन सकता है। चित्र- शटरस्टॉक।

3 तनाव से होने वाला सिरदर्द

तनाव की वजह से होने वाला सिरदर्द सबसे आम है। इस प्रकार के सिर दर्द में व्यक्ति अपने सिर के दोनों तरफ तेज दर्द महसूस करता है।

4 साइनस सिरदर्द

साइनस में सिरदर्द सिर के आगे के हिस्से में और चेहरे पर होता है। इस प्रकार का सिरदर्द तब होता है, जब नाक, सिर, नाक व आंखों में साइनस कैविटी हो जाती है। यह सिरदर्द तब और अधिक तीव्र हो जाता है, जब सुबह उठने के बाद इंसान आगे की ओर झुकता है या सिर को झुकाता है।

कुछ और भी हो सकते हैं सिर दर्द के कारण

डॉ. शर्मा के मुताबिक उपरोक्त के अलावा भी कई बार कुछ अन्य कारणों से सिर दर्द हो सकता है। जैसे –

  • मांसपेशियों में खिंचाव
  • दांत या जबड़े की समस्या
  • संक्रमण
  • डाइट (चाय और कॉफी का ज्यादा सेवन करना या भूखे रहना)
  • आंखों की परेशानी
  • हार्मोनल बदलाव
  • कुछ खास तरह की दवाइयां
  • कान, नाक या गले से जुड़ी कोई परेशानी
  • तंत्रिका तंत्र से जुड़ी कोई बीमारी
  • गर्दन, सिर या रीढ़ की हड्डी पर लगी किसी प्रकार की चोट
  • उच्च रक्तचाप की परेशानी
  • गलत मुद्रा में सोना, उठना या बैठना
  • शराब का सेवन करना
  • मौसम या तापमान में बदलाव जैसे – अत्यधिक ठंड या बहुत गर्मी
  • बहुत ज्यादा शोर की वजह से
  • डिहाइड्रेशन
  • रक्त वाहिकाओं में सूजन की वजह से (Temporal Arteritis)
  • गठिया
  • ब्रेन ट्यूमर

कब है डॉक्टर को दिखाने की जरूरत

अमूमन सिर दर्द के कारणों को समझकर उनसे बचना सिर दर्द का उपचार माना जाता है। जैसे अगर आपको थकान है, तो एक अच्छी नींद आपका सिर दर्द दूर कर सकती है। पर कई बार सिर दर्द गंभीर कारणों से हो सकता है। इसलिए जब यह तय सीमा से अधिक बढ़ जाए तो आपको डॉक्टर को जरूर दिखाना चाहिए। यहां ऐसी ही कुछ स्थितियां दी गईं हैं –

  1. सप्ताह में दो या अधिक बार सिरदर्द होता है तो आपको डॉक्टर को जरूर दिखाना चाहिए।
  2. अगर आपको अपने डेली रूटीन को चलाने के लिए लगातार सिरदर्द की दवा लेनी पड़ रही है।
  3. आपको अपने सिरदर्द से राहत पाने के लिए डॉक्टर के पर्चे के बिना मिलने वाले दर्द निवारक की खुराक से ज्यादा की आवश्यकता है।
  4. सिरदर्द का पैटर्न बदल जाता है या आपका सिरदर्द बिगड़ जाता है
  5. आपके लिए सिरदर्द को बर्दाश्त कर पाना मुश्किल हो रहा है
  6. आराम और दर्द की दवा के बावजूद यह बदतर हो रहा हो।

  • 149
लेखक के बारे में
निशा कपूर निशा कपूर

देसी फूड, देसी स्टाइल, प्रोग्रेसिव सोच, खूब घूमना और सफर में कुछ अच्छी किताबें पढ़ना, यही है निशा का स्वैग।

पीरियड ट्रैकर

अपनी माहवारी को ट्रैक करें हेल्थशॉट्स, पीरियड ट्रैकर
के साथ।

ट्रैक करें
nextstory