इन 5 कारणों से भी सफेद पड़ सकती है आपकी जीभ, सतर्क रहना है जरूरी

Published on: 28 December 2021, 12:57 pm IST

आपको याद होगा कि जब भी आप किसी बीमारी के चेक अप के लिए डॉक्टर के पास जाते हैं, तो सबसे पहले वो आपकी जीभ चैक करते हैं। ऐसा इसलिए क्योंकि जीभ का रंग आपके स्वास्थ्य के बारे में बहुत कुछ बताता है।

jeebh safed padne ke paanch karan
जीभ के सफेद पड़ने के 5 कारण। चित्र : शटरस्टॉक

खाने के स्वाद का एहसास कराने के साथ – साथ जीभ, हमारे स्वास्थ्य खराब होने के भी लक्षण दिखती है। उदाहरण के लिए आपने भी कई बार अपनी जीभ का रंग सफेद (White Tongue) देखा होगा। सफेद जीभ से आमतौर पर चिंता की कोई बात नहीं होती है। मगर कभी – कभी यह लक्षण संक्रमण (Infection) या प्रारंभिक कैंसर (Cancer) जैसी गंभीर स्थिति की चेतावनी दे सकते हैं।

इसलिए यह महत्वपूर्ण है कि आप अपने अन्य लक्षणों पर नज़र रखें, और अगर कुछ हफ़्ते में सफेद परत नहीं जाती है तो अपने डॉक्टर से संपर्क करें।

जानिए क्या होता है जीभ का सेफद पड़ना

सफेद जीभ एक ऐसा लक्षण है जहां आपकी जीभ के भाग या उसकी ऊपरी सतह पर एक मोटी परत बन जाती है। इसकी वजह से आप सांस की दुर्गंध, जीभ पर बाल और जलन का अनुभव भी कर सकते हैं। सफेद जीभ देखने में अजीब लग सकती है, लेकिन यह आमतौर पर हानिरहित और अस्थायी स्थिति होती है।

jeebh safed padne ke kai karan hote hain
जीभ सफ़ेद पड्ने के कई कारण होते हैं. चित्र : शटरस्टॉक

आखिर क्यों हो जाती है जीभ सफेद

मेयो क्लिनिक के अनुसार जीभ सफेद पड़ना कई बैक्टीरिया के कारण होता है। कभी-कभी इसकी वजह से सूजन भी हो सकती है, जिसके कई कारण हो सकते हैं जैसे –

खराब मौखिक स्वच्छता
मुंह सूखना
डिहाईड्रेशन
धूम्रपान या तंबाकू का उपयोग
शराब का सेवन
मुंह से सांस लेना
बुखार

कुछ अन्य स्थितियों के कारण भी आपकी जीभ सफेद पड़ सकती है

ल्यूकोप्लाकिया (Leukoplakia)

ल्यूकोप्लाकिया आपके मुंह की परत में कोशिकाओं की अतिवृद्धि के कारण होने वाली एक सामान्य स्थिति है। ये कोशिकाएं प्रोटीन केराटिन के साथ मिलकर आपकी जीभ पर एक सफेद उभरे हुए पैच का निर्माण करती हैं। कई मामलों में, जब आप शराब पीते हैं या तंबाकू का सेवन करते हैं, तो आपके मुंह और जीभ में जलन होने से यह स्थिति हो सकती है।

ओरल लाइकेन प्लेनस (Oral Lichen Planus)

ओरल लाइकेन प्लेनस मुंह की सूजन की एक स्थिति है। यह आपकी प्रतिरक्षा प्रणाली के विकार और अन्य सूक्ष्म जोखिम के कारण होता है।

जियोग्राफिक टंग (Geographic tongue)

जियोग्राफिक टंग तब होती है जब आपकी जीभ की त्वचा फिर से बढ़ रही होती है। आपकी जीभ पर त्वचा की ऊपरी परत के हिस्से बहुत जल्दी झड़ जाते हैं, जिससे कोमल लाल क्षेत्र उभर आता है। जो अक्सर संक्रमित हो जाते हैं। इस बीच, आपकी जीभ के अन्य हिस्से बहुत देर तक रुके रहते हैं और सफेद रंग में बदल जाते हैं।

apni jeebh ko saaf karein
अपनी जीभ को साफ करें। चित्र : शटरस्टॉक

ओरल थ्रश- (Oral Thrush)

ओरल थ्रश आपके मुंह में कैंडिडा यीस्ट (कवक) के कारण होने वाला संक्रमण है। हालांकि कैंडिडा आमतौर पर आपके मुंह के अंदर पाया जाता है, लेकिन जब यह बहुत ज्यादा बढ़ जाता है तो यह एक समस्या बन जाती है।

साइफलिस (Syphilis)

साइफलिस एक जीवाणु संक्रमण और एक यौन संचारित संक्रमण (एसटीआई) है। सफेद जीभ सहित कई लक्षणों के साथ यह एक गंभीर स्थिति है।

तो जानिए कि आप अपनी जीभ को सफेद पड़ने से कैसे रोक सकते हैं?

फ्लोराइड टूथपेस्ट का प्रयोग करें और फ्लोराइड युक्त पानी पिएं

अपने दांतों को दिन में दो बार ब्रश करें और रोजाना अपने दांतों के बीच फ्लॉस करें

साल में एक बार अपने दंत चिकित्सक के पास जाएं

तंबाकू उत्पादों का प्रयोग न करें और शराब का सेवन सीमित करें

उन दवाओं से बचें जो मुंह सूखने का कारण बनती हैं

यदि आप अपने मुंह में अचानक कोई बदलाव देखते हैं तो अपने दंत चिकित्सक से संपर्क करें।

यह भी पढ़ें : ये ‌5‌ कारण साबित करते हैं कि आपको नहीं करना चाहिए टूथपिक का इस्तेमाल

ऐश्‍वर्या कुलश्रेष्‍ठ ऐश्‍वर्या कुलश्रेष्‍ठ

प्रकृति में गंभीर और ख्‍यालों में आज़ाद। किताबें पढ़ने और कविता लिखने की शौकीन हूं और जीवन के प्रति सकारात्‍मक दृष्टिकोण रखती हूं।

स्वास्थ्य राशिफल

ज्योतिष विशेषज्ञ से जानिए क्या कहते हैं आपकी
सेहत के सितारे

यहाँ पढ़ें