Gaultheria oil : मसल्स पेन से लेकर सूजन तक से राहत दिलाता है गॉलथेरिया ऑयल, जानिए इस्तेमाल का तरीका

मौसम में होने वाले बदलाव कई बार हमारी परेशानी का सबब बन जाते हैं। जबकि गॉलथेरिया ऑयल इन समस्याओं से निजात दिला सकता है। आइए जानते हैं इसे इस्तेमाल करने का सही तरीका।
janiye aapke liye kaise faydemand hai gultheria oil
जानिए क्या है गॉलथेरिया ऑयल और क्या हैं इसके फायदे। चित्र : अडोबी स्टॉक
टीम हेल्‍थ शॉट्स Updated: 20 Oct 2023, 09:58 am IST
  • 141

सर्दियों के आगाज़ के साथ ही शरीर को खांसी, जुकाम और वायरल समेत कई तरह के रोग घेर लेते हैं। इसके अलावा बालों का झड़ना और रूखेपन की समस्या लगातार बढ़ने लगती है। इन सभी समस्याओं से बचने के लिए हम आमतौर पर कई प्रकार की दवाओं का सेवन करते हैं और बाजार में उपलब्ध कॉस्मेटिक प्रोडक्टस को भी इस्तेमाल करते हैं। मगर फिर भी समस्या ज्यों की त्यों बनी रहती हैं। अगर आप भी बदलते मौसम के साथ होने वाले बदलावों और परेशानियों से निजात पाना चाहते हैं, तो गॉलथेरिया ऑयल आपकी मदद कर सकता है। यूनानी फीजीशियन डॉ असलम जावेद बता रहे हैं इस विशेष तेल के लाभ और इस्तेमाल के तरीकों के बारे में।

क्या है गॉलथेरिया ऑयल (Gaultheria oil)

गॉलथेरिया तेल यानि विंटरग्रीन तेल जो पीला यां लाल रंग का होता है। इसे गॉलथेरिया प्रोकुम्बेन्स से निकाला और अलग किया जाता है। इस तेल का इस्तेमाल खाद्य पदार्थों, पेय पदार्थों और अरोमा के लिए किया जाता है। इस तेल से आने वाली खुशबू हर किसी के मन को भाती है और सुंगध के लिए कई चीजों से इस्तेमाल की जाती है।

यहां जानिए आपके लिए कैसे फायदेमंद हो सकता है गॉलथेरिया ऑयल

1 घाव को करता है ठीक

एंटीसेप्टिक गुणों से भरपूर गॉलथेरिया तेल को घाव पर लगाने से जल्दी राहत मिलती है। इसके अलावा अगर आप कुछ कटने, छिलने यां खुजली की समस्या से दो चार हो रहे हैं, तो उसमें भी इस तेल की मालिश लाभकारी साबित हो सकती है।

2 मांसपेशियों के दर्द में राहत

मौसम बदलने के साथ ही षरीर के कई हिस्सों में खिंचाव की समस्या होने लगती है। इसके अलावा मांसपेषियों में अकड़न, गठिया की परेषानी और घुटनों में दर्द महसूस होना भी एक आम समस्या है। ऐसे में नीलगिरि के तेल की मालिश से आपके शरीर को राहत प्राप्त होती है। इसके लिए ज़रूरत अनुसार तेल लेकर उसे हल्का गुनगुना करके षारीरिक अंगों की मालिष करें, जो आपको जल्द राहत पहुंचाने का काम करते हैं।

janiye aapke liye kaise faydemand hai gultheria oil
अधिक कसरत के बाद मांसपेशियों में दर्द हो सकता है। चित्र : शटरस्टॉक

3 खांसी और गले की खराश में देता है राहत

अगर आप भी बदलते मौसम के साथ सर्दी खांसी की चपेट में आ चुके हैं, तो गॉलथेरिया ऑयल की मदद से आपकी सभी परेषानियां सुलझ सकती हैं। इसके लिए गर्म पानी में गॉलथेरिया तेल की कुछ बूंदे डालकर कुछ देर तक भाप लें। इससे खांसी और जुकाम की समस्या अपने आप खत्म हो जाएगी।

4 फंगल इंफेक्शन से दिलाता है निजात

बहुत बार मौसम बदलने के साथ पैरों की उंगलियों के मध्य यां फिर नाखूनों में फंगल इंफेक्शन का खतरा बना रहता है। ऐसे में गुनगुने पानी में कुछ बूंदे तेल की डालकर उसमें कुछ देर तक पैरों को रखे रहें। आप चाहें तो संक्रमित जगह पर गॉलथेरिया तेल को लगाएं और कुछ देर के लिए उसे किसी कपड़े से न ढकें।

5 रूसी से दिलाए छुटकारा

सर्दियों के आगमन के साथ बालों में रूसी की समस्या का होना आम बात है। रूखेपन से रूसी बढत्रने लगती है। बालों को रूखेपन से बचाने और रूसी से मुक्ति पाने के लिए गॉलथेरिया तेल को स्कैल्प पर लगाए और कुछ देर तक मसाज करें। इससे न केवल बालइ स्वस्थ होते हैं बल्कि ब्लड सर्कुलेशन भी बेहतर होने लगता है।

janiye aapke liye kaise faydemand hai Gaultheria oil
गॉलथेरिया के तेल को डैंड्रफ से निपटने का एक अच्छा हर्बल ट्रीटमेंट माना जाता है। चित्र : शटरकॉक

6 दांतों से जुड़ी समस्याओ में प्रभावी

डॉ असलम जावेद, यूनानी फीजीशियन के मुताबिक गॉलथेरिया का तेल यानि यूकेलिप्टस ऑयल एंटिसेप्टिक और एंटी.इंफ्लामेटरी गुण पाए जाते हैं। इसका इस्तेमाल दर्द, सूजन और किटने छिलने पर किया जा सकता है। खासतौर से दांतां से जुड़ी समस्याओ में भी ये बेहद प्रभावी साबित होता है। इसके अलावा अर्थराइटिस में सभी ज्वाइंटस में अकड़न और दर्द महसूस होने लगता है। ऐसे में नीलगिरि तेल बेहद फायदेमंद साबित होता है। वहीं घरों में मच्छरों से बचने के लिए भी इसे इस्तेमाल कर सकते हैं।

अब जानिए कैसे करना है गॉलथेरिया के तेल का इस्तेमाल

आप एक माउथवॉश के तौर पर भी गॉलथेरिया के तेल का इस्तेमाल कर सकते हैं, जो दुर्गंध की समस्या से निजात दिलवाता है।

साथ ही दांतों को चमकदार और मज़बूत बनाने के लिए भी आप इसे दांतों पर मल सकते हैं।

अपनी रुचि के विषय चुनें और फ़ीड कस्टमाइज़ करें

कस्टमाइज़ करें

मांसपेशियों में दर्द से छुटकारा पाने के लिए आपको प्रभावित क्षेत्र में तेल की हल्की मसाज करनी है।

अगर आप नाक बंद से परेशान हैं, तो इसे पानी में डालकर भाप के रूप में ले सकते हैं।

मच्छरों से बचने के लिए आप रूम में इससे जगह-जगह छिड़काव कर सकते हैं।

रूखेपन से बचने के लिए गॉलथेरिया के तेल को आप हाथों और पैरों पर लगा सकते हैं। मगर चेहरे पर लगाने से पहले थोड़ी सावधानी ज़रूर बरतें।

यह बी पढ़ें: सर्दियों में सबसे ज्यादा परेशान करता है वायरल बुखार, जानिए आप इससे कैसे बच सकती हैं

  • 141
लेखक के बारे में

ये हेल्‍थ शॉट्स के विविध लेखकों का समूह हैं, जो आपकी सेहत, सौंदर्य और तंदुरुस्ती के लिए हर बार कुछ खास लेकर आते हैं। ...और पढ़ें

अगला लेख