वैलनेस
स्टोर

कोविड-19 में आईवरमेक्टिन के इस्तेमाल पर जानिए क्‍या है विशेषज्ञों की राय

Published on:18 May 2021, 10:30am IST
आइवरमेक्टिन में एंटी-पैरासिटिक गुण होते हैं, जो COVID 19 को कंट्रोल करने में काफी कारगर होता हैं।
टीम हेल्‍थ शॉट्स
  • 91 Likes
डॉ. पुनीत खन्ना ने Ivermectin दवा पर अपने विशेषज्ञ ज्ञान को साझा किया। चित्र: शटरस्टॉक

आइवरमेक्टिन (Ivermectin) एक एंटी-पैरासाइटिक ड्रग है, जिसे फूड एंड ड्रग एडमिनिस्ट्रेशन (fda) द्वारा जारी किया जाता है। जो कुछ परजीवी राउंडवॉर्म संक्रमणों के इलाज के लिए एक प्रिस्क्रिप्शन दवा के रूप में उपयोग किया जाता है। इसका उपयोग अक्सर आंतों के स्ट्रॉन्गिलोडायसिस और ओंकोकेरसियासिस वाले रोगियों के लिए किया जाता है।

रोग के आधार पर ये दवा टैबलेट के रूप में उपयोग के लिए उपलब्ध है। हाल ही के शोध से पता चला है कि आइवरमेक्टिन (Ivermectin) में मजबूत एंटीवायरल गुण होते हैं। इसके अलावा, आइवरमेक्टिन (Ivermectin) का उपयोग कोविड-19 के गंभीर होने पर किया जा सकता है।

ये covid-19 के लिए अन्य पुन: निर्मित दवाओं के साथ भी जोड़ा जा सकता है। ये सुरक्षित है और covid-19 बीमारी को रोकने के लिए एक प्रभावी रणनीति बन सकती है।

इसे क्यों लेना चाहिए?

आइवरमेक्टिन (Ivermectin) कुछ कृमि (कीड़े) संक्रमणों के उपचार में प्रयोग की जाती है। इसका उपयोग कृमि संक्रमण, अंधापन और एक निश्चित प्रकार के दस्त के इलाज के लिए भी किया जाता है।

आइवरमेक्टिन (Ivermectin) कीड़े को निष्क्रिय कर उसको फैलने से रोकती है। इसकी फैलने की दर धीमी करता है। ये कीड़े जिस व्यक्ति पर प्रजनन करते हैं, इससे उसकी त्वचा, रक्त और आंखों में कीड़ो की संख्या कम हो जाती हैं। आइवरमेक्टिन(Ivermectin) को केवल आप डॉक्टर के पर्चे के साथ ही ले सकते हैं। और ये दवा केवल डॉक्टर के परामर्श पर ही मिलती है।

covid 19 और आइवरमेक्टिन (Ivermectin)

यदि कोई व्यक्ति covid 19 या छूने से फैलने वाले संक्रमण से पीड़ित है, तो यह दवा ली जा सकती है। खासकर अगर बुखार पेरासिटामोल के साथ बेहतर नहीं हो रहा है। 3 से 5 दिनों के लिए टैब आइवरमेक्टिन पर विचार करें। खुराक आपके वजन, चिकित्सा स्थिति और उपचार की प्रतिक्रिया पर आधारित है।

क्‍या है सही खुराक

आइवरमेक्टिन(Ivermectin) को खाली पेट (नाश्ते से 1 घंटे पहले) एक पूर्ण गिलास (8 औंस) पानी के साथ अकेली खुराक के रूप में लिया जाता है। जब तक कि आपके डॉक्टर द्वारा निर्देशित न किया जाए।
अपने संक्रमण को साफ करने में मदद करने के लिए, इस दवा को बिल्कुल प्रेसक्राइब्ड रूप में लें सकते हैं। आपका डॉक्टर आपको हर 3 से 12 महीने में से एक और खुराक लेने के लिए कह सकता है। आपका डॉक्टर रिवर ब्लाइंडनेस वाले कुछ रोगियों, विशेष रूप से गंभीर लक्षणों वाले रोगियों के लिए कॉर्टिकोस्टेरॉइड (एक कोर्टिसोन जैसी दवा) भी लिख सकता है।

ये कीड़े की मृत्यु के कारण होने वाली सूजन को कम करने में मदद करने के लिए है। यदि आपका डॉक्टर इन दोनों दवाओं को एक साथ लिख कर देता है, तो कॉर्टिकोस्टेरॉइड को आइवरमेक्टिन के साथ लेना महत्वपूर्ण है। उन्हें ठीक वैसे ही लें जैसे आपके डॉक्टर ने बताया है। एक भी खुराक ना भूलें।

इससे किसे बचना चाहिए?

