बार-बार पानी पीने के बावजूद नहीं बुझ रही है प्यास, तो जानिए इसका कारण और समाधान

Published on: 13 May 2022, 13:51 pm IST

क्या आपको भी हर समय प्यास लगती है? और पानी पीने के बाद भी ये नहीं बुझती है? तो यह किसी अंदरूनी समस्या के कारण हो सकता है। चिंता करने की कोई बात नहीं है, इसके कई उपाय भी हैं।

zyada pyaas lagne ke karan
हर समय प्यास लगने का कारण. चित्र : शटरस्टॉक

गर्मियों के मौसम में हम सभी को ज़्यादा प्यास लगती है। यह मौसम में परिवर्तन और शरीर में बढ़ती गर्मी (Body Heat) और डिहाइड्रेशन (Dehydration) के कारण हो सकता है। आम तौर पर भी हमें ज़्यादा पानी पीने की सलाह दी जाती है और गर्मियों में हम में से कई लोग अपने आप ही ज़्यादा पानी पीने लगते हैं। यह स्वास्थ्य के लिए फायदेमंद है। मगर क्या गर्मियों में 8 गिलास पानी पीने के बाद भी आपको प्यास लगती रहती है? या ऐसा लगता है कि जितना पानी पियो प्यास और बढ़ जाती है? यदि आप भी गर्मियों में इसी समस्या से परेशान हैं, तो यह कई अंतर्निहित स्वास्थ्य स्थितियों का संकेत हो सकता है। यहां जानिए क्या है लगातार प्यास लगते रहने का कारण (causes of thirsty all the time) और इससे बचने के उपाय (Tips to stop thirst)।

तो चलिये पता करते हैं क्या हैं वे स्थितियां

1 डायबिटीज

जब आपके शरीर में कोशिकाएं इंसुलिन रेसिस्टेंट हो जाती हैं, तो आपके गुर्दे को आपके रक्त से अतिरिक्त शर्करा को निकालने के लिए अधिक मेहनत करनी पड़ती है। इसकी वजह से आपको बार – बार यूरिन पास करना पड़ सकता है। नतीजतन, आप प्यासा महसूस करती हैं और पहले की तुलना में अधिक तरल पदार्थ पीने लगती हैं। बार-बार पेशाब आना और अत्यधिक प्यास लगना मधुमेह के दो शुरुआती लक्षण हैं।

2 ड्राई माउथ

जब लार ग्रंथियां पर्याप्त लार नहीं बनाती हैं, तो इससे आपको अत्यधिक प्यास लग सकती है। यह कुछ दवाओं या उपचार जैसे कैंसर या जीवनशैली की आदतों जैसे तंबाकू के उपयोग के कारण हो सकता है। ड्राई माउथ के अन्य लक्षणों में सांसों की दुर्गंध, स्वाद में बदलाव, मसूड़ों में जलन और चबाने में परेशानी शामिल हो सकती है।

khoob pani pien
पानी पीना आपके लिए सबसे बेहतर उपाय होगा। चित्र: शटरस्‍टॉक

3 एनीमिया

एनीमिया का मतलब है कि आपके शरीर में पर्याप्त स्वस्थ लाल रक्त कोशिकाएं नहीं हैं। कुछ लोग इसके साथ पैदा होते हैं, जबकि अन्य इससे ग्रस्त हो जाते हैं। कई चीजें हैं जो इसका कारण बन सकती हैं, जिनमें बीमारियां, खराब आहार, या भारी रक्तस्राव शामिल हैं। यदि स्थिति गंभीर हो जाती है, तो आपको ज़्यादा प्यास लग सकती है।

4 प्रेगनेंसी

ज़रूरत से ज़्यादा प्यास लगना गर्भावस्था का संकेत हो सकता है। आपकी पहली तिमाही के दौरान आपके रक्त की मात्रा बढ़ जाती है, जो आपके गुर्दे को अतिरिक्त तरल पदार्थ बनाने के लिए मजबूर करती है। इसके अलावा, गर्भावस्था के दौरान होने वाली घबराहट और मॉर्निंग सिकनेस के कारण हाइड्रेशन में कमी आ सकती है।

तो यदि आपको भी आजकल ज़्यादा प्यास लग रही है, तो इन लक्षणों को पहचानें और डॉक्टर को दिखाएं।

यदि आपको डिहाइड्रेशन की वजह से ज़्यादा प्यास लग रही है, तो ये टिप्स आपके काम आ सकती हैं

सेलेब्रिटी डायटीशियन डॉ सिद्धांत भार्गव के अनुसार यदि पानी पीने के बाद भी आपकी प्यास नहीं बुझ रही है, तो रोज़ सुबह नारियल पानी का सेवन करें। इसमें इलैक्ट्रोलाइट होते हैं, जो शरीर में पानी की कमी को पूरा करेंगे।

ज़्यादा प्यास लगना शरीर में नमक की कमी को दर्शाता है, इसलिए आप ओआरएस (ORS) का घोल भी पी सकती हैं।

कोशिश करें कि अपनी डेली डाइट में रसीले फल शामिल करें। ये आपको पानी और ग्लूकोज दोनों उपल्बध करवाते हैं।

यह भी पढ़ें :  Vitamin B12 : शाकाहारी हैं, तो यहां जानिए विटामिन बी 12 के कुछ खाद्य स्रोत

ऐश्‍वर्या कुलश्रेष्‍ठ ऐश्‍वर्या कुलश्रेष्‍ठ

प्रकृति में गंभीर और ख्‍यालों में आज़ाद। किताबें पढ़ने और कविता लिखने की शौकीन हूं और जीवन के प्रति सकारात्‍मक दृष्टिकोण रखती हूं।

स्वास्थ्य राशिफल

ज्योतिष विशेषज्ञ से जानिए क्या कहते हैं आपकी
सेहत के सितारे

यहाँ पढ़ें