एक्सपर्ट से जानिए प्रेगनेंसी के दौरान कितना वज़न बढ़ना है नॉर्मल?

सेंटर फॉर डीजीज कंट्रोल एंड प्रिवेंशन के अनुसार गर्भावस्था के दौरान 47 प्रतिशत अमेरिकी माताओं का वजन बहुत अधिक बढ़ जाता है। ऐसे में यह समझना ज़रूरी है कि प्रेगनेंसी के दौरान कितना वेट गेन और वेट लॉस हेल्दी है।

pregnancy
गर्भवती महिलाओं में विटामिन डी की कमी से हाइपरथायरोडिज्म होने की संभावना होती है। चित्र: शटरस्‍टॉक
ऐश्‍वर्या कुलश्रेष्‍ठ Published on: 22 August 2022, 20:33 pm IST
  • 125

प्रेगनेंसी के दौरान आपके मन में कई सारे सवाल होते हैं। कई महिलाएं जानना चाहती हैं कि बच्चे के लिए क्या सही है और क्या नहीं। ऐसे में कुछ महिलाएं अपने वेट को लेकर भी कॉन्शयस हो जाती हैं कि कहीं वज़न ज़्यादा न बढ़ जाए, इसलिए एक्सरसाइज़ करने लगती हैं। अन्य महिलाएं ये सोचकर कि बच्चे को सही पोषण मिलना चाहिए इसलिए सब कुछ खाने लगती हैं। यह सब इसलिए क्योंकि हमें इस बारे में ज़्यादा जानकारी नहीं है कि प्रेगनेंसी में कितना वज़न बढ़ना सही है और कितना नहीं।

तो चलिये आज इस लेख के माध्यम से आज हम इसी बारे में जानने की कोशिश करेंगे कि प्रेगनेंसी में कितना वज़न बढ़ना हेल्दी है। यह बारे में सही जानकारी हासिल करने के लिए हमने स्त्री रोग विशेषज्ञ डॉ नीरज शर्मा से बात की – जानिए क्या है उनका कहना।

गर्भावस्था के दौरान कितना वेट गेन नॉर्मल है?

सामान्य तौर पर, गर्भावस्था पहली तिमाही में वजन बढ़ने का कारण नहीं बनती है, जो कि 14-सप्ताह की अवधि है जो आपकी अंतिम पीरियड के पहले दिन से शुरू होती है। अमेरिकन कांग्रेस ऑफ ओब्स्टेट्रिशियन एंड गायनेकोलॉजिस्ट्स का मानना है कि जिन महिलाओं का वज़न पहले से ही हेल्दी है, उनका वज़न गर्भावस्था के दौरान 25 से 35 पाउंड तक हो सकता है। मगर, जो महिलाएं पहले से ही ओवरवेट हैं उनका वजन जब 15 से 25 पाउंड और बढ़ जाता है तब उन्हें कई तरह की समस्याएं आ सकती हैं।

डॉ नीरज का भी कहना है कि प्रेगनेंसी में वज़न 10 – 12 किलो से ज़्यादा नहीं बढ़ना चाहिए।

आखिर क्यों बढ़ जाता है प्रेगनेंसी में वज़न?

सामान्य तौर पर, गर्भवती होने के पहले 3 महीनों के दौरान लगभग 2 से 4 पाउंड और बाकी गर्भावस्था के दौरान सप्ताह में 1 पाउंड वज़न बढ़ना चाहिए। यदि आप जुड़वा बच्चों की उम्मीद कर रही हैं तो आपका वज़न 35 से 45 पाउंड तक बढ़ाना चाहिए। पहले 3 महीनों में सामान्य वजन बढ़ने के बाद यह प्रति सप्ताह औसतन 1 1/2 पाउंड होगा।

एक्सपर्ट से जानिए प्रेगनेंसी के दौरान कितना वज़न बढ़ना है नॉर्मल? । चित्र शटरस्टॉक।

गर्भावस्था के दौरान क्या होता है जब आपका वज़न ज़्यादा बढ़ जाता है?

प्रेगनेंसी के लिए अनुशंसित सीमा के भीतर केवल 32 प्रतिशत महिलाओं का वजन बढ़ता है, और 48 प्रतिशत महिलाओं का वजन अधिक होता है। मगर गर्भावस्था के दौरान ज़्यादा वज़न बढ़ना भी आपको जटिलताओं के उच्च जोखिम में डाल सकता है, जिनमें शामिल हैं:

उच्च रक्तचाप
गर्भावधि मधुमेह
प्रीमेचोयोर बर्थ
मुश्किल प्रसव
सिजेरियन बर्थ
बचपन में मोटापे से ग्रस्त बच्चा होना

प्रेगनेंसी के बाद मुश्किल हो सकता है वेट लॉस

प्रसव के बाद गर्भावस्था के दौरान बढ़ा हुआ वजन कम करना मुश्किल हो सकता है। आपको थकान हो सकती है या आप स्ट्रेस में भी हो सकती हैं। यह सब वजन घटाने को और अधिक जटिल बनाता है। हालांकि, अतिरिक्त बढ़ाने से मोटापा हो सकता है, जो कई स्वास्थ्य समस्याओं में योगदान देता है, जैसे:

दिल की धड़कन रुकना
उच्च रक्तचाप
पुराने ऑस्टियोआर्थराइटिस
स्लीप एप्निया

इसलिए बेहतर है कि प्रेगनेंसी के दौरान ही आप अपने वेट पर नियंत्रण रखें। डॉ नीरज के अनुसार आपको ज़्यादा कुछ करने की ज़रूरत नहीं है है बस खुद को एक्टिव रखें। मॉडरेशन में अपनी क्रेविंग्स को पूरा करें, संतुलित पौष्टिक आहार लें और अच्छी नींद लें।

यह भी पढ़ें : कमर पर जमा हो गई है जिद्दी चर्बी, तो जानिए पुरानी जींस में फिट आने के लिए 5 फैट बर्निंग टिप्स

  • 125
लेखक के बारे में
ऐश्‍वर्या कुलश्रेष्‍ठ ऐश्‍वर्या कुलश्रेष्‍ठ

प्रकृति में गंभीर और ख्‍यालों में आज़ाद। किताबें पढ़ने और कविता लिखने की शौकीन हूं और जीवन के प्रति सकारात्‍मक दृष्टिकोण रखती हूं।

पीरियड ट्रैकर

अपनी माहवारी को ट्रैक करें हेल्थशॉट्स, पीरियड ट्रैकर
के साथ।

ट्रैक करें
nextstory