1. अस्थमा

जिन लोगों को काफी लंबे समय से अस्थमा की दिक्कत है, उन मरीजों को सावधानी के साथ आइवरमेक्टिन लेना चाहिए। कभी-कभी, आइवरमेक्टिन ब्रोन्कियल अस्थमा को खराब कर सकता है।

2. हेपेटिक रोग

हालांकि इस पर ज्‍यादा डाटा उपलब्‍ध नहीं है, फि‍र भी इसके एक्सटेंसिव हैपटिक मेटाबोलिज्म के कारण, इवेरमेक्टिन को हैपटिक रोग वाले रोगियों को सावधानी के साथ दिया जाना चाहिए।

3. ह्यूमन इम्युनोडेफिशिएंसी वायरस (एचआईवी) संक्रमण, इम्युनोसुप्रेशन

इम्यूनो संप्रेषण के रोगियों में (AIDS (HIV)) संक्रमण में आंतों के स्ट्रॉंग्लोडायसिस के लिए इलाज किया जाता है। खुराक को निर्धारित करने के लिए ऐसे रोगियों में पर्याप्त और अच्छी तरह से अध्ययन नहीं किए गए हैं। कई उपचार में (यानी, 2 week अंतराल) की आवश्यकता हो सकती है और एक इलाज संभव नहीं हो सकता है।
इन रोगियों में अतिरिक्त आंतों के स्ट्रॉन्गिलोडायसिस का नियंत्रण मुश्किल है।

4. गर्भावस्था

गर्भावस्था के दौरान मौखिक आइवरमेक्टिन में उपयोग किया जाने वाला डेटा दवा से जुड़े जोखिम को जानने में अपर्याप्त हैं। आइवरमेक्टिन के सामयिक उपयोग से प्रणालीगत जोखिम मौखिक उपयोग की तुलना में बहुत कम है।

चार प्रकाशित महामारी विज्ञान के अध्ययनों ने गर्भावस्था के विभिन्न चरणों में मौखिक आइवरमेक्टिन ( ivermectin) के संपर्क में आने वाली कुल 744 महिलाओं के परिणामों का मूल्यांकन किया।

सबसे बड़े अध्ययन में, गर्भावस्था की दूसरी तिमाही में 397 महिलाओं को आइवरमेक्टिन या आइवरमेक्टिन प्लस एल्बेंडाजोल की अकेली खुराक के साथ ओपन-लेबल का इलाज किया गया। उपचार और बिना उपचार वाली आबादी के बीच गर्भावस्था के परिणामों में कोई अंतर नहीं देखा गया।

हालांकि, ये अध्ययन निश्चित रूप से गर्भावस्था के दौरान दवा से जुड़े जोखिमों को खत्म नहीं कर सकते हैं।

5. स्तनपान

मानव स्तन के दूध में आइवरमेक्टिन (Ivermectin) बहता है। इसके अलावा, दूध पिलाने का कार्य केवल तभी, किया जाना चाहिए जब मां को देरी से उपचार का जोखिम नवजात शिशु के लिए संभावित जोखिम से अधिक हो। आइवरमेक्टिन (Ivermectin) का उपयोग करते समय स्तनपान कराने वाली महिलाओं को स्तन क्षेत्र में आइवरमेक्टिन (Ivermectin) के आकस्मिक हस्तांतरण से बचना चाहिए। जहां नर्सिंग करते समय यह सीधे रूप से समझा जा सकता है।

6. छोटे बच्‍चों और शिशुओं पर

शिशुओं और बच्चों के लिए आइवरमेक्टिन(Ivermectin) का टॉपिकल एडमिस्ट्रेशन लोशन के अंतर्ग्रहण को रोकने के लिए एक वयस्क की प्रत्यक्ष देखरेख में होना चाहिए।

याद रखें कि आपको इस दवा को खाली पेट, एक पूरे गिलास पानी के साथ और अपने डॉक्टर द्वारा अनुशंसित समय पर लेना चाहिए। 86 ° f (30 ° c) से कम कमरे के तापमान पर आइवरमेक्टिन (Ivermectin) को स्टोर करें।

इस दवा को नम या नमी वाले क्षेत्रों जैसे बाथरूम में स्टोर न करें। ये एक प्रिस्क्रिप्शन पर आधारित दवा है, इसलिए यात्रा के दौरान दवा के साथ-साथ प्रिस्क्रिप्शन को भी साथ रखें।

इसे भी पढ़ें-डेंगू में अगर प्लेटलेट्स घटने लगें, तो इन घरेलू उपायों की लें मदद

टीम हेल्‍थ शॉट्स टीम हेल्‍थ शॉट्स

ये हेल्‍थ शॉट्स के विविध लेखकों का समूह हैं, जो आपकी सेहत, सौंदर्य और तंदुरुस्ती के लिए हर बार कुछ खास लेकर आते हैं